बीसीए ने क्रुणाल पंड्या संग विवाद में दीपक हुड्डा का पाया दोषी, दी यह सजा, लेकिन...

सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के लिए बड़ौदा के उप-कप्तान नियुक्त किए गए हुड्डा नौ जनवरी को जैविक रूप से सुरक्षित माहौल से बाहर निकल गए थे. उन्होंने बीसीए को भेजे ईमेल में पंड्या की ओर से बुरे व्यवहार का आरोप लगाया था. हुड्डा ने ईमेल में लिखा था, ‘इस समय मैं हतोत्साहित, अवसाद और दबाव में हूं.

बीसीए ने क्रुणाल पंड्या  संग विवाद में दीपक हुड्डा का पाया दोषी, दी यह सजा, लेकिन...

दीपक हूड्डा को कुछ ज्यादा ही सख्त सजा दी गई है

वडोदरा:

बड़ौदा क्रिकेट संघ (बीसीए) ने ‘अनुशासनहीनता' और ‘खेल का अपमान' करने के लिए सीनियर खिलाड़ी दीपक हुड्डा को सजा दी है. हुड्डा सैयद मुश्ताक अली टी20 टूर्नामेंट की शुरुआत से पहले शिविर छोड़कर चले गए थे. कप्तान कृणाल पंड्या से झगड़े के बाद हुड्डा घरेलू टी20 टूर्नामेंट की शुरुआत की पूर्व संध्या पर टीम को छोड़कर चले गए थे. उन्होंने पंड्या की ओर से कथित तौर पर बुरे बर्ताव का आरोप लगाया था. दीपक हुड्डा (Deepak Hooda) ने क्रुणाल पंड्या (Krunal Pandya) के खराब बर्ताव को ई-मेल किया था. और मामला मीडिया में आने के बाद इसने काफी तूल पकड़ा था, जिससे बीसीए की काफी किरकिरी हुई थी. इस मामले में भारतीय पूर्व क्रिकेटर इरफान पठान (Irfan Pathan) ने  भी सार्वजनिक मंच पर बयान जारी किया था.

यह भी पढ़ें: अब मोहम्मद सिराज ने ऑस्ट्रेलियाई अंपायरों की नीयत पर उठाए सवाल, किया खुलासा कि...

बीसीए सचिव अजीत लेले ने कहा, "अनुशासनहीनता और बीसीए तथा खेल को अपमानित करने के लिए उसे (हुड्डा) इस सत्र के लिए निलंबित कर दिया गया है. टीम और बीसीए को बताए बिना वह टीम के जैविक रूप से सुरक्षित माहौल से बाहर चला गया था.' वीरवार शाम हुई बीसीए की शीर्ष परिषद की बैठक में हुड्डा को शेष सत्र से निलंबित करने का फैसला किया गया, लेकिन यह सजा कुछ ज्यादा ही दिखाई पड़ रही है. बेहतर होता कि अगर हुड्डा को एक या दो मैचों के लिए सजा दी जाती, लेकिन यह सजा कुछ ज्यााद ही दिखायी पड़ रही है. वहीं, सवाल यह भी है कि आखिर इस मामले में क्रुणाल पंड्या के लिए क्यों कुछ भी तय नहीं किया गया? क्रुणाल को कैसे एकदम क्लीन चिट दे दी गई?

यह भी पढ़ें: टी. नटराजन के गांव ने फीका किया सभी सितारों का स्वागत, सहवाग बोले कि... VIDEO


सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के लिए बड़ौदा के उप-कप्तान नियुक्त किए गए हुड्डा नौ जनवरी को जैविक रूप से सुरक्षित माहौल से बाहर निकल गए थे. उन्होंने बीसीए को भेजे ईमेल में पंड्या की ओर से बुरे व्यवहार का आरोप लगाया था. हुड्डा ने ईमेल में लिखा था, ‘इस समय मैं हतोत्साहित, अवसाद और दबाव में हूं. पिछले कुछ दिनों से मेरी टीम के कप्तान कृणाल पंड्या टीम के साथियों और रिलायंस स्टेडियम वडोदरा में हिस्सा लेने आई अन्य राज्यों की टीमों के सामने मेरे साथ अभद्र भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं.'हुड्डा के ईमेल के बाद बीसीए ने मैनेजर से रिपोर्ट मांगी थी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: कुछ दिन पहले विराट कोहली ने अपने करियर को लेकर बड़ा ऐलान किया था.