Ind vs Aus 3rd ODI: इस वजह से भारतीय खिलाड़ी बांह पर काली पट्टी बांधकर मैदान पर उतरे

India vs Australia 3rd ODI: ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे वनडे मुकाबले (Ind vs Aus 3rd ODI) में भारतीय खिलाड़ी हाथ पर काली पट्टी बांधकर मैदान पर उतरे, तो एक बार स्टेडियम में जमा हजारों और टीवी पर देख रहे प्रशंसक हैरान रह गए.

Ind vs Aus 3rd ODI: इस वजह से भारतीय खिलाड़ी बांह पर काली पट्टी बांधकर मैदान पर उतरे

टीम इंडिया के खिलाड़ी मैच से पहले

बेंगलुरु:

बेंगलुरु के एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे वनडे मुकाबले (Ind vs Aus 3rd ODI) में भारतीय खिलाड़ी हाथ पर काली पट्टी बांधकर मैदान पर उतरे, तो एक बार स्टेडियम में जमा हजारों और टीवी पर देख रहे प्रशंसक हैरान रह गए. बहरहाल,टीम इंडिया का यह फैसला एक दिन पहले ही भारतीय क्रिकेट के दिग्गज बापू नाडकर्णी के निधन के चलते लिया. बापू का शुक्रवार को निधन हुआ था और वह 86 साल के थे. 

यह भी पढ़ें:  आखिरकार अब बीसीसीआई ने निकाली सेलेक्टरों के लिए वैकेंसी, ऐसी योग्यता वाले कर सकते हैं आवेदन

भारतीय टीम के खिलाड़ी एक टेस्ट मैच में लगातार 21 मेडेन ओवर डालने का रिकॉर्ड अपने नाम रखने वाले पूर्व भारतीय टेस्ट आलराउंडर रमेशचंद्र गंगाराम 'बापू' नाडकर्णी के निधन पर उन्हें सम्मान देने के लिए अपने बाजूओं पर यह काली पट्टी बांधकर मैदान पर उतरे.

यह भी पढ़ें:  कुलदीप यादव ने बड़े अंतर से दी हरभजन सिंह को मात, लेकिन...

नाडकर्णी बाएं हाथ के बल्लेबाज और बाएं हाथ के स्पिनर थे. उन्होंने 1955 से लेकर 1968 तक भारत के लिए 41 टेस्ट मैच खेले थे, जिसमें उन्होंने 1414 रन बनाने के अलावा 88 विकेट भी हासिल किए थे. नाडकर्णी ने 1964 में इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई में खेले गए टेस्ट मैच में लगातार 21 मेडेन ओवर गेंदबाजी की थी.

VIDEO: पिंक बॉल बनने की पूरी कहानी, स्पेशल स्टोरी. 

नाडकर्णी ने न्यूजीलैंड के खिलाफ ही टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया था और उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ ही अपना आखिरी टेस्ट मैच खेला था. अबतक के सबसे किफायती गेंदबाज रहे नाडकर्णी ने अपने टेस्ट करियर में 9165 गेंदें फेंकी, जिसमें उन्होंने केवल 2559 रन ही खर्च किए थे.
 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com