NDTV Khabar

क्या मैं अगले मुख्यमंत्री से बात कर रहा हूं? पत्रकार के सवाल पर आदित्य ठाकरे ने कुछ यूं दिया जवाब...

आदित्य ठाकरे (Aaditya Thackeray) से जब एक पत्रकार ने पूछा कि, 'क्या मैं अगले मुख्यमंत्री से बात कर रहा हूं? इस पर उन्होंने जवाब दिया, आप ऐसे व्यक्ति से बात कर रहे हैं जो हमेशा राज्य की सेवा करेगा.'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. आदित्य ठाकरे ने वर्ली से भरा नामांकन
  2. आदित्य ने कहा- हमेशा राज्य की सेवा करूंगा
  3. महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को होना है मतदान
मुंबई:

शिवसेना (Shiv Sena) प्रमुख उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के बेटे आदित्य ठाकरे (Aaditya Thackeray) ने महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव (Maharashtra Assembly Election) के लिए वर्ली सीट (Worli Seat) से नामांकन दाखिल किया. ऐसा पहली बार है जब ठाकरे परिवार का कोई सदस्य चुनाव मैदान में उतरा है. मुंबई की वर्ली सीट से नामांकन पत्र भरने के दौरान 29 वर्षीय आदित्य ने निर्वाचन अधिकारी को दिए गए हलफनामे में बताया कि उनके पास 11.38 करोड़ रुपये की चल और 4.67 करोड़ रुपये की अचल संपत्ति है. इसमें बैंक में जमा 10.36 करोड़ रुपये की राशि और 6.50 लाख रुपये की बीएमडब्ल्यू कार शामिल है.


शिवसेना की युवा शाखा के प्रमुख के पास आभूषण और अन्य कीमती धातु भी हैं, जिनकी कीमत 64.65 लाख रुपये हैं. हलफनामे के अनुसार, आदित्य ने 2011 में कला में स्नातक की शिक्षा पूरी की. उसके बाद 2015 में कानून में स्नातक (LLB) की उपाधि हासिल की. हलफनामे के अनुसार, आदित्य के खिलाफ कोई आपराधिक मामला दर्ज नहीं है. बता दें कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए मतदान 21 अक्टूबर को होगा.

jhnl24p4

आदित्य ठाकरे (Aaditya Thackeray) से जब एक पत्रकार ने पूछा कि, 'क्या मैं अगले मुख्यमंत्री से बात कर रहा हूं? इस पर उन्होंने मुस्कुराते हुए जवाब दिया, आप ऐसे व्यक्ति से बात कर रहे हैं जो हमेशा राज्य की सेवा करेगा.' उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि उनका उद्देश्य 'नया (नया) महाराष्ट्र' है. बता दें कि आदित्य के नामांकन के लिए उनके पिता उद्धव ठाकरे, मां रश्मि और भाई तेजस भी मौजूद थे. 

ठाकरे परिवार से पहली बार चुनाव लड़ने वाले आदित्य को जीत का भरोसा, कहा- 'आपका आशीर्वाद साथ है तो...'

शिवसेना के एक सूत्र ने कहा, 'वर्ली को शिवसेना की सबसे सुरक्षित विधानसभा सीटों में से एक समझा जाता है, इसलिए आदित्य को वहां से टिकट दिया गया है. NCP के पूर्व नेता सचिन अहीर हाल में शिवसेना में शामिल हुए थे जो आदित्य ठाकरे की जीत को आसान बना सकते हैं.' अहीर को 2014 के विधानसभा चुनाव में सुनील शिंदे ने शिकस्त दी थी. दिवंगत बाल ठाकरे द्वारा 1966 में शिवसेना की स्थापना किए जाने के बाद से ठाकरे परिवार से किसी भी सदस्य ने कोई चुनाव नहीं लड़ा है या वे किसी भी संवैधानिक पद पर नहीं रहे हैं.

Shiv Sena सांसद संजय राउत बोले- 'चंद्रयान-2 भले ही चंद्रमा पर लैंड नहीं कर सका, लेकिन आदित्य ठाकरे...'

टिप्पणियां

बता दें कि महाराष्ट्र और हरियाणा में 21 अक्टूबर को मतदान होगा और मतगणना 24 अक्टूबर को होगी. नॉमिनेशन भरने की आखिरी तारीख 4 अक्टूबर को होगी और नामांकन वापस लेने की तारीख 7 अक्टूबर को होगी. लोकसभा चुनावों के बाद यह इस साल के पहले राज्य चुनाव हैं. हरियाणा विधानसभा का कार्यकाल 2 नवंबर को और महाराष्ट्र विधानसभा का कार्यकाल 9 नवंबर को खत्म हो रहा है.

(इनपुट: भाषा से भी)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement