Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Nidahas Trophy Final: कुछ ऐसे शांत हुआ श्रीलंकाई क्रिकेटप्रेमियों का बांग्लादेश से मिला गुस्सा

श्रीलंकाई क्रिकेटप्रेमियों का अंदाज बांग्लादेश टीम को आइना दिखाने के लिए काफी है. उम्मीद है कि आगे यह टीम कोई ऐसी हरकत नहीं करेगी

Nidahas Trophy Final: कुछ ऐसे शांत हुआ श्रीलंकाई क्रिकेटप्रेमियों का बांग्लादेश से मिला गुस्सा

भारतीय समर्थन की पहचान बन चुके सुधीर श्रीलंकाई फैन के साथ जश्न मनाते हुए

खास बातें

  • ये जश्न क्रिकेट की जीत है !
  • यह जश्न बांग्लादेश टीम के लिए एक आइना है!
  • यह इससे सबक लेगी बांग्लादेशी टीम?
नई दिल्ली:

इसमें दो राय नहीं कि निधास टी20 ट्रॉफी में जो कुछ भी शुक्रवार को बांग्लादेश और श्रीलंका के बीच खेले गए मुकाबले में बांग्लादेशी खिलाड़ियों ने किया, उससे किसी भी आयोजक देश के क्रिकेटप्रेमियों के भीतर बहुत ही ज्यादा रोष पनप सकता है. और अगर अपने खिलाड़ियों के साथ हुए बर्ताव और बांग्लादेशी क्रिकेटरों की हरकतों के बाद बाद श्रीलंकाई समर्थक गुस्से से भर गए, तो इसको बहुत ही आसानी से समझा जा सकता है. इसी के बाद मेजबान प्रशंसकों ने फाइनल मुकाबले में बांग्लादेश समर्थकों और टीम से अपने ही या कहें कि स्वाभाविक अंदाज में बदला लेने का मन बना लिया. और श्रीलंकाइयों ने तब तक बदला लिया, जब तक उनकी आत्मा पूरी तरह तर-बतर नहीं हो गई. 
 


इसी बदले के तहत ही श्रीलंकाई क्रिकेट प्रशसंक फाइल मुकाबले में तिरंगा हाथों में लिए स्टेडियमों में जमा हो गए. इन्होंने बांग्लादेशी खिलाड़ियों की जमकर हूटिंग की. और टीम इंडिया के हर अंदाज पर जोर-शोर से, शोर-शराबे के साथ जमकर हौसलाअफजाई की.
  और जब दिनेश कार्तिक ने छक्का लगाकर भारत को जिताया, तो स्टेडियम में जमा और भारत का समर्थन करने पहुंचे हजारों श्रीलंकाई की मनमांगी मुराद पूरी हो गई. 
 
यह भी पढ़ें :  Nidahas Trophy Final: कुछ ऐसे रोहित शर्मा ने श्रीलंका को दिया स्पेशल धन्यवाद, लंकाई प्रशंकों की आंखों से छलके खुशी के आंसू

इसके बाद श्रीलंकाई समर्थकों ने भारतीयों के साथ मिलकर मैदान पर जमकर धमाल मचाया. भारतीय समर्थकों की दुनिया भर में पहचान बन गए पटना के सुधीर और स्थानीय समर्थकों द्वार मिलकर मचाया गया धमाल देखने लायक था. वास्तव में भारत की जीत ने श्रीलंकाई प्रशंसकों को वह खुराक दे दी थी, जो उनके गुस्से को शांत कर सकती थी. और जब ऐसा हुआ, तो तस्वीरें देखने लायक था. 
 

बहरहाल, श्रीलंकाई समर्थकों के इस अंदाज के बाद बांग्लादेशियों खिलाड़ियों को एक बात बहुत ही अच्छी तरह से समझ में आ गई होगी कि टूर्नामेंट जीतने से बड़ी बात है किसी का दिल जीतना. वास्तव में बांग्लादेशी खिलाड़ियों की हरकतें श्रीलंकाई और समूचे विश्व क्रिकेटप्रेमियों के दिल से कभी नहीं निकल पाएगी.
 
VIDEO: मोहम्मद शमी ने खुद पर लगे आरोपों को गलत बताया है. 
और न ही निकल पाएगा श्रीलंकाई प्रशंसकों का समर्थन, रोहित का श्रीलंका का झंडा लेकर चलने का अंदाज, जो साफ बता गया कि भारत ने टूर्नामेंट ही नहीं बल्कि श्रीलंकाइयों के दिल को भी जीत लिया.