NDTV Khabar

अपना पहला चुनाव हारने वाले जयराम ठाकुर बने हिमाचल के मुख्‍यमंत्री, 10 खास बातें

जयराम ठाकुर मंडी के एक किसान परिवार से आते हैं. उन्होंने चंडीगढ़ की पंजाब यूनिवर्सिटी से पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई की और यूनिवर्सिटी के दिनों में ही राजनीति में कदम रखने का फैसला किया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अपना पहला चुनाव हारने वाले जयराम ठाकुर बने हिमाचल के मुख्‍यमंत्री, 10 खास बातें

जयराम ठाकुर ने पीएम मोदी की मौजूदगी में ली हिमाचल प्रदेश के मुख्‍यमंत्री पद की शपथ

शिमला: जयराम ठाकुर ने बुधवार को हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली. इस शपथ समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह सहित पार्टी के अन्य नेता भी मौजूद रहे. राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने ठाकुर को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई.जयराम ठाकुर छह जनवरी को 53 वर्ष के हो रहे हैं। वह पहली बार मुख्यमंत्री बने हैं. शिमला के ऐतिहासिक रिज पर शहनाइयों और ड्रमों की धुनों के बीच शपथ ग्रहण समारोह हुआ, जिसमें कई केंद्रीय मंत्रियों और भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने हिस्सा लिया. इस दौरान पार्टी के 30,000 से अधिक कार्यकर्ता भी मौजूद रहे. पांच बार के विधायक जयराम ठाकुर को जमीन से जुड़े हुए नेता के तौर पर पहचाना जाता है. ठाकुर के परिवार में 80 वर्ष की उनकी विधवा मां भी है, जो शपथ ग्रहण समारोह के दौरान मौजूद थीं.
जानें जयराम ठाकुर के बारे में दस बातें
  1. जयराम मंडी के एक किसान परिवार से आते हैं. उन्होंने चंडीगढ़ की पंजाब यूनिवर्सिटी से पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई की और यूनिवर्सिटी के दिनों में ही राजनीति में कदम रखने का फैसला किया.
  2. छात्र जीवन के दौरान जयराम ठाकुर एबीवीपी के समर्पित कार्यकर्ता थे और वह संघ के करीबी माने जाते हैं और वह राजपूत समुदाय से आते हैं. 
  3. 1986 में एबीवीपी में संयुक्त सचिव बने और 1993 से 1995 तक बीजेपी युवा मोर्चा के प्रदेश सचिव और प्रदेश अध्यक्ष भी बने.
  4. 2004 से 2005 तक बीजेपी के प्रदेश उपाध्यक्ष रहे और 2006 में प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष बने.
  5. जयराम ठाकुर ने 28 वर्ष की उम्र में पहली बार 1993 में चाचिओट सीट से विधानसभा चुनाव लड़ा था. वह 800 वोटों के अंतर से पहला चुनाव हार गए थे, लेकिन बीजेपी नेतृत्व का ध्यान अपनी तरफ खींचने में कामयाब रहे.
  6. 1998 में पहली बार विधानसभा चुनाव जीते और 1998 से अब तक लगातार पांच बार विधायक 
  7. वोटबैंक और अपने समर्थकों का आधार बढ़ाने की उनकी क्षमता ही थी कि 2007 में हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनावों के दौरान पार्टी ने अच्छा प्रदर्शन किया. जयराम ठाकुर के प्रदेश अध्यक्ष रहते पार्टी ने यह चुनाव लड़ा था और धूमल सरकार में मंत्री बने 
  8. ठाकुर ने 2010 से 2012 तक धूमल सरकार में ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री के तौर पर काम किया.
  9. जयराम ठाकुर के नेतृत्व में पार्टी पहली बार अपने दम पर इस पहाड़ी राज्य में सत्ता में आई और प्रेम कुमार धूमल मुख्यमंत्री बने.
  10. हिमाचल प्रदेश के दूसरे सबसे बड़े जिले मंडी से जयराम ठाकुर पहले विधायक हैं, जो मुख्यमंत्री बने हैं. उन्‍होंने हिमाचल प्रदेश के 14वें मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है. बीजेपी ने 2017 के विधानसभा चुनावों में मंडी जिले की 10 सीटों में से नौ पर जीत हासिल कर इतिहास रचा है.

VIDEO: जयराम ठाकुर ने ली सीएम पद की शपथ
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
टिप्पणियां

Advertisement