NDTV Khabar

राइटर बनी इस एक्ट्रेस की न्यूजपेपर ने छाप डाली ऐसी तस्वीर, इंस्टाग्राम पर यूं लगाई फटकार

एक्ट्रेस लीसा रे (Lisa Ray) ने एक अखबार पर गलत फोटो लगाने का आरोप लगाया. जिसके बाद उन्होंने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट से न्यूजपेपर को फटकार लगाई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राइटर बनी इस एक्ट्रेस की न्यूजपेपर ने छाप डाली ऐसी तस्वीर, इंस्टाग्राम पर यूं लगाई फटकार

लीसा रे (Lisa Ray) ने अपनी तस्वीर को लेकर 'द टेलीग्राफ' को फटकारा

खास बातें

  1. एक्ट्रेस लीसा रे ने न्यूजपेपर को लगाई फटकार
  2. लीसा रे की नई किताब है 'इन क्लोज टू द बोन'
  3. न्यूजपेपर में तस्वीर को लेकर जताई नाराजगी
नई दिल्ली:

एक्ट्रेस लीसा रे (Lisa Ray) इन दिनों अपने संस्मरण 'क्लोज टू द बोन' (Close To The Bone) को लेकर चर्चा में हैं. एक्ट्रेस से लेखिका बनी लीसा रे ने सोशल मीडिया के जरिए एक न्यूजपेपर पर आरोप लगाया है कि उसने जानबूझकर उनकी उत्तेजक तस्वीर छापी है, और यह संदर्भ से एकदम उलट है. दरअसल, बॉलीवुड एक्ट्रेस लीसा रे (Lisa Ray) ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट से न्यूजपेपर की तस्वीर शेयर करते हुए कहा न्यूजपेपर पर इल्जाम लगाया कि उन्होंने ऑथर इमेज की जगह जानबूझकर ऐसी तस्वीर लगाई.

दादा वीरू देवगन की प्रार्थना सभा में फूट-फूटकर रोने लगीं पोती न्यासा, अजय देवगन ने यूं संभाला- Photo हुईं वायरल

लीसा रे (Lisa Ray) ने इंस्टाग्राम पर तस्वीर शेयर करते हुए न्यूजपेपर को फटकार लगाई, उन्होंने लिखा, 'मेरे अलावा किसी और को भी इस तस्वीर में कुछ अटपटा नजर आ रही है, मेरे पब्लिशर ने जो ऑथर इमेज दी थी उसकी जगह मेरे संस्मरण के आर्टिकल 'क्लोज टू द बोन' के लिए ये तस्वीर लगाई गई है...' लीसा रे का ये ट्वीट सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है, और उनको सोशल मीडिया पर बाकी सेलेब्रिटीज का समर्थन भी मिल रहा है. 


लीसा रे (Lisa Ray) ने 'द टेलीग्राफ' (The Telegraph) न्यूजपेपर पर नाराजगी जाहिर करते हुए लिखा, 'मैं अभी कोलकाता पहुंची हूं और मैं द टेलीग्राफ न्यूजपेपर से निराश हूं, ऐसा लगता है मैंने पंचलाइन को मिस कर दिया है. अपनी बुक 'क्लोज टू द बोन' में मैंने भारत में 90 के दशक में गहराए कैजुअल सेक्सिजम पर गहराई से लिखा है, लेकिन अब ऐसा लगता है कि देश में ये अभी भी कायम है. हमे कहानी को बदलने की जरूरत है. क्या कहते हो?' 

'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' की दया बेन ने खरीदी ये लग्जरी कार, फोटो देखकर कहेंगे Wow!

अपनी बुक के प्रोमोशन के दौरान न्यूज एजेंसी पीटीआई (PTI) को दिए एक इंटरव्यू में लीसा रे (Lisa Ray) ने बताया था कि उन्हें बहुत छोटी उम्र में सेक्स सिंबल का दर्जा मिला था, जिससे वो बहुत डर गई थी. उन्होंने कहा मुझपर किसी भी तरह के लेवल लगाने से नफरत है. मुझे 16 साल की छोटी उम्र में ही सेक्स सिंबल समझा जाने लगा था, इससे मुझे कम उम्र में ही निपटना पड़ा. ये सब बिल्कुल अप्रत्याशित था.

टिप्पणियां

बता दें लीसा रे को सबसे ज्यादा पॉपुलेरिटी नुसरत फतेह अली खान के गाने आफरीन आफरीन से मिली थी. लीसा ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत 2001 में आई फिल्म 'कसूर' (Kasoor) से की थी. लीसा रे ने 'इन क्लोज टू द बोन' (In Close To The Bone) संस्मरण में अपने फिल्मी करियर से लेकर, कैंसर को हराने तक की कहानी को लिखा है.

...और भी हैं बॉलीवुड से जुड़ी ढेरों ख़बरें...



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement