रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचने वाला बिटकॉइन मुनाफावसूली की वजह से 15 फीसदी गिरा

भारी मुनाफावसूली के चलते डिजिटल मुद्रा बिटकॉइन शुक्रवार को लगभग 15 फीसदी गिरकर 14,500 डॉलर के स्तर पर आ गई.

रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचने वाला बिटकॉइन मुनाफावसूली की वजह से 15 फीसदी गिरा

बिटकॉइन (फाइल फोटो)

सिंगापुर:

जिस डिजिटल करेंसी बिटकॉइन की धूम गुरुवार के बाजार में देखने को मिली वो भारी मुनाफावसूली के चलते डिजिटल मुद्रा बिटकॉइन शुक्रवार को लगभग 15 फीसदी गिरकर 14,500 डॉलर के स्तर पर आ गई. इस तरह से देखा जाए तो यह सप्ताह बिटकॉइन के लिए उठापटक भरा रहा जिसने ऊंचाई के नए रिकॉर्ड स्थापित किए. 


यह भी पढ़ें - आसमान छूती एक बिटकॉइन का भाव 15,000 डॉलर के नए रिकार्ड स्तर पर

ब्लूमबर्ग न्यूज की खबर के अनुसार एशियाई बाजारों में दोपहर के कारोबार में यह 17,000 डॉलर के रिकॉर्ड स्तर की ऊंचाई पर पहुंचने के बाद तेजी से गिरी और 14,480 डॉलर के स्तर पर आ गई. बता दें कि इस मुद्रा का संचालन कोई केंद्रीय बैंक नहीं करता है और ना ही इसकी कोई वैध विनिमय दर है. बिटकॉइन एक वर्चुअल करेंसी है जो विभिन्न कंप्यूटर नेटवर्कों पर गणित की जटिल समस्याओं को हल करने से प्राप्त होती है.

यह भी पढ़ें - आसमान छूती वर्चुअल करेंसी बिटकॉइन पर सरकार का रुख साफ नहीं

इसे बिटकॉइन माइनिंग करना कहा जाता है. यह मुद्रा एक कूट डिजिटल प्रणाली होती है जिसके बारे में माना जाता है कि इसे हैक करना या इसकी प्रतिलिपि बनाना लगभग असंभव है. इसका निर्माण 2009 में किया गया था.

VIDEO: तेजी से बढ़ रहा है आभासी मुद्रा 'बिटकोइन' का कारोबार (इनपुट भाषा से)

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com