NDTV Khabar

भारतीय वास्तुशास्त्र के अनुसार ऐसी होनी चाहिए बेडरूम की सजावट

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारतीय वास्तुशास्त्र के अनुसार ऐसी होनी चाहिए बेडरूम की सजावट
शयनकक्ष यानी बेडरूम अगर सही न हो, घर में कुछ भी सही नहीं माना जाता है. क्योंकि, यह घर का वह स्थान है, जहां आप दुनिया में सबसे अधिक शान्ति और सुकून पाते हैं. इसलिए भारतीय वास्तुशास्त्र में इस कमरे के बारे में काफी व्यापक चर्चा मिलती है. कहते हैं, यदि आपने अपना बेडरूम वास्तु के अनुसार, सजाकर रखा है, तो आपके अनेक कष्ट न केवल आपसे दूर रहते हैं, बल्कि यह समस्याओं से जूझने में भी अतिरिक्त सहायक होता है.
  • इसलिए भारतीय वास्तुशास्त्र के अनुसार, घर के बाकी हिस्सों की ही तरह बेडरूम को सजाते वक्त भी वास्तु का ध्यान रखना बहुत जरूरी है, ताकि जिंदगी में खुशियां ही खुशियां हों. आइए जानते हैं कि बेडरूम सजाते समय किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए:
  • जिस बिस्तर (बेड) पर आप सो रहे हैं, उस पर सिंपल डिजाइन वाले तकिए और चादर रखें. अधिक डिजाइन वाले या रंग-बिरंगी तकिए और चादरों से बचना चाहिए.
  • शयनकक्ष यानी बेडरूम में हल्के गुलाबी रंग का प्रकाश होना चाहिए. इससे पति और पत्नी में आपसी प्रेम बना रहता है.
  • शयनकक्ष यानी बेडरूम में ड्रेसिंग टेबल रखना जरूरी हो, तो उसे ऐसी जगह रखें कि शीशे में आपके बेड का अक्स यानी परछाई न दिखे.
  • यदि आपने बेडरूम में दीवाल घड़ी लगा रखी हो, तो घड़ी को कभी भी सिर के नीचे या बेड के पीछे न लगायें. जहां तक हाथ घड़ी की बात है, तो उसे साथ रख कर न सोएं. बल्कि उसे बेड की बाईं या दाईं ओर रख कर सोयें.
जानिए बजरंग बली हनुमानजी से जुड़ी कुछ सुनी-अनसुनी और रोचक बातें
  • भारतीय वास्तुशास्त्र के अनुसार, शयनकक्ष यानी बेडरूम में भगवान या पूर्वजों की तस्वीर न लगाएं. अधिक गहरे रंग वाली तस्वीरों को लगाने से बचना चाहिए.
  • यदि गुलदस्ता रखते हैं, तो उसका फूल हर रोज बदलें. यदि कृत्रिम फूल वाले गुलदान हैं, तो उसकी नियमित सफाई होनी चाहिए.

आस्था सेक्शन से जुड़े अन्य खबरों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.


टिप्पणियां

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement