NDTV Khabar

INDvsSL 2nd Test: चेतेश्‍वर पुजारा ने अपने 50वें टेस्‍ट में हासिल कीं दो बड़ी उपलब्धियां

श्रीलंका के खिलाफ कोलंबो में खेले जा रहे अपने करियर के 50वें टेस्‍ट को टीम इंडिया के भरोसेमंद बल्‍लेबाज चेतेश्‍वर पुजारा ने अपने लिए यादगार बनाया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
INDvsSL 2nd Test: चेतेश्‍वर पुजारा ने अपने 50वें टेस्‍ट में हासिल कीं दो बड़ी उपलब्धियां

पुजारा ने टेस्‍ट क्रिकेट में अपने 4000 रन पूरे किए (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कोलंबो में अपने करियर का 13वां शतक बनाया
  2. टेस्‍ट क्रिकेट में पुजारा ने चार हजार रन भी पूरे किए
  3. अपनी 84वीं पारी में चार हजार रन के आंकड़े तक पहुंचे
कोलंबो: श्रीलंका के खिलाफ कोलंबो में खेले जा रहे अपने करियर के 50वें टेस्‍ट को टीम इंडिया के भरोसेमंद बल्‍लेबाज चेतेश्‍वर पुजारा ने अपने लिए यादगार बनाया. इस मैच में पुजारा ने न केवल शतकीय पारी खेली बल्कि इस दौरान वे टेस्‍ट क्रिकेट में 4 हजार रन के आंकड़े को छूने में भी कामयाब रहे.

आज पुजारा जब बल्लेबाजी पर आए, तो उनके टेस्‍ट करियर में रनों की संख्‍या 3966 रन थे. पुजारा ने टेस्‍ट की 84 पारियों में चार हजार रन तक पहुंचने की उपलब्धि दर्ज की. मजे की बात यह है कि टीम इंडिया की वॉल कहे  राहुल द्रविड़ ने भी 84 पारियों में ही चार हजार रन के आंकड़े को छुआ था.

यह भी पढ़ें : भरोसेमंद चेतेश्‍वर पुजारा की इस उपलब्धि पर किसी का नहीं है ध्‍यान

द्द्रविड़ और पुजारा से तेज 4000 रन बनाने का रिकॉर्ड भारतीय बल्‍लेबाजों में वीरेंद्र सहवाग और सुनील गावस्कर के नाम पर है. सहवाग ने 79 और गावसकर ने 81 पारियों में यह उपलब्धि हासिल की थी. अगर टेस्ट मैचों की गिनती के रूप में देखा जाए, तो सुनील गावस्कर ने 43 मैचों में 4,000 रन पूरे किए थे और वे इस प्रकार इस सूची में सबसे ऊपर हैं.

यह भी पढ़ें : धवन और पुजारा के शतक, भारत ने लगाया रनों का अंबार

इसके बाद वीरेंद्र सहवाग और द्रविड़ ने 48 मैचों में इस मुकाम को हासिल किया था. पुजारा इस सूची में भी चौथे स्थान पर हैं.  चेतेश्‍वर पुजारा की छवि टेस्‍ट क्रिकेट में भारतीय टीम के सबसे भरोसेमंद बल्‍लेबाज की है. गुजरात के इस खिलाड़ी के आंकड़े इस बात की गवाही देते हैं.  ज्‍यादातर मौकों पर अपने कप्‍तान के विश्‍वास पर वे खरे उतरे हैं.

वीडियो : चेतेश्‍वर पुजारा  की अकादमी में मिलती है मुफ्त कोचिंग

टिप्पणियां


यह अलग बात है कि टीम के विराट कोहली  जैसे धुरंधर बल्‍लेबाजों के आगे ज्‍यादातर बार चेतेश्‍वर पुजारा का प्रदर्शन दबकर रह जाता है. गाले टेस्‍ट में भी पुजारा ने 153 रन की बेहतरीन पारी खेली. दुर्भाग्‍य से वे शिखर धवन की ही तरह दोहरा शतक चूक गए थे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement