NDTV Khabar

Nidahas Trophy T20 series: हार्दिक पंड्या की जगह खेलने को लेकर दबाव में नहीं हूं : विजय शंकर

श्रीलंका में होने वाली आगामी टी-20 त्रिकोणीय सीरीज के लिए तमिलनाडु के ऑलराउंडर विजय शंकर को भारतीय टीम में स्‍थान दिया गया है. कप्‍तान विराट कोहली, एमएस धोनी, भुवनेश्‍वर कुमार, जसप्रीत बुमराह और हार्दिक पंड्या जैसे खिलाड़ि‍यों को आराम दिया गया है.

59 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
Nidahas Trophy T20 series: हार्दिक पंड्या की जगह खेलने को लेकर दबाव में नहीं हूं : विजय शंकर

विजय शंकर मध्‍य क्रम में बल्‍लेबाजी के अलावा मध्‍यम गति से गेंदबाजी भी करते हैं (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. बल्‍लेबाजी के अलावा गेंदबाजी भी कर लेते हैं विजय शंकर
  2. आईपीएल की नीलामी में दिल्‍ली डेयर डेविल्‍स ने खरीदा है
  3. कहा, कोच बालाजी के मार्गदर्शन में कड़ी मेहनत कर रहा हूं
टिप्पणियां
श्रीलंका में होने वाली आगामी टी-20 त्रिकोणीय सीरीज के लिए तमिलनाडु के ऑलराउंडर विजय शंकर को भारतीय टीम में स्‍थान दिया गया है. कप्‍तान विराट कोहली, एमएस धोनी, भुवनेश्‍वर कुमार, जसप्रीत बुमराह और हार्दिक पंड्या जैसे खिलाड़ि‍यों को आराम दिया गया है. चूंकि हार्दिक पंड्या इस सीरीज में नहीं होंगे, ऐसे में इस बात की पूरी संभावना है कि ऑलराउंडर विजय शंकर प्‍लेइंग इलेवन में स्‍थान बनाने के सफल रहेंगे. विजय शंकर का कहना है कि वह टीम में हार्दिक पांड्या की जगह खेलने का दवाब महसूस नहीं कर रहे हैं. विजय शंकर ने 32 प्रथम श्रेणी मैचों में 49.14  के औसत से 1771 रन बनाने के अलावा 27 विकेट लिए हैं. 41 लिस्‍ट ए मैचों में उन्‍होंने 950 रन बनाए हैं और 27 विकेट लिए हैं. शंकर ने IANS को बताया, "मैं इसे ज्यादा महत्व नहीं देता. मैदान पर कदम रखते ही आप पर दबाव रहता है. आपको संयम के साथ वैसा ही खेलने की जरुरत होती है जैसा आप हर जगह खेलते हैं." IPL की नीलामी में दिल्ली डेयरडेविल्स द्वारा 3.2 करोड़ रुपये में खरीदे गए शंकर का मानना है कि भारतीय टीम का हर खिलाड़ी विशेष है और उन्हें हर खिलाड़ी से बहुत कुछ सीखने की जरूरत है. उन्‍होंने कहा, "हर खिलाड़ी के पास टीम को देने के लिए कुछ विशेष है. एक क्रिकेट खिलाड़ी के रूप में हम हर किसी से सीख सकते हैं और इसका मतलब किसी से तुलना करना नहीं है." शंकर ने घरेलू क्रिकेट में भी शानदार प्रदर्शन किया है. उन्होंने कहा, "मैं घरेलू क्रिकेट को बहुत महत्वपूर्ण स्तर मानता हूं क्योंकि जब भी मैं अच्छा करता हूं तब मुझे अगले स्तर पर जाने का भरोसा मिलता है. इसलिए, घरेलू क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करना मेरे लिए महत्वपूर्ण है." हरफनमौला खिलाड़ी शंकर अपने कोच एस. बालाजी के साथ पिछले कुछ माह से अभ्यास करे रहे हैं. उन्होंने कहा, "मैंने अपने कोच के साथ अभ्यास किया और कुछ चीजों पर काम किया. मैं नहीं समझता कि मुझे कुछ अलग करने की जरूरत है. मेरे लिए यह जरूरी है कि जो मैं कर रहा हूं उसे जारी रखूं."

वीडियो: पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा से विशेष बातचीत
वर्ल्‍डकप के लिए टीम में शामिल होने के प्रश्न पर विजय शंकर ने कहा, "मैं इस बारे में ज्यादा सोचकर अपने उपर ज्यादा दबाव नहीं बना रहा. मैं वर्ल्‍डकप और किसी अन्य चीज के बारे में अभी नहीं सोच रहा."सीरीज से पहले मानसिक रूप से तैयारी करने के बारे में उन्‍होंने कहा, "मानसिक रूप से मैं खेल के बारे में बहुत सोचता हूं. मैं हर मैच देखता हूं और इससे मुझे विभिन्न परिस्थितियों के अनुकूल ढालने में मदद मिलती है." त्रिकोणीय टी-20 सीरीज में भारत का पहला मुकाबला छह मार्च को श्रीलंका से होगा. सीरीज में भारत के अलावा बांग्‍लादेश की टीम भी भाग ले रही है.(इनपुट: IANS)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement