पढ़ें स्टार बल्लेबाज हरमनप्रीत कौर ने अपने भावुक संदेश में क्या कहा

एनडीटीवी से एक्सक्लूसिव बात करते हुए हरमनप्रीत ने ड्रेसिंग रूम के पलों को बताया.

पढ़ें स्टार बल्लेबाज हरमनप्रीत कौर ने अपने भावुक संदेश में क्या कहा

हरमनप्रीत ने कहा हमने देश के झंडे को और ऊंचा कर दिया है...

खास बातें

  • हरमनप्रीत ने फाइनल में मिली हार के बाद के अनुभव को साझा किया
  • एनडीटीवी से बात करते हुए ड्रेसिंग रूम के पलों को बताया
  • कहा - मुझे अपनी टीम पर गर्व, यह मेरे जीवन का सर्वश्रेष्ठ पल
नई दिल्ली:

भारतीय महिला टीम की स्टार बल्लेबाज हरमनप्रीत कौर ने फाइनल में मिली हार के बाद के अनुभव को साझा करते हुए बताया कि हमारे आंसू रुक नहीं रहे थे. एनडीटीवी से एक्सक्लूसिव बात करते हुए हरमनप्रीत ने ड्रेसिंग रूम के पलों को बताया. उन्होंने बताया कि मैच के बाद हम सभी रो रहे थे. हम सभी ने एक दूसरे को ढांढस बंधाया और प्रोत्साहित किया. हमारा सपोर्ट स्टॉफ ने होटल पहुंचने पर कहा कि कोई भी रोएगा नहीं. हमने फिर एक साथ डिनर करके विश्व का नंबर 2 होने का जश्न मनाया. मुझे अपनी टीम पर गर्व है क्योंकि यह मेरे जीवन का सर्वश्रेष्ठ पल है और यही सबसे अच्छी क्रिकेट है.

अब हम जीतते रहना चाहते हैं
पंजाब के मोगा से संबंध रखने वाली 28 वर्षीय हरमन ने कहा, "हमने अच्छा प्रयास किया था. अब हम हमेशा जीतते रहना चाहते हैं." गौरतलब है कि हरमनप्रीत ने सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 115 गेंदों में 171 रनों की आतिशी पारी खेली थी. यह भारतीय महिला क्रिकेटर द्वारा खेली गई अभी तक की सबसे बड़ी पारी है.

ये भी पढ़ें
टशन मारने पर आ जाएं हरमनप्रीत तो नामी गिरामी मॉडलों की कर देंगी छुट्टी, देखें तस्वीरें
बॉलीवुड ने हरमनप्रीत कौर को दी बधाई, जानिए शाहरुख, अमिताभ बच्‍चन सहित किसने क्‍या कहा

हमने देश के झंडे को और ऊंचा कर दिया है
हरमन ने कहा, "आप किस शहर से हैं, यह मायने नहीं रखता. आपकी सोच मायनी रखती है. अच्छा क्रिकेट खेलने का सपना साकार हो गया है. हमने देश के झंडे को और ऊंचा कर दिया है." उन्होंने कहा कि पूरे देश से हमें जो समर्थन मिला, उसकी बड़ी खुशी है. उन्होंने फैंस से महिला क्रिकेट टीम की मदद के लिए आगे आने को कहा.

VIDEO : महिला क्रिकेट टीम से खास बातचीत

Newsbeep

उन्होंने कहा, "हमने सुना है कि सोशल मीडिया पर महिला किक्रेट को लेकर क्रेज बढ़ा है. देश के लिए मेरा यही संदेश है कि हमें इसी तरह प्यार करते रहें. भारत की लड़कियों को क्रिकेट खेलने के लिए प्रोत्साहित करें क्योंकि हमें अपनी आगामी जनरेशन को तैयार करना है. लड़कियों को स्पोर्ट्स में आगे लाएं क्योंकि उन्हें प्रतिनिधित्व करना बहुत जरूरी है."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इस टूर्नामेंट में पंजाब के मोंगा की हरमनप्रीत ने 359 रन बनाए और उनका औसत 61 रन के आसपास का रहा. हरमनप्रीत ने इस टूर्नामेंट में 33 चौके लगाए.