विराट कोहली ने श्रीलंका में ऐतिहासिक जीत का श्रेय इनके सिर बांधा

कोहली ने कहा, 'जहां तक मेरी बात है तो मैं अपने मजबूत पक्षों पर ध्यान देता हूं और क्रिकेटिया शाट खेलता हूं.

विराट कोहली ने श्रीलंका में ऐतिहासिक जीत का श्रेय इनके सिर बांधा

श्रीलंका दौरे पर भारत ने टेस्ट, वनडे और टी20 के सभी मैच जीतकर इतिहास रच दिया है.

खास बातें

  • जीत के लिए जरूरी 171 रन 19.2 ओवर में तीन विकेट खोकर बनाए
  • कप्‍तान कोहली ने 82 रन बनाए, मनीष पांडे 51 रन बनाकर नाबाद रहे
  • विराट ब्रिगेड ने सीरीज में 9-0 की एकतरफा जीत का रिकार्ड बनाया
कोलंबो:

भारतीय क्रिकेट इतिहास में पहली बार टीम इंडिया किसी दूसरे देश के दौरे पर खेले गए सभी टेस्ट, वनडे और टी20 मैच जीती है. इस ऐतिहासिक जीत का श्रेय भारतीय कप्तान विराट कोहली ने ने पूरी टीम को दिया है. कोहली ने श्रीलंका के खिलाफ एकमात्र टी20 में सात विकेट से जीत दर्ज करने के बाद कहा, 'यह बेहद खास है. ऐसा (सभी प्रारूपों में क्लीन स्वीप) पहले कभी नहीं हुआ था. इसका पूरा श्रेय खिलाड़ियों को जाता है. हमारी बेंच स्ट्रेंथ मजबूत है और इन खिलाड़ियों ने अच्छा प्रदर्शन किया. हमने कुछ प्रयोग किये और परिणाम शानदार रहे.' 

ये भी पढ़ें: विराट ब्रिगेड के आगे टिक नहीं पाई श्रीलंकाई टीम, ये रहे जीत के 4 हीरो

श्रीलंका ने दिलशान मुनावीरा के 53 रन की मदद से पहले बल्लेबाजी का न्यौता मिलने पर सात विकेट पर 170 रन बनाये. इसके जवाब में भारत ने कोहली (82) और मनीष पांडे (नाबाद 51) के अर्द्धशतकों से तीन विकेट पर 174 रन बनाकर जीत दर्ज की. कोहली को 'मैन ऑफ द मैच' भी चुना गया. 

ये भी पढ़ें: श्रीलंका पर टी 20 में जीत के साथ टीम इंडिया ने रच दिया नया इतिहास

कोहली ने कहा, 'जहां तक मेरी बात है तो मैं अपने मजबूत पक्षों पर ध्यान देता हूं और क्रिकेटिया शाट खेलता हूं. मैं हर प्रारूप के अनुरूप अपना खेल ढालने का प्रयास करता हूं. मैं सभी मैचों में खेलना चाहता हूं. ' श्रीलंका के कप्तान उपुल थरंगा ने कहा कि अगर उनकी टीम ने 15 से 20 रन अधिक बनाये होते तो मैच का परिणाम अलग होता.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: भारत ने टी-20 मैच भी जीतकर श्रीलंका का सूपड़ा साफ किया

थरंगा ने कहा, 'हमने 15 से 20 रन कम बनाये. हमारी शुरूआत अच्छी रही थी. मुनावीरा ने अच्छी बल्लेबाजी लेकिन हमने 10 से 14वें ओवर के बीच लय गंवा दी. विराट ने जिस तरह से बल्लेबाजी की वह लाजवाब था. वह हर किसी के लिये एक उदाहरण है विशेषकर विकेटों के बीच दौड़ के मामले में.'

इनपुट: भाषा