BAN VS SL: 'इस वजह से' शाकिब हल हसन और बांग्लादेशी खिलाड़ियों ने खोया आपा

आखिर ओवर में जो कुछ भी हुआ, वह न क्रिकेट और न ही बांग्लादेशी टीम के लिहाज से अच्छी तस्वीर साबित हुआ

BAN VS SL: 'इस वजह से' शाकिब हल हसन और बांग्लादेशी खिलाड़ियों ने खोया आपा

शाकिब-अल-हसन

खास बातें

  • पूरी बांग्लादेशी टीम मैदान में उतर गई !
  • क्या अंपायरों से चूक नहीं होती?
  • क्या अंपायर गलती दुरुस्त नहीं कर सकते?
नई दिल्ली:

निसाध टी20 ट्रॉफी में शुक्रवार को बांग्लादेश की श्रीलंका के खिलाफ दो विकेट से बहुत ही रोमांचक जीत क्रिकेटप्रेमियों में चर्चा का विषय बनी हुई है, लेकिन इस जीत से ज्यादा आखिरी ओवर में घटी घटना की चर्चा ज्यादा हो रही है, जो वास्तव में क्रिकेट के लिए ज्यादा शर्मनाक है. किसी इंटरनेशलन मैच में किसी कप्तान के अपने बल्लेबाजों को निर्णायक पलों में वापस बुलाने की घटना वास्तव में बहुत ही अजीब सी बात है.
 

लेकिन वास्तव में बांग्लादेशी कप्तान शाकिब-अल-हसन जिस स्थिति में थे, वह किसी भी कप्तान को आहत कर सकती थी. लेकिन शाकिब का यह रवैया किसी कप्तान को शोभा नहीं देता. अब जबकि ज्यादा भारतीय क्रिकेटप्रेमियों ने यह मैच लाइव नहीं देखा इसलिए थोड़ी भ्रम की स्थिति बनी हुई है कि शाकिब ने आपा क्यों खोया. चलिए हम इस पर से पर्दा हटा देते हैं. 
दरअसल बांग्लादेश को आखिरी ओवर में जीत के लिए 12 रनों की दरकार थी. पहली गेंद पर कोई रन नहीं आया, तो दूसरी गेंद पर मुस्तिफजुर रन आउट हो  गए, तो 4 गेंदों पर 12 रन गए गए. बांग्लादेशी खिलाड़ियों का तनाव और ज्यादा बढ़ गया. मुस्तिफजुर के आउट होने के बाद कुछ बांग्लादेशी खिलाड़ी ड्रिंक्स बोतल लेकर मैदान पर आए. और श्रीलंकाई कप्तान थिसारा परेरा से उलझ गए. ऐसे में अंपायरों ने खिलाड़ियों को समझाबुझाकर तनाव कम किया, जो दोनों टीमों के खिलाड़ियों के पैवेलियन लौटने तक साफ झलका. 

यह भी पढ़ें :  Nidahas Trophy: बांग्‍लादेश ने श्रीलंका को हराकर फाइनल में बनाई जगह, रविवार को भारत से होगा मुकाबला

लेकिन बांग्लादेशी कप्तान शाकिब-अल-हसन के भड़कने और अपने बल्लेबाजों को वापस बुलाने का कारण कुछ और ही था.  दरअसल शाकिब अल हसन अंपायर के फैसले से बहुत ज्यादा खफा हो गए. और इसी फैसले ने ड्रेसिंग रूम में बैठे बांग्लादेशी कप्तान शाकिब सहित तमाम खिलाड़ियों को बुरी तरह भड़का दिया. और करीब-करीब पूरी बांग्लादेशी टीम और सपोर्ट स्टॉफ मैदान पर उतर गया.
 

शाकिब-अल-हसन तो इतने भड़क गए कि उन्होंने अपने बल्लेबाजों को वापस पैवेलियन लौटने को कहा. दरअसल हुआ यह कि जिस गेंद पर मुस्तिफजुर रहमान जिस दूसरी गेंद पर आउट हुए, उसे उनके रन आउट होने से पहले स्कवॉयर लेग अंपायर ने नो-बॉल करार दिया. जाहिर है कि बांग्लादेशी टीम को इस नो-बॉल पर फ्री हिट मिलती. लेकिन मुस्तिफजुर के आउट होने के बाद दोनों अंपायरों ने मिलकर इस गेंद को वैध करार दिया. 
Newsbeep

VIDEO: सेंचुरियन में शतक बनाने के बाद कप्तान विराट कोहली.
बस इसी वजह से शाकिब-अल-हसन और उनकी टीम ने बुरी तरह से आपा खो दिया, जो बांग्लादेश के लिए शर्मिंदगी का सबब बन गया. बहरहाल अंपायरों  के समझाने के बाद शाकिब इस बदले हुए फैसले को स्वीकार करने को राजी हो गए.
 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com