नेपोटिज्‍म के विवाद पर पहली बार बोलीं करीना कपूर खान, 'यहां आलिया है तो कंगना भी है...'

करीना ने अपने बयान में कहा, 'क्‍या नेपोटिज्‍म हर संभव जगह मौजूद नहीं है? लेकिन कोई इसके बारे में बात नहीं करता. बिजनेस परिवारों में बेटे बिजनेस को आगे बढ़ाते हैं.'

नेपोटिज्‍म के विवाद पर पहली बार बोलीं करीना कपूर खान, 'यहां आलिया है तो कंगना भी है...'

खास बातें

  • करीना ने कहा कि इंडस्‍ट्री में आलिया भट्ट है तो कंगना रनोट भी है
  • नेपोटिज्‍म पर करीना बोलीं, 'क्‍या नेपोटिज्‍म हर संभव जगह मौजूद नहीं है'
  • करीना के पति सैफ ने किया था 'नेपोटिज्‍म रॉक्‍स' मजाक
नई दिल्‍ली:

आईफा अवॉर्ड्स में सैफ अली खान, करण जौहर और वरुण धवन के 'नेपोटिज्‍म रॉक्‍स' वाले बयान ने बड़ा विवाद खड़ा कर दिया था. यूं तो यह बहस लंबे समय से इंडस्‍ट्री में चली आ रही है लेकिन कंगना रनोट द्वारा इस विषय पर खुलकर रखे गए विचारों और इडस्‍ट्री के कई लोगों के इसके समर्थन और विरोध में आने पर खासी बहस शुरू हो गई है. अब इस विवाद पर करीना कपूर ने पहली बार अपना पक्ष रखा है. करीना कपूर का कहना है कि 'नेपोटिज्‍म' हर प्रोफेशन में मौजूद है, लेकिन यहां सबसे ज्‍यादा जरूरी है हुनर. करीना ने कहा कि इंडस्‍ट्री में आलिया भट्ट है तो कंगना रनोट भी है.' बता दें कि करीना कपूर के पति सैफ अली खान ने आईफो में 'नेपोटिज्‍म रॉक्‍स' वाले बयान के बाद कंगना रनोट से माफी मांगी थी और इस विषय पर ओपन लेटर भी लिखा था.

यह भी पढ़ें: 'कंगना रनोट के पक्ष में आई उनकी बहन, सोना महापात्रा को कुछ इस अंदाज में लताड़ा

बॉलीवुड के सबसे प्रसिद्ध परिवार 'कपूर खानदान' की बेटी करीना कपूर ने फिल्‍मफेयर मैगजीन को दिए अपने इंटरव्‍यू में बॉलीवुड में नेपोटिज्‍म पर बात करते हुए कहा, 'इस विषय पर बहुत कुछ कहा जा चुका है. क्‍या नेपोटिज्‍म हर संभव जगह मौजूद नहीं है? लेकिन कोई इसके बारे में बात नहीं करता. बिजनेस परिवारों में बेटे बिजनेस को आगे बढ़ाते हैं. राजनीतिक पीरिवारों में बेटे उनकी जगह लेते हैं. इस सब को 'परिवारवाद' की श्रेणी में नहीं रखा जाता बल्कि इसे अच्‍छा माना जाता है.'

 
kareena ndtv

आईफा अवॉर्ड्स में सैफ ने किया था 'नेपोटिज्‍म रॉक्‍स' वाला मजाक.

यह भी पढ़ें: गौरी लंकेश हत्‍या: जावेद अख्‍तर ने कहा, 'अगर कुछ तरह के ही लोग मर रहे हैं तो कौन मार रहा है...'

करीना ने अपने बयान में कहा, 'साथ ही कई स्‍टार किड्स उस मुकाम पर नहीं पहुंच पाए, जिसपर उनके माता-पिता पहुंचे. इसलिए मुझे समझ नहीं आता कि लोग इसके बारे में इतनी बहस क्‍यों कर रहे हैं. असल में यह इंडस्‍ट्री एक कठोर जगह है. यहां सिर्फ टैलेंट ही काम आता है और हुनरमंद ही यहां टिक पाते हैं. वरना, यहां कई स्‍टार किड्स नंबर 1 की पोजीशन पर होते.' करीना ने कहा, 'अगर यहां रणबीर कपूर है तो यहां रणवीर सिंह भी है, जो किसी बॉलीवुड परिवार से वास्‍ता नहीं रखता. इसलिए मुझे लगता है कि 'परिवारवाद' की बहस बेमानी है.' करीना ने कहा, 'किसी भी अन्‍य इंडस्‍ट्री की तुलना में यहां आपकी मेहनत सबसे ज्‍यादा मायने रखती है और यही कारण है कि कंगना रनोट को एक बेहतरीन एक्‍ट्रेस माना जाता है, जो इंडस्‍ट्री से नहीं है. अगर यहां आलिया भट्ट है तो यहां कंगना रनोट भी है.'

यह भी पढ़ें: क्‍या... 'लैला' से 'बेबी डॉल' बन चुकी सनी लियोन का बॉलीवुड में कोई नहीं है सच्‍चा दोस्‍त

बता दें कि फिल्‍म 'वीरे दी वेडिंग' से करीना कपूर जल्‍द ही फिल्‍मों में कमबैक करने जा रही हैं. इस फिल्‍म में सोनम और करीना के अलावा स्‍वरा भास्‍कर, शिखा तलसानिया और 'परमानेंट रूममेट' वेब सीरीज से हिट हुए सुमित व्‍यास भी नजर आने वाले हैं.

VIDEO: NDTVYouthForChange : भाषा से लिबास तक, 10 सालों में बहुत कुछ बदला: कंगना

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...