गुजरात चुनाव: BJP उम्‍मीदवार बोले, मस्जिद-मदरसों को एक रुपये नहीं दूंगा

गुजरात में पहले दौर के चुनाव से पहले उम्मीदवार वोटरों को लुभाने के लिए बढ़-चढ़कर बातें कर रहे हैं. वडोदरा के बीजेपी उम्मीदवार शैलेष मेहता ने बुधवार को अपनी सभा में कहा कि हम अपने विधानसभा क्षेत्र को दुबई नहीं बनने देंगे.

गुजरात चुनाव: BJP उम्‍मीदवार बोले, मस्जिद-मदरसों को एक रुपये नहीं दूंगा

वडोदरा के बीजेपी उम्मीदवार शैलेष मेहता ने विवादित बयान दिया

खास बातें

  • गुरुवार को गुजरात में पहले दौर के मतदान के लिए चुनाव प्रचार थम जाएगा
  • हम अपने विधानसभा क्षेत्र को दुबई नहीं बनने देंगे: शैलेष मेहता
  • शैलेष डभोई विधानसभा से लड़ रहे हैं, जो नर्मदा जिले की सीट है.
वडोदरा :

गुजरात में पहले दौर के चुनाव से पहले उम्मीदवार वोटरों को लुभाने के लिए बढ़-चढ़कर बातें कर रहे हैं. वडोदरा के बीजेपी उम्मीदवार शैलेष मेहता ने बुधवार को अपनी सभा में कहा कि हम अपने विधानसभा क्षेत्र को दुबई नहीं बनने देंगे. उन्होंने कहा कि मैं अपने विरोधी उम्मीदवार की तरह मस्जिद और मदरसों में 1 रुपया नहीं दूंगा. शैलेष डभोई विधानसभा से लड़ रहे हैं, जो नर्मदा जिले की सीट है.

पोल ऑफ ओपिनियन पोल में गुजरात की सत्‍ता फिर BJP के पास, लेकिन...

गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण के लिए प्रचार का गुरुवार को आखिरी दिन है. पहले चरण के लिए मतदान 9 दिसंबर को होगा. प्रधानमंत्री मोदी के लिए ये चुनाव प्रतिष्ठा का है. वहीं कांग्रेस अध्यक्ष का पद संभालने जा रहे राहुल गांधी के लिए ये चुनाव लिटमिस टेस्ट है. पहले चरण में 89 सीटों पर 977 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं. इनमें मुख्यमंत्री विजय रूपाणी भी शामिल हैं.

राजनीतिक पंडितों के मुताबिक, जो पार्टी सौराष्ट्र और कच्छ में ज्‍यादा सीटें हासिल करेगी, उसी के गुजरात में सरकार बनाने के ज्‍यादा चांस होंगे. 2012 के चुनाव में सौराष्ट्र और कच्छ की 58 सीटों में से बीजेपी ने 35 सीटें जीती थीं. वहीं कांग्रेस ने 20 सीटें जीती थीं. वहीं 2007 में सौराष्ट्र और कच्छ में बीजेपी को 43 और कांग्रेस को 14 सीटें मिली थीं. दूसरे और अंतिम चरण का चुनाव 14 दिसंबर को होगा. वोटों की गिनती 18 दिसंबर को होगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: कांग्रेस को ईवीएम पर भरोसा नहीं? 

गुजरात विधानसभा चुनावों से पहले तीन ओपिनियन पोल में बीजेपी को जीत मिलती नजर आ रही है. अगर ऐसा होता है तो बीजेपी पांचवीं बार गुजरात में सरकार बनाएगी, लेकिन इस बार जीत का अंतर पिछली बार के मुकाबले कम होगा. ओपिनियन पोल में बीजेपी राज्‍य की 182 सीटों में से 105-106 सीटों पर जीत मिलती दिख रही है. इन तीनों ओपिनियन पोल के मुताबिक, कांग्रेस 73-74 सीटों के साथ फिर विपक्ष में बैठेगी.