NDTV Khabar

वैष्‍णो देवी के भक्‍तों के लिए खुशखबरी, अब भैरों मंदिर तक जाएगी रोपवे

वैष्‍णो देवी (Vaishno Devi) रोपवे के परीक्षण की वजह से हिमकोटि मार्ग श्रद्धालुओं के लिए 10 मई से 14 मई तक अस्थायी रूप से बंद रहेगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
वैष्‍णो देवी के भक्‍तों के लिए खुशखबरी, अब भैरों मंदिर तक जाएगी रोपवे

वैष्‍णो देवी मंदिर के भवन से भैंरो मंदिर तक जाने बुजुर्ग और दिव्‍यांगों को काफी दिक्‍कत होती है

खास बातें

  1. वैष्‍णो देवी मंदिर भवन से भैंरो मंदिर तक केबल कार जाएगी
  2. ट्रायल के बाद कुछ दिनों में इस रोपवे को शुरू कर दिया जाएगा
  3. इस रोपवे की क्षमता प्रतिघंटे 800 लोगों की होगी
नई द‍िल्‍ली : जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले की त्रिकुटा पहाड़ी पर स्थित मां वैष्णोदेवी (Vaishno Devi) गुफा मंदिर के लिए रोपवे का परीक्षण जल्द शुरू होगा. आपको बता दें कि वैष्‍णो देवी की बड़ी मान्‍यता है. माना जाता है कि पहाड़ों वाली माता वैष्‍णो देवी सबकी मुरादें पूरी करती हैं. यहां हर साल लाखों यात्री आते हैं. यह भारत में तिरूमाला वेंकेटेश्‍वर मंदिर के बाद दूसरा सर्वाधिक देखा जाने वाला धार्मिक तीथ-स्‍थल है.

माता वैष्णो देवी के दर्शनों के लिए IRCTC लाई 2500 रुपये का टूर पैकेज

माता वैष्णोदेवी श्राइन बोर्ड के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि रोपवे परियोजना के पूरा होने के बाद श्रद्धालुओं को भैंरोजी मंदिर पहुंचने में आसानी होगी. 6,600 फुट पर स्थित इस मंदिर की खड़ी चढ़ाई के कारण बुजुर्गों और दिव्यांगों को परेशानी होती है.

जानिए वैष्णो देवी की कहानी

टिप्पणियां
अधिकाारी के मुताबिक भवन भैंरो गति पैसेंजर रोपवे परियोजना पूरी होने की कगार पर है. इसका परीक्षण जल्‍द शुरू हो जाएगा. इसकी क्षमता प्रतिघंटे 800 लोगों की होगी.  उन्होंने बताया कि इसी तरह से सिआर डाबरी और भवन के बीच रोपवे का काम लगभग पूरा हो चुका है. अगले कुछ दिनों में इस रोपवे को शुरू कर दिया जाएगा. 

उन्होंने बताया कि आगामी भवन-भैंरो गति पैसेंजर रोपवे केबिन्स को अर्द्धकुमारी से भवन स्थानांतरित किया जा रहा है. इसे देखते हुए हिमकोटि मार्ग श्रद्धालुओं के लिए 10 मई से 14 मई तक अस्थायी रूप से बंद रहेगा.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement