NDTV Khabar

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आखिरी वनडे में क्या मिल पाएगा इन 5 खिलाड़ियों को मौका ?

सेंचुरियन में 16 फरवरी को आखिरी वनडे खेला जाएगा. इसमें बदलाव के संकेत कप्तान विराट कोहली ने दे दिए हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आखिरी वनडे में क्या मिल पाएगा इन 5 खिलाड़ियों को मौका ?

टीम इंडिया ने दक्षिण अफ्रीका में पहली बार सीरीज पर कब्जा जमाया है. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: भारत ने 26 साल बाद दक्षिण अफ्रीका वनडे सीरीज जीतकर इतिहास रचा. टेस्ट हो या फिर वनडे भारत ने अफ्रीकी जमीन पर कभी भी कोई सीरीज जीतने में इससे पहले सफल नहीं रही है. जाहिर है जीत का अपना खास महत्व है. हालांकि इस जीत के बाद टीम में आखिरी वनडे में कुछ बदलाव देखने को मिल सकता है. सेंचुरियन में 16 फरवरी को आखिरी वनडे खेला जाएगा. इसमें बदलाव के संकेत कप्तान विराट कोहली ने दे दिए हैं.

यह भी पढ़ें :  दक्षिण अफ्रीकी टीम के गेंदबाज की स्‍लेजिंग का विराट कोहली ने दिया करारा जवाब, देखें VIDEO..

कोहली ने पोर्ट एलिजाबेथ में जीत के बाद टीम में बदलाव की संभावना से इनकार नहीं किया. कोहली ने कहा, 'सीरीज जीत के बाद हम टीम में बदलाव के बारे में सोचेंगे. फिलहाल 4-1 से जीतना खास है. हां हम 5-1 से जीतना चाहते हैं और अगले मैच में जिन खिलाड़ियों को मौका दिया जाएगा, लेकिन हमारी प्राथमिकता जीत है और इसके लिए हम कुछ भी करने को तैयार हैं.' अब एक नजर डालते हैं उन खिलाड़ियों पर जो दक्षिण अफ्रीका दौरे पर बेंच पर बैठकर मौका मिलने के इंतजार में हैं.

मोहम्मद शमी
दक्षिण अफ्रीका के हाथों भारतीय टीम को टेस्ट सीरीज में 2-1 से हार मिली, लेकिन इस सीरीज में मोहम्मद शमी का प्रदर्शन बेहतरीन रहा. शमी ने सीरीज के 3 टेस्ट में भारत के लिए सबसे ज्यादा 15 विकेट झटके. टेस्ट क्रिकेट के दबाव को देखते हुए शमी को वनडे सीरीज की टीम में ज़रूर रखा गया, लेकिन किसी भी मैच में खेलने का मौका नहीं मिला. खासकर जब यॉर्कर स्पेशलिस्ट जसप्रीत बुमराह और स्विंग के उस्ताद भुवनेश्वर कुमार पिछले कुछ समय से वनडे में टीम इंडिया के लिए मैच विनर रहे हैं. शमी ने पिछले साल सितंबर में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपना आखिरी वनडे मैच खेला और श्रीलंका के खिलाफ वनडे टीम से भी बाहर रहे. ऐसे में सेंचुरियन वनडे में शमी को मौका दिए जाने के बारे में टीम मैनेजमेंट विचार कर सकता है.

यह भी पढ़ें : दक्षिण अफ्रीका को हार के बाद एक और झटका, रबाडा को भारी पड़ा शिखर धवन की 'खिल्ली उड़ाना'

दिनेश कार्तिक
दिनेश कार्तिक एक ऐसे खिलाड़ी हैं जो किसी भी क्रम पर बल्लेबाज़ी करने का माद्दा रखते हैं। हाल के दिनों में कार्तिक का फ़ॉर्म भी अच्छा रहा है लेकिन एमएस धोनी के टीम में रहते उन्हें एक विकेटकीपर के तौर पर खेलने का मौक़ा नहीं मिलता है। टीम में एक-दो बार वो धोनी के रहते एक बल्लेबाज़ के तौर पर खेले। वेस्ट इंडीज़ के ख़िलाफ़ किंग्सटन वनडे में कार्तिक ने नाबाद 50 रन फिर न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ नाबाद 64 रन बनाए। 79 वनडे मैचों का अनुभव ले चुके कार्तिक ने पोर्ट एलिज़ाबेथ वनडे से पहले नेट्स में जमकर अभ्यास करते दिखे थे। एक रिजर्व विकेटकीपर के रूप में दक्षिण अफ़्रीका में टीम इंडिया के साथ मौजूद कार्तिक को अगर सेंचुरियन में मौक़ा मिले तो इसे भूनाने में वो कोई कोर कसर नहीं छोड़ेंगे। 

यह भी पढ़ें :  दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टीम इंडिया की वनडे सीरीज जीत इन कारणों से है बेहद खास...

मनीष पांडे
बड़े-बड़े शॉट्स लगाने में माहिर मनीष पांडे को अब तक 22 वनडे में खेलने का मौका मिल चुका है, लेकिन वह कुछ खास नहीं कर सके हैं. 2016 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी में नाबाद शतक बनाने के बाद से पांडे ने एक अर्द्धशतकीय पारी के अलावा कोई बड़ी पारी नहीं खेली. पिछले साल वो ऑस्ट्रेलिया, श्रीलंका दोनों के ख़िलाफ खेलने वाली टीम में थे, लेकिन कुछ खास नहीं कर सके. वैसे 2009 में दक्षिण अफ्रीका में हुए आईपीएल में ही उन्होंने 67 गेंद पर शतक बनाकर अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी पहचान बनाई. उस वक्त 19 साल के पांडे आईपीएल में शतक बनाने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बने. इसके बाद वो अपनी काबलियत के मुताबित प्रदर्शन नहीं कर सके. उम्मीद है कोहली पांडे को आख़िरी वनडे में हाथ खोलने का मौक़ा ज़रूर देंगे. 

अक्षर पटेल
विराट कोहली एक समय में अक्षर पटेल पर खूब भरोसा दिखा चुके हैं, लेकिन युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव की जोड़ी ने मैच दर मैच कमाल दिखाकर अक्षर की छुट्टी कर दी. इतना ही नहीं दोनों ने आर. अश्विन और रवींद्र जडेजा को भी अपनी गेंदबाज़ी में बदलाव करने को मज़बूर कर दिया है. दक्षिण अफ्रीका सीरीज से पहले किसी ने ये नहीं सोचा होगा कि स्पिनर सीरीज में जीत के हीरो बनेंगे लेकिन ऐसा हुआ. चहल और कुलदीप ने वनडे सीरीज में 30 विकेट झटके हैं, लेकिन सेंचुरियन में अक्षर को मौक़ा दिया जा सकता है. अक्षर ने न्यूजीलैंड के खिलाफ अक्टूबर में आखिरी बार भारत के लिए वनडे मैच खेला है.

टिप्पणियां
VIDEO : मैदान पर की बदसलूकी तो पड़ेगा महंगा


शार्दुल ठाकुर

शार्दुल ठाकुर को दक्षिण अफ्रीका की तेज पिच को देखते हुए बुलाया गया था, ताकि वो टेस्ट सीरीज़ के लिए भारतीय बल्लेबाज़ों को नेट्स में गेंद डाल सके. शार्दुल रफ़्तार से गेंद फेंकने में माहिर हैं, लेकिन वह लाइन-लेंथ बरक़रार करने में सफल नहीं होते हैं. इस वजह से वो मिले मौकों का अब तक फ़ायदा नहीं उठा सके हैं. अगर रवि शास्त्री और विराट कोहली ठाकुर को मौक़ा देते हैं तो वो सेंचुरियन की पिच का फ़ायदा उठाकर अपनी काबलियत साबित कर सकते हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement