NDTV Khabar

IND VS SA 4TH ODI: पिंक-डे पर नहीं टूटी दक्षिण अफ्रीका की विजयी परंपरा, चौथे वनडे में भारत को 5 विकेट से हराया

भारत और मेजबान दक्षिण अफ्रीका के बीच यह मुकाबला कई मायनों से बहुत ही रोमांचक होने जा रहा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
IND VS SA 4TH ODI: पिंक-डे पर नहीं टूटी दक्षिण अफ्रीका की विजयी परंपरा, चौथे वनडे में भारत को 5 विकेट से हराया

भारतीय सलामी बल्लेबाज शिखर धवन

खास बातें

  1. चौथे वनडे में दक्षिण अफ्रीका की पांच विकेट से जीत
  2. संशोधित लक्ष्य के तहत 28 ओवरों में बनाने थे 202 रन
  3. डेविड मिलर और हेनरिच क्लासेन की शानदार बल्लेबाजी
नई दिल्ली: भारत के खिलाफ शनिवार को चौथे वनडे में जोहानिसबर्ग में मेजबान दक्षिण अफ्रीका ने भारतीयों को भौंचक्का करते हुए और पिंक-डे पर अपनी विजयी परंपरा को बरकारर रखते हुए टीम इंडिया को पांच विकेट से हरा दिया. न्यूवांडर्स में बारिश से मैच में खलल पड़ने और काफी समय खराब होने के बाद दक्षिण अफ्रीका ने डकवर्थ लुईस नियम से यह मुकाबला जीता. मूल रूप से मेजबानों को निर्धारित 50 ओवरों मे 290 रन का टारगेट मिला था. लेकिन जब 7.2 ओवरों में उसका स्कोर 1 विकेट पर 43 रन था, तो बारिश के कारण मैच रोकना पड़ा था.
 
इसके बाद दक्षिण अफ्रीका को संशोधित लक्ष्य के तहत 28 ओवरों में जीत के लिए 202 रन का लक्ष्य मिला, जो उसने 25.3 ओवरों में ही 5 विकेट खोकर हासिल कर लिया. उसकी तरफ से मैच के बड़े हीरो डेविड मिलर (39 रन, 28 गेंद), विकेटकीपर हेनरिच क्लासेन (नाबाद 43 रन, 27 गेंद) रहे, जिन्होंने अपनी प्रचंड पारियों से मैच का नक्शा ही बदल कर रख दिया. इन दोनों के अलावा फेहलुकवायो ने 5 गेदों पर बिना आउट हुए 23 रन की आतिशी पारी खेली. शनिवार को भारतीय स्पिनर पूरी तरह से बेसर दिखाई पड़े. कुलदीप यादव ने आक्रमण पर आते ही जरूर दो विकेट लिए, लेकिन इसके बाद युजवेंद्र चहल और उन पर मेजबान बल्लेबाजों ने जमकर मार लगाई. युजवेंद्र चहल ने दो नोबॉल भी फेंकी. इनमें से एक पर उन्हें मिलर का विकेट भी मिला, लेकिन यह नोबॉल काफी महंगी पड़ीं.  विकेटकीपर हेनरिच क्लासेन मैन ऑफ द मैच चुने गए.
  इससे पहले दूसरे व्यावधान के बाद मैच शुरू होने के थोड़ी ही देर बाद कुलदीप यादव ने पहले जेपी जेपी डुमिनी और फिर जमकर खेल रहे हाशिम अमला (33) के विकेट चटकाकर मेजबानों पर जोरदार प्रहार किया. सीरीज में  पहला मैच खेल रहे एबी डि विलियर्स ने युजवेंद्र चहल के फैंके पहले ओवर में दो छक्के लगाकर 17 रन बटोर मुकाबले में रोमांच लाने की कोशिश की, लेकिन जल्द ही हार्दिक पंड्या ने इस पर विराम लगा दिया. 

मैच में दो बार बाधा पड़ने के बाद दक्षिण अफ्रीका संशोधित लक्ष्य के तहत जीतने के लिए 28 ओवरों में 202 रनों का टारगेट मिला था.मतलब यह है कि अब मेजबान टीम को जीत के लिए बाकी बची 124 गेंदों पर 159 रन बनाने थे, जो उन्होंने 15 गेंद बाकी रहते बना लिए. 
  दक्षिण अफ्रीका की पारी की शुरुआत में जसप्रीत बुमराह ने कप्तान मार्करैम (22) को जैसे ही एलबीडब्ल्यू कर चलता किया, मौसम एकदम  से खराब हो गया. इसके बाद काफी देर तक बारिश होती रही. बारिश रुकने पर मैदान को सुखाने का काम चलता रहा. बाउंड्री के पास भरे पानी को सुपर सॉपर्स से हटाया गया. अंपायरों ने 11:40 बजे आधिकारिक रूप से मैदान का मुआयना किया. और इसके बाद 12 बजे मैच से मैच को 28 ओवर का करने का ऐलान किया. इससे पहले भारतीय पारी के दौरान भी बारिश होने के चलते करीब आधे घंटे का खेल नहीं हो सका था. 
 
भारतीय पारी की बात करें, तो टीम इंडिया के मजबूत स्कोर में शिखर धवन ने 107 रन बनाते हुए करियर का 13वां शतक जड़ा, तो कप्तान विराट कोहली ने 75 और पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने नाबाद 42 रनों का योगदान  दिया. मैच में खराब मौसम ने भी बाधा डाली और करीब आधा घंटा मैच रुकने तक भारत के दो विकेट गिरे थे. लेकिन मैच शुरू होने के बाद भारत ने नियमित अंतराल पर चार विकेट गंवाए.

इससे शिखर धवन और विराट कोहली द्वारा दूसरे  विकेट के लिए जोड़े गए 158 रनों के मजबूत आधार से जगीं सवा तीन सौ के आस-पास की उम्मीदें कुंद हो गईं. लेकिन एक छोर मिश्रित रवैया दिखाते हुए धोनी टीम इंडिया को निर्धारित 50 ओवरों में 7 विकेट पर 289 रनों तक पहुंचाने में कामयाब रहे, जिसे एक मजबूत स्कोर कहा जा सकता है. दक्षिण अफ्रीका के लिए रबाडा और एंगिडी ने दो-दो, जबकि मॉर्कस और मौरिस ने एक-एक विकेट लिया. भारतीय मिड्ल ऑर्डर एक बार फिर से नाकाम साबित हुए. अजिंक्य रहाणे (8), श्रेयस अय्यर (18), हार्दिक पंड्या (9) बड़ा स्कोर नहीं कर सके. इन बल्लेबाजों में सिर्फ धोनी ही कुछ हद तक नाकाम साबित हुए. 

SCOREBOARD LIVE

मेजबान टीम आज अनुभवी एबी डि विलियर्स, मॉर्न मॉर्कल की वापसी और स्थानीय दर्शकों से मिले अच्छे समर्थन से ऊर्जावान दिखाई पड़ी. और उसके खिलाड़ियों की एप्रोच और बॉडी लैंग्वेज भी फील्डिंग के दौरान पिछले तीनों मैचों के मुकाबले सबसे अच्छी रही. खुद कप्तान एडेन मार्करैम ने हार्दिक पंड्या का एक बहुत ही शानदार कैच पकड़ा. वहीं आउटफील्ड में उसके क्षेत्ररक्षकों की तरफ से कुछ अच्छे प्रयास देखने को मिले. 
  मैच के दौरान स्टेडियम में खराब मौसम के बीच दर्शकदीर्घा उत्सव सरीखा माहौल रहा, जो आखिर तक बरकरार रहा. स्टेडियम का चप्पा-चप्पा गुलाबी हो गया. न्यूवांडर्स स्टेडियम पर जिधर निगाह डालो, उधर ही क्रिकेटप्रेमी क्रिकेटप्रेमी गुलाबी कपड़ों में नजर आए.  भारतीय स्पिनरों युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव का भूत मानो उसके बल्लेबाजों से चौथे वनडे में छूटता दिखाई पड़ा. इन दोनों ने इस मैच में 11.3 ओवरों में 119 रन देकर सिर्फ तीन ही विकेट लिए. ऐसा लगा कि जो इन दोनों ने पिछले तीन मैचों में कमाया था, वह सब चौथे में गंवा दिया. 
 
यह भी पढ़ें : IND VS SA: 'इस मामले' में शिखर धवन से बेहतर सिर्फ एक बल्लेबाज, आज जड़ेंगे वनडे खेलने का शतक

मेजबानों के लिए आतिशी बल्लेबाज एबी डि विलियर्स की सेवाएं मिलना बहुत ही मनोबल बढ़ाने वाला साबित हुआ. भले ही बल्ले से ज्यादा योगदान नहीं दे सके, लेकिन उनके आने से टीम में अंतर साफ दिखाई पड़ा. 
  भारत के लिए चिंता की बात यह रही कि मिड्ल ऑर्डर एक बार फिर से नहीं चला. अगर धोनी को छोड़ दें, तो बाकी बल्लेबाज जूझते दिखाई पड़े. और मिले मौके को बड़ी पारियों में तब्दील नहीं कर सके. न ही अजिंक्य रहाणे और न ही हार्दिक पंड्या. चौथे डे-नाइट वनडे के लिए दोनों टीमें इस प्रकार रहीं:

टिप्पणियां
दक्षिण अफ्रीका: 1. एडेन मार्करैम (कप्तान) 2. हाशिम अमला 3. जेपी डुमिनी 4. एबी डि विलियर्स 5. हेनरिच क्लासेन (विकेटकीपर) 6. डेविड मिलर 7. क्रिस मोरिस 8. एंडिले फेलुकवायो 9. कैगिसो रबाडा 10. मॉर्न मोर्कल 11. लुंगि एंगिडी

VIDEO : सेंचुरियन में शतक बनाने के बाद विराट कोहली का अंदाज 

भारत: 1.विराट कोहली (कप्तान) 2. रोहित शर्मा 3. शिखर धवन 4. अजिंक्य रहाणे 5. एमएस धोनी (विकटकीपर) 6. श्रेयस अय्यर 7.हार्दिक पंड्या 8.भुवनेश्वर कुमार 9.कुलदीप यादव 10.जसप्रीत बुमराह 11. युजवेंद्र चहल.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement