NDTV Khabar

AUS VS ENG :'कर्फ्यू' के साए में इंग्लिश क्रिकेटर!..उठे सवाल?

एशेज के पहले टेस्ट में अंग्रेजों की हार तो हुई ही, कई विवादों ने भी इंग्लिश टीम को अपने लपेटे में ले लिया है. अब मैनेजमेंट ने नया फरमान जारी किया, तो कंगारू क्रिकेटरों को भी मजा लेने का मौका मिल गया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
AUS VS ENG :'कर्फ्यू' के साए में इंग्लिश क्रिकेटर!..उठे सवाल?

स्टीव स्मिथ और जे रूट एशेज ट्रॉफी के साथ

खास बातें

  1. इस कर्फ्यू से टीम का भला होगा क्या?
  2. ऑस्ट्रेलियाई मीडिया का अंग्रेजों पर वार
  3. आधी रात के बाहर खिलाड़ियों के बाहर जाने पर पाबंदी
नई दिल्ली: एशेज सीरीज के पहले टेस्ट में हार क्या आई, विवाद तो साथ लेकर ही आई, साथ ही इंग्लिश खिलाड़ियों के लिए बुरी खबर भी साथ लाई.अब जबकि एडिलेड में शुक्रवार से दूसरा टेस्ट मैच शुरू हो रहा है, तो खिलाड़ियों को एक ऐसे 'मिडनाइट कर्फ्यू' के साए में रहने को मजबूर होना पड़ रहा है, जिसकी उन्हें शायद ही पहले कभी आदत रही है. अब देखने वाली बात यह होगी कि अंग्रेज क्रिकेटर इस 'मिडनाइट कर्फ्यू' को कब तक झेल पाते हैं.  
  अब यह तो आप जानते ही हैं कि पहले टेस्ट में इंग्लैंड को दस विकेट से पटकने के बाद कंगारू टीम का आत्मविश्वास आसमान छू रहा है. जीत के सुरूर का आलम यह है कि फिलहाल पहले से भी ज्यादा पार्टियों और पीने-पिलाने का दौर अभी भी जारी है. वहीं, स्टीव स्मिथ एंड कंपनी मीडिया में जमकर अंग्रेजों की खिल्ली उड़ा रही है. मानो हार ही काफी नहीं थी कि इंग्लैंड टीम पर लगे मिडनाइट कर्फ्यू ने ऑस्ट्रेलियाई टीम और मीडिया को मेहमानों की और ज्यादा टांग खिंचाई का मौका दे दिया, तो कंगारू फैन भी जमकर इस कर्फ्यू का मखौल उड़ा रहे हैं. 

यह भी पढ़ें :  हारते ही क्रिस वोक्‍स को आई 'बिगड़ैल' बेन स्‍टोक्‍स की याद

टिप्पणियां
दरअसल बात यह है कि इंग्लिश प्रबंधन ने अपने खिलाड़ियों के आधी रात के बाद बाहर जाने पर प्रतिबंध लगा दिया है. वैसे इसके पीछे वजह भी है. पहले तो नाइटक्लब के बाहर इंग्लिश ऑलराउंडर बेन स्टोक्स को निलंबन झेलना पड़ा. यह मसला खत्म भी नहीं हुआ था कि विकेटकीपर जॉनी बैर्स्टो और कंगारू ओपनर कैमरून बैंकरॉफ्ट की पर्थ के एक बार में झड़प हो गई. वैसे ऐसा हो सकता है कि बैर्स्टो की कोई गलती न रही हो और अपनी गाली-गलौच के लिए जाने वाली कंगारू टीम के ही इस खिलाड़ी ने इस  विकेटकीपर को भड़काया हो. अब मामला चाहे कुछ भी रहा हो, बात यह है कि आधी रात के बाद अंग्रेजों के आनंद पर तो बैन लग ही गया.

VIDEO : जानिए भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच क्यों होते हैं हाई-स्कोरिंग मुकाबले
बहरहाल, ऑस्ट्रेलियाई इस पर मजे लेने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ रहे हैं. कंगारू कोच ने कहा कि वह अपने खिलाड़ियों पर कभी भी इस तरह का प्रतिबंध नहीं लगाएंगे क्योंकि खिलाड़ी परिपक्व व्यक्ति हैं और वे कोई बच्चे नहीं हैं. कुछ इसी तरह के सवाल ऑस्ट्रेलियाई मीडिया भी कर रहा है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement