NDTV Khabar

Sridevi की मौत के बाद इन्होंने किया था बोनी कपूर को फोन, बताया क्यों काटना पड़ा कॉल...

दुबई के एक होटल में 24 फरवरी की रात श्रीदेवी की मौत पानी से भरे बाथटब में दुर्घटनावश गिर कर हो गई थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Sridevi की मौत के बाद इन्होंने किया था बोनी कपूर को फोन, बताया क्यों काटना पड़ा कॉल...

54 की उम्र में हुआ श्रीदेवी का निधन.

खास बातें

  1. श्रीदेवी की मौत के बाद लगातार रो रहे थे बोनी कपूर : सतीश कौशिक
  2. 'उन्हें शवशैया पर शांत, बिना किसी हरकत के देखना दिल तोड़ने वाला है"
  3. 'मिस्टर इंडिया' में सतीश कौशिक ने निभाया था कैलेंडर का किरदार
नई दिल्ली: बॉलीवुड की दिग्गज अभिनेत्री श्रीदेवी पंचतत्व में विलीन हो गई हैं. बुधवार को राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार हुआ, जिसमें बॉलीवुड सेलेब्स से लेकर भारी जनसैलाब उमड़ा. दुबई के एक होटल में 24 फरवरी की रात श्रीदेवी की मौत पानी से भरे बाथटब में दुर्घटनावश गिर कर हो गई थी. श्रीदेवी की सुपरहिट फिल्म 'मिस्टर इंडिया' में कैलेंडर का किरदार निभाने वाले अभिनेता-फिल्म निर्माता सतीश कौशिक ने बताया है कि एक्ट्रेस की अचानक मृत्यु होने पर उनके पति और फिल्म निर्माता बोनी कपूर लगातार रोए जा रहे थे. 

श्रीदेवी के अंतिम संस्कार के बाद परिवार की अपील, 'हमें मर्यादा के साथ दुख मनाने दें'

सतीश ने कहा, "जब मैंने मैम (श्रीदेवी) के निधन की खबर सुनी तो मुझे विश्वास नहीं हुआ. बोनी और मैं 30 सालों से दोस्त हैं. मैं उन्हें फोन किया. वे लगातार रोए जा रहे थे. हम जितनी बात कर रहे थे, वे उतना ही रोए जा रहे थे. वे चुप ही नहीं हो रहे थे. फिर, मैंने फोन काट दिया."

श्रीदेवी के अंतिम संस्कार में पहुंचे अमिताभ-शाहरुख-कैटरीना से लेकर ये बड़े सेलिब्रिटी, देखें तस्वीरें

कौशिक ने श्रीदेवी का वर्णन एक जोशीली, उत्साही और एक संपूर्ण कलाकार के तौर पर किया. उन्होंने कहा कि मेकअप करने के बाद जितना बदलाव उनके चेहरे पर आता था, उतना बदलाव मैंने किसी के चेहरे पर नहीं देखा. बुधवार को श्रीदेवी को अंतिम श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद उन्होंने कहा, "मेरा मतलब सिर्फ कैमरे से नहीं है. अगर वह किसी विवाह समारोह के लिए तैयार होती थीं तो बिल्कुल बदल जाती थीं. और, अब उन्हें उनकी शवशैया पर शांत और बिना किसी हरकत के देख रहा हूं. यह दिल तोड़ने वाला है."

दुबई जाने से पहले ठीक नहीं थी श्रीदेवी की तबियत, दोस्त से आखिरी बार फोन कॉल में हुई ये बात...

बोनी और सतीश ने साथ-साथ एक लंबा सफर तय किया है. उन्होंने कहा, "शेखर कपूर की फिल्म 'जोशीले' में मैं सहायक निर्देशक था. इसके निर्माता बोनी कपूर थे. 'हिम्मतवाला' में श्रीदेवी का अभिनय देखकर मैं स्तब्ध हो गया था." उन्होंने आगे कहा, "जावेद अख्तर साब ने काफी मजबूती से उनकी सिफारिश की थी. 'जोशीले' में अनिल कपूर, सन्नी देओल और मीनाक्षी शेषाद्री के साथ वह मुख्य भूमिका में थीं. उस समय भी उनकी हास्य क्षमता में कोई कमी नहीं थी."

श्रीदेवी की अंतिम यात्रा: पिता का सहारा बने अर्जुन कपूर, तस्वीरों में देखें आखिरी सफर

इसके बाद कौशिक को 'मिस्टर इंडिया' में भी उनके साथ काम करने का मौका मिला. सतीश ने कहा, "कुछ सालों बाद उन्होंने वास्तविक जिंदगी में जाह्नवी और खुशी की मां की भूमिका निभाने का फैसला किया. यह उनकी पसंदीदा भूमिका थी. मैंने देखा है कि वह अपनी बेटियों की कितनी अच्छी मां थीं."



टिप्पणियां
सतीश कहते हैं, "मैंने इतने लोग किसी की शवयात्रा में नहीं देखे. सभी की आंखें भरी हुई थीं. उनके जाने से सभी लोग प्रभावित हुए, यहां तक कि वे लोग भी जो उनसे कभी नहीं मिले. पूरा देश दुख में है."

...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...
(इनपुट: IANS)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement