NDTV Khabar

स्पिन खेलने में माहिर टीम इंडिया के बल्लेबाज इन गेंदबाजों के सामने बेबस

भारत-न्यूज़ीलैंड टी20 मैच में टीम इंडिया स्पिन गेंदबाजों के दवाब से उबर नहीं पाई और 20 ओवरों में सात विकेट पर 156 रन ही बना पाई

221 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
स्पिन खेलने में माहिर टीम इंडिया के बल्लेबाज इन गेंदबाजों के सामने बेबस
नई दिल्ली: भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच शनिवार को राजकोट में खेले गए सीरीज के दूसरे टी 20 मैच को न्यूज़ीलैंड ने 40 रन से  जीत लिया. टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए न्यूज़ीलैंड ने निर्धारित 20 ओवरों में दो विकेट पर 196 रन बनाए थे. न्यूज़ीलैंड की तरफ से सलामी बल्लेबाज कलिन मनरो शानदार बल्लेबाजी करते हुए 109 रन पर नॉट आउट रहे. मनरो ने अपनी पारी में सात चौके और सात छक्के लगाए. न्यूज़ीलैंड की तरफ से मार्टिन गप्टिल ने भी 45 रन की पारी खेली. 196 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए सिर्फ 11 रन पर टीम इंडिया ने सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और शिखर धवन का विकेट गंवा दिया. टीम इंडिया इस दवाब से उबर नहीं पाई और 20 ओवरों में सात विकेट पर 156 रन बना पाई. भारत की तरफ से कप्तान विराट कोहली ने सबसे ज्यादा 65 रन बनाए जबकि महेंद्र सिंह धोनी ने 49 रन की पारी खेली.

मैच में यह तीन खिलाड़ी न्यूज़ीलैंड के हीरो रहे
न्यूज़ीलैंड के लिए जो तीन खिलाड़ी जीत के नायक रहे वे हैं कलिन मनरो, ट्रेंट बोल्ट और ईश सोढ़ी. मनरो ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए सिर्फ 54 गेंदों पर अपना शतक पूरा किया. टी 20 इंटरनेशनल में सबसे ज्यादा शतक लगाने के मामले में मनरो पहले स्थान पर पहुंच गए हैं. मनरो का टी 20 क्रिकेट में यह दूसरा शतक है. न्यूज़ीलैंड के ब्रेंडन मैकुलम ने भी टी 20 इंटरनेशनल में दो शतक लगाए हैं. इन दो खिलाड़ियों को छोड़कर टी 20 में कोई भी खिलाड़ी एक से ज्यादा शतक लगाने में कामयाब नहीं हुआ है. इस मैच में दूसरा जो खिलाड़ी हीरो साबित हुआ वह है ट्रेंट बोल्ट. बोल्ट ने चार ओवर में 34 रन देकर चार विकेट लिए. स्पिन गेंदबाज़ ईश सोढ़ी ने भी शानदार गेंदबाज़ी करते हुए चार ओवरों में सिर्फ 25 रन देकर एक विकेट लिया.

यह भी पढ़ें : INDvsNZ: कॉलिन मुनरो के शतक से न्‍यूजीलैंड का पलटवार, भारत को 40 रन से हराया, सीरीज 1-1 से बराबर

टिप्पणियां
टी 20 में यह तीन स्पिन गेंदबाज़ भारत के लिए हमेशा घातक साबित हुए हैं
भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच अभी तक आठ टी 20 मैच खेले जा चुके हैं जिसमें से छह मैच न्यूज़ीलैंड ने जीते हैं, एक मैच भारत ने जीता है और एक मैच रद्द हो गया. दोनों टीम के बीच खेले गए पहले टी 20 मैच को न्यूज़ीलैंड ने 10 रन से जीता था और इस मैच में स्पिन गेंदबाज़ डेनियल विटोरी हीरो साबित हुए थे. विटोरी ने इस मैच में चार ओवर गेंदबाज़ी करते हुए 20 रन देकर चार विकेट लिए थे और मैन ऑफ़ द मैच भी बने थे. दोनों टीमों के बीच 25 फरवरी 2009 को हुए मैच में भी विटोरी शानदार गेंदबाज़ी करते हुए चार ओवर में सिर्फ 18 रन देकर एक विकेट लेने में कामयाब हुए थे. इस मैच को न्यूज़ीलैंड ने सात विकेट से जीत लिया था.  न्यूजीलैंड की तरफ से मैकुलम ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए 56 रन बनाए थे. 27 फरवरी 2009 को दोनों टीमों के बीच खेले गए मैच में एक बार और अच्छी गेंदबाज़ी करते हुए विटोरी चार ओवर में सिर्फ 21 रन देकर एक विकेट लेने में कामयाब हुए थे. न्यूज़ीलैंड यह मैच पांच विकेट से जीता था और इसमें मैकुलम ने सबसे ज्यादा 69 रन बनाए थे.

सोढ़ी और सैंटनर की अच्छी गेंदबाज़ी
15 मार्च 2016 को नागपुर में दोनों टीमों के बीच खेले गए मैच को न्यूज़ीलैंड ने 47 रन से जीत लिया था और सबसे बड़ी बात यह है कि इस मैच में भारत सिर्फ 79 रन पर ऑल आउट हो गया था.  इस मैच में जो हीरो साबित हुआ था वह था स्पिन गेंदबाज़ मिचेल सैंटनर.  सैंटनर ने चार ओवर गेंदबाज़ी करते हुए सिर्फ 11 रन देकर चार विकेट लिए थे. यह सैंटनर के करियर की सबसे बेहतरीन गेंदबाज़ी है. एक नवंबर 2017 को दिल्ली के फ़िरोज़शाह कोटला मैदान पर खेले गए टी 20 मैच को भारत ने 53 रन से ज़रूर जीत लिया था लेकिन टीम इंडिया के बल्लेबाज न्यूज़ीलैंड के स्पिन गेंदबाज़ ईश सोढ़ी और मिचेल सैंटनर को खेलने में असफल हुए थे. इस मैच में भारत के बल्लेबाज़ों ने न्यूज़ीलैंड के तेज गेंदबाज़ों की खूब पिटाई की थी लेकिन स्पिन गेंदबाज़ ईश सोढ़ी ने चार ओवर में सिर्फ 25 रन देकर 2 विकेट लिए थे. जबकि सैंटनर ने चार ओवर में सिर्फ 30 रन दिए थे.  कल यानी शनिवार को दोनों टीमों के बीच खेले गए मैच में सोढ़ी और सैंटनर ने शानदार गेंदबाजी की थी. सोढ़ी ने चार ओवर में 25 रन देकर एक विकेट लिया था जबकि सैंटनर चार ओवर में 31 रन देकर एक विकेट लेने में सफल हुए थे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement