NDTV Khabar

IND vs AUS 3rd ODI:...तो रवींद्र जडेजा स्पेशल रिकॉर्ड के साथ कपिल और सचिन के क्लब में शामिल हो जाएंगे

INDvAUS: यह रिकॉर्ड रवींद्र जडेजा के लिए कितना अहम है, यह आप इस बात से समझ सकते हैं कि भारतीय क्रिकेट के इतिहास में सिर्फ कपिल देव और सचिन तेंदुलकर ही यह कारनामा कर सके हैं

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
IND vs AUS 3rd ODI:...तो रवींद्र जडेजा स्पेशल रिकॉर्ड के साथ कपिल और सचिन के क्लब में शामिल हो जाएंगे

AUS vs IND, 3rd ODI: रवींद्र जडेजा की फाइल फोटो

खास बातें

  1. भारत ऑस्ट्रेलिया तीसरा वनडे शुक्रवार को
  2. जडेजा के पास है बेहतरीन मौका
  3. सिर्फ कपिल देव और सचिन तेंदुलकर ही कर सके हैं कारनामा
मेलबर्न:

मेलबर्न (एमसीसी, ) क्रिकेट ग्राउंड पर मेजबान (Melbourne Cricket Ground, Melbourne) ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शुक्रवार को खेले जाने वाला तीसरा (INDvsAUS3rdODI) और सीरीज का आखिरी वनडे (प्रिव्यू) (INDvAUS, INDvsAUS) मुकाबला टीम इंडिया के लिए करो या मरो में तब्दील हो गया है. जो भी जीतेगा, वही सीरीज जीतेगा. बहरहाल, इस मैच के साथ ही कई रिकॉर्ड भी दांव पर लगे हुए हैं. कुछ रिकॉर्ड टीम के लिहाज से, तो कुछ निजी रिकॉर्ड हैं. रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) के लिए भी एमसीजी का मैदान बहुत ही यादगार साबित हो सकता है. बहुत ही खास रिकॉर्ड इस ऑलराउंडर का इंतजार कर रहा है. अब रवींद्र जडेजा इस भुना पाते हैं या नहीं, यह देखने वाली बात होगी. 

यह रिकॉर्ड रवींद्र जडेजा के लिए कितना अहम है, यह आप इस बात से समझ सकते हैं कि भारतीय क्रिकेट के इतिहास में सिर्फ कपिल देव और सचिन तेंदुलकर ही यह कारनामा कर सके हैं. और अब यह कारनामा जडेजा के दरवाजे पर खड़ा है. यूं तो जडेजा बेहतरीन फॉर्म में हैं, लेकिन उनका कुछ पता नहीं चलता. बना दें तो धमाल कर दें, वर्ना आते ही या कब खिसक जाएं, यह भरोसा उन्हें लेकर हो नहीं पाता. 


यह भी पढ़ें: 10 Year Challenge: रोहित शर्मा ने 'अलग ही अदा' के साथ स्वीकारा चैलेंज

आपको ध्यान दिला दें कि सचिन तेंदुलकर ने अपने करीब 23 साल के वनडे करियर में 18426 रन बनाए, तो 154 विकेट भी उन्होंने चटका डाले. वहीं, कपिल देव ने 3773 रन बनाए, तो 253  विकेट लिए. यूं तो सचिन तेंदुलकर पार्टटाइमर ही गेंदबाज रहे, लेकिन की मौकों पर सचिन ने अपनी गेंदबाजी से सभी को चौंका दिया. टीम की जरूरत के हिसाब से सचिन कभी स्लो मीडियम पेसर बन जाते थे, तो टर्निंग ट्रैक को देखते हुए स्पिन गेंदबाजी करते थे. 

यही वजह रही कि कप्तान उन्हें गेंद थमाते रहे, तो उनके विकेटों की संख्या भी 154 तक पहुंच गई. वहीं रवींद्र जडेजा की बात करें, अभी तक खेले 14 वनडे मैचों में इस लेफ्टी ऑलराउंडर ने 146 मैच खेले हैं. इन मैचों में उन्होंने 192 विकेट चटकाए हैं, तो उनके खाते में जमा हो चुके हैं 1990 रन. और जडेजा को यह स्पेशल रिकॉर्ड बनाने के लिए बस  दस रन और बनाए हैं. 

टिप्पणियां

VIDEO: विराट कोहली ऑस्ट्रेलिया रवान होने से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान

अगर जडेजा ऐसा कर पाते हैं, तो भारतीय वनडे इतिहास में दो हजार रन बनाने के साथ-साथ डेढ़ सौ विकेट चटकाने वाले सिर्फ तीसरे खिलाड़ी बन जाएंगे. वहीं आप देख ही सकते हैं कि दो सौ विकेटों का आंकड़ा भी उनसे सिर्फ आठ ही विकेट दूर है. यह एक अलग ही उपलब्धि होगी. 
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement