NDTV Khabar

IND vs AUS 3rd Test: कप्तान विराट कोहली ने मेलबर्न टेस्ट से पहले बल्लेबाजों से की अपील

AUS vs IND, 3rd Test: भारतीय कप्तान ने स्पष्ट किया कि मेलबर्न टेस्ट पर उनकी एडीलेड टेस्ट में जीत या पर्थ टेस्ट में हार का कोई असर नहीं पड़ेगा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
IND vs AUS 3rd Test: कप्तान विराट कोहली ने मेलबर्न टेस्ट से पहले बल्लेबाजों से की अपील

AUS vs IND, 3rd Test: भारतीय कप्तान विराट कोहली नेट अभ्यास के दौरान

खास बातें

  1. एमसीजी में अस्सी हजार दर्शकों के आने की उम्मीद
  2. मेलबर्न टेस्ट पर पिछली जीत हार का असर नहीं-विराट
  3. भारतीय कप्तान ने की नॉथन लॉयन की तारीफ
मेलबर्न:

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने बुधवार से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न में शुरू हो रहे बाक्सिंग-डे टेस्ट से पूर्व अपने बल्लेबाजों से अपील की है कि वे गेंदबाजी ईकाई के शानदार प्रयासों के समर्थन में योगदान दें. पर्थ के चुनौतीपूर्ण विकेट पर कप्तान कोहली ने शानदार शतक जड़ा था जबकि चेतेश्वर पुजारा ने एडिलेड में भारत की जीत में निर्णायक भूमिका निभाई लेकिन अन्य बल्लेबाज गेंदबाजों की बराबरी का योगदान नहीं दे पाए जिन्होंने अब तक चार पारियों में सभी 40 विकेट चटकाए हैं. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बॉक्सिंग-डे पर शुरू हो  रहा तीसरा टेस्ट बहुत ही रोमांचक होने की उम्मीद है. इस टेस्ट को लेकर लोगों में बहुत ही उत्साह है और करीब अस्सी हजार दर्शकों के स्टेडियम में जमा होने की उम्मीद है. 

कोहली ने तीसरे टेस्ट की पूर्व संध्या पर कहा कि यह बल्लेबाजों के लिए बेहद मेहत्वपूर्ण है कि वे जिम्मेदारी लें क्योंकि सभी देख सकते हैं कि हमारे गेंदबाज काफी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं. अन्यथा हम जो स्कोर बना रहे हैं उसके साथ गेंदबाज कुछ भी नहीं कर पाएंगे. उन्होंने कहा कि अगर हम बाद में बल्लेबाजी करते हैं तो बढ़त बनाने या विरोधी टीम के स्कोर के जितना अधिक संभव हो, उतना अधिक करीब पहुंचने का प्रयास करते हैं. अगर आप भी बड़ा स्कोर बनाते हो तो फिर यह दूसरी पारी का मुकाबला बन जाता है और अगर आप पहली पारी में अच्छी बढ़त ले लेते हैं तो फिर इसका फायदा उठा सकते हैं.


कोहली ने कहा कि बल्लेबाजों को सामूहिक प्रयास करना होगा. मैं व्यक्तिगत तौर पर नहीं कहूंगा कि किसी को क्या करने की जरूरत है लेकिन बल्लेबाजी ईकाई के रूप में निश्चित तौर पर हमें बेहतर प्रदर्शन करना होगा. भारतीय कप्तान ने हालांकि स्पष्ट किया कि मेलबर्न टेस्ट पर उनकी एडीलेड टेस्ट में जीत या पर्थ टेस्ट में हार का कोई असर नहीं पड़ेगा. उन्होंने कहा कि एक टीम के रूप में मुझे नहीं लगता कि 2-0 से आगे होने, 0-2 से पिछड़ने या 1-1 से बराबर होने का इस पर कोई असर पड़ता है कि अगले दो टेस्ट में क्या होने वाला है. नाथन लॉयन ने अब तक दो टेस्ट में 16 विकेट चटकाकर भारतीय बल्लेबाजों को काफी परेशान किया है और कोहली ने इस आफ स्पिनर की जमकर तारीफ की.

यह भी पढ़ें: IND vs AUS 3rd Test: मयंक अग्रवाल की 'इस पारी' के बाद से सब कुछ बदल गया

उन्होंने कहा कि लॉयन काफी अच्छा गेंदबाज हैं. वह लगातार अच्छे क्षेत्र में गेंदबाजी करता है. इस तरह के गेंदबाज के खिलाफ हमारे पास योजना होनी चाहिए जिससे कि हम रन बनाने के विकल्पों को भी ढूंढ सकें क्योंकि अगर उसे लंबे समय तक एक ही जगह पर गेंदबाजी करने दी जाए तो वह और अधिक खतरनाक बन जाएगा. लॉयन का प्रदर्शन इसलिए भी विशेष है कि उन्होंने अपने अधिकांश टेस्ट मैच ऑस्ट्रेलिया में खेले. उन्होंने कहा कि अगर कोई स्पिनर ऑस्ट्रेलिया में इतनी अच्छी गेंदबाजी करता है, तो यह बड़ी बात है. हम इसे चुनौती के रूप में ले रहे हैं और निश्चित तौर पर हम उसके खिलाफ अपने खेल में सुधार करना चाहते हैं. हमने अभ्यास के दौरान मेहनत की है और अब मायने यह रखता है कि मैदान पर कौन इसे लागू कर पाएगा. 

टिप्पणियां

VIDEO:  ऑस्ट्रेलिया रवाना होने से पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली

पिछली बार जब भारत एमसीजी पर खेला था तो वह टेस्ट ड्रॉ समाप्त हुआ था. कोहली और अजिंक्य रहाणे ने उस मैच में शतक जड़े थे. कोहली ने कहा कि पिछली बार किसी भी टीम के पक्ष में नतीजा नहीं आने में पिच की बड़ी भूमिका थी. लेकिन अब पिच को देखें तो इस पर पिछली बार की तुलना में काफी अधिक घास है और मैं उम्मीद करता हूं कि यह जीवंत पिच होगी. उन्होंने कहा कि हमने पिच देखी और यह नीचे से काफी सूखी लग रही है. पिच पर काफी घास है जो सतह को बांधकर रखेगी. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement