NDTV Khabar

गुजरात के पोरबंदर से कांग्रेस-भाजपा में कांटे की टक्कर, पुराने प्रतिद्वंद्वी फिर आमने-सामने

महात्मा गांधी की जन्मस्थली पोरबंदर से चुनाव लड़ रहे दोनों नेताओं को दिग्गज माना जा रहा है और दोनों पहले एक दूसरे को हरा चुके हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गुजरात के पोरबंदर से कांग्रेस-भाजपा में कांटे की टक्कर, पुराने प्रतिद्वंद्वी फिर आमने-सामने

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

खास बातें

  1. चुनाव लड़ रहे दोनों नेताओं को दिग्गज माना जा रहा है.
  2. भाजपा के बाबू बोखीरिया और कांग्रेस के अर्जुन मोडवाडिया है आमने-सामने.
  3. बोखीरिया एवं मोडवाडिया मेर समुदाय से ताल्लुक रखते हैं.
पोरबंदर: गुजरात में विधानसभा चुनाव में पुराने प्रतिद्वंद्वी भाजपा के बाबू बोखीरिया और कांग्रेस के अर्जुन मोडवाडिया एक बार फिर से पोरबंदर सीट पर आमने सामने हैं. महात्मा गांधी की जन्मस्थली पोरबंदर से चुनाव लड़ रहे दोनों नेताओं को दिग्गज माना जा रहा है और दोनों पहले एक दूसरे को हरा चुके हैं. यह मछुआरा समुदाय बहुल क्षेत्र है और कांग्रेस इस समुदाय को अपने पक्ष में करने का कोई मौका नहीं छोड़ रही है इसके बावजूद यहां दोनों पार्टियों के बीच कड़ी टक्कर होने के आसार हैं. दोनों पार्टी के नेता -बोखीरिया एवं मोडवाडिया मेर समुदाय से ताल्लुक रखते हैं.

यहां मेर और मछुआरा समुदाय की संख्या 70,000 और 30,000 के करीब हैं वहीं ब्राह्मण और लोहान समुदाय की संख्या 50,000 और 20,000 है.

यह भी पढ़ें : ईवीएम के दुरुपयोग को रोकने के लिए पर्याप्त तैयारी : निर्वाचन आयोग

लेकिन पोरबंद सीट पर जीत में मछुआरा समुदाय की बड़ी भूमिका हो सकती है. मछुआरा समुदाय के निर्णायक होने के कारण भाजपा और कांग्रेस दोनो ने ही धुआंधार चुनाव प्रचार किया है और इस समुदाय का समर्थन अपने पक्ष में होने का दावा किया. बोखीरिया वर्तमान में विधायक हैं और वह गुजरात सरकार में कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं.

टिप्पणियां
VIDEO : पहले चरण में हार्दिक, अल्पेश और जिग्नेश का फैक्टर हो सकता है अहम​

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement