Gandhi Jayanti 2018: चार Mahatma Gandhi जिन्हें समय के साथ भुला दिया गया, जानें कौन हैं ये और क्यों हुआ ऐसा

महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) का जन्म 2 अक्टूबर को गुजरात के पोरबंदर में हुआ था, और इस दिन Gandhi Jayanti (गांधी जयंती) मनाई जाती है. हम आपको बॉलीवुड के चार गांधी से मिलवाते हैं...

Gandhi Jayanti 2018: चार Mahatma Gandhi जिन्हें समय के साथ भुला दिया गया, जानें कौन हैं ये और क्यों हुआ ऐसा

Mahatma Gandhi: 2 अक्टूबर को मनाई जाती है गांधी जयंती (Gandhi Jayanti)

खास बातें

  • 2 अक्टूबर 1869 को हुआ था जन्म
  • मोहनदास करमचंद गांधी था पूरा नाम
  • गुजरात में हुआ था जन्म
नई दिल्ली:

महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) का जन्म 2 अक्टूबर, 1869 को गुजरात के पोरबंदर में हुआ था. उनका पूरा नाम मोहनदास करमचंद गांधी था. इस दिन को गांधी जयंती के तौर पर भी दुनिया भर में मनाया जाता है क्योंकि आजादी का पहला बिगुल महात्मा गांधी ने दक्षिण अफ्रीका में ही फूंका था. पूरे देश को आजादी के लिए एकसूत्र में बांधने वाले साबरमती के संत के जीवन पर कई फिल्में भी बन चुकी हैं. बॉलीवुड की इन फिल्मों में महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) के किरदार में कई एक्टर आए और बेहतरीन काम भी किया. लेकिन ये ऐसे गांधी रहे जिन्हें समय के साथ भुला दिया गया.

सपना चौधरी ने सरेआम कहा, 'सबको पता है मैं पोपट हूं...', वायरल हुआ धमाकेदार Video 

लेकिन हॉलीवुड एक्टर बेन किंग्स्ले एकमात्र ऐसे गांधी थे जिनके साथ ताउम्र के लिए ये छवि जुड़ गई. रिचर्ड एटनबरो की फिल्म Gandhi (1982) में वे महात्मा गांधी के किरदार में दिखे थे. बॉलीवुड ने भी महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की जिंदगी पर कई फिल्में बनाई गईं लेकिन वे एक भी यादगार गांधी नहीं दे सके. हमेशा बेन किंग्स्ले ही इन गांधी पर भारी रहे. 

2 अक्टूबर यानी गांधी जयंती (Gandhi Jayanti) के मौके पर हम आपको बॉलीवुड के चार गांधी से मिलवाते हैं...

सरदार (1993)
केतन मेहता ने ‘सरदार’ फिल्म को डायरेक्ट किया था और फिल्म में अन्नू कपूर गांधी के किरदार में नजर आए थे. हालांकि इस फिल्म के सरदार पटेल परेश रावल को ज्यादा पसंद किया गया था, और अन्नू कपूर गांधी का कैरेक्टर बहुत कामयाबी से नहीं निभा पाए थे. 

Bigg Boss 12: जसलीन के लिए पहली बार छलके अनूप जलोटा के आंसू, बोले- मुझे ज्यादा चाहती हो या कपड़ों को

द मेकिंग ऑफ महात्मा (1996)
इस फिल्म में रजत कपूर ने युवा महात्मा गांधी का किरदार निभाया था. श्याम बेनेगल की इस फिल्म में महात्मा गांधी के साउथ अफ्रीका के सफर को पेश किया गया था. लेकिन रजत कपूर को महात्मा गांधी के इस किरदार से ज्यादा पहचान ‘डिटेक्टिव ब्योमकेश बख्शी’ के तौर पर मिली. 

बिग बॉस फेम एक्ट्रेस लेकर आईं 'दिलबर' का अरबी वर्जन, Belly डांस के साथ मचाया तहलका- देखें Video

हे राम (2000)
कमल हासन ने अपनी इस फिल्म के जरिये गांधी और उनकी हत्या को एकदम नए अंदाज में पेश किया और इसने विवादों को भी हवा दी. फिल्म ने खूब सुर्खियां बटोरीं, और शाहरुख खान तथा कमल हासन के कैरेक्टर पसंद भी किए गए लेकिन महात्मा गांधी बने नसीरूद्दीन शाह किसी को याद नहीं रहे. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

लगे रहो मुन्नाभाई (2006)
राजकुमार हिरानी में मुन्ना भाई संजय दत्त से लेकर सर्किट अरशद वारसी सब यादगार कैरेक्टर बन गए और फिल्म से गांधीगीरी जैसा शब्द भी मिला. लेकिन फिल्म के गांधी दिलीप प्रभवलकर यादगार नहीं रहे बल्कि संजय दत्त पूरी फिल्म पर हावी रहे. ऐसे में मुन्ना भाई की गांधीगीरी जरूर आज भी याद की जाती है. 

  ...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...