Ayurvedic Immunity Booster: तुलसी का काढ़ा इम्यूनिटी बढ़ाने में है कमाल, गले की खराश को करेगा दूर, दिन में एक टाइम पिएं!

Best Immunity Booster Drink: जब इम्यूनिटी बढ़ाने की बात आती है तो आयुर्वेदिक काढ़े (Ayurvedic Kadha) का जिक्र जरूर होता है. नेचुरल तरीके से इम्यूनिटी बढ़ाने (Naturally Boost Immunity) के लिए काढ़ा एक बेहतर विकल्प हो सकता है. एक्सपर्ट भी तुलसी को इम्यूनिटी बढ़ाने में (Tulsi For Boosting Immunity) फायदेमंद मानते हैं साथ ही तुलसी गले के लिए भी लाभकारी हो सकती है.

Ayurvedic Immunity Booster: तुलसी का काढ़ा इम्यूनिटी बढ़ाने में है कमाल, गले की खराश को करेगा दूर, दिन में एक टाइम पिएं!

Home Remedy For Immunity: इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए रोजाना पिए तुलसी से बना यह काढ़ा

खास बातें

  • इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए घर पर तुलसी का काढ़ा बनाएं.
  • तुलसी का काढ़ा इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने के साथ गले को रखता है साफ.
  • आयुर्वेदिक तरीके से इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए ऐसे बनाएं काढ़ा.

Tulsi Kadha For immunity:  जब इम्यूनिटी बढ़ाने की बात आती है तो आयुर्वेदिक काढ़े (Ayurvedic Kadha) का जिक्र जरूर होता है. नेचुरल तरीके से इम्यूनिटी बढ़ाने (Naturally Boost Immunity) के लिए काढ़ा एक बेहतर विकल्प हो सकता है. एक्सपर्ट भी तुलसी को इम्यूनिटी बढ़ाने में (Tulsi For Boosting Immunity) फायदेमंद मानते हैं साथ ही तुलसी गले के लिए (Basil For Throat) भी लाभकारी हो सकती है. तुलसी की हर्बल चाय (Basil Herbal Tea) या काढ़ा जो आप गले के इंफेक्शन, गले में खिचखिच, खराश, जमा बलगम और भारीपन को बहुत जल्द दूर कर सकता है. वैश्विक स्तर पर कोरोनोवायरस संक्रमण की बढ़ते मामलों के चलते आपको इम्यूनिटी को बढ़ाने (Increase Immunity) की सलाह दी जा रही हैं क्योंकि रोग प्रतिरोधक क्षमता के मजबूत (Strong Immunity) होने से कोविड-19 से खुद को बचाया जा सकता है.

आपने भी इम्यूनिटी बढ़ाने के आयुर्वेदिक उपाय (Ayurvedic Remedy To Increase Immunity) किए होंगे, इस समय लगभग हर कोई अपनी इम्यूनिटी बढ़ाने के घरेलू तरीके (Home Remedy To increase immunity) अपना रहा है. इम्यून सिस्टम की मजबूती के लिए हेल्दी डाइट लेने की जरूरत होती है. जब भी काढ़े की बात आती है तो इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए तुलसी का काढ़ा (Tulsi Kadha To Increase Immunity) सबसे पहले याद किया जाता है. कुछ जरूरी उपाय कर कई तरह के रोगों और गले की सभी परेशानियों से खुद को दूर कर सकते हैं.

ऐसे ही कुछ खास उपायों में हर्बल चाय या काढ़ा भी शामिल है, जो आपकी इम्यूनिटी (Immunity) को बढ़ाने में मदद कर सकता हैं, जिससे आप गले के इंफेक्शन, गले में खिचखिच, खराश, जमा बलगम और भारीपन को बहुत जल्द दूर कर सकते हैं. यहां जानें इस इम्यूनिटी बूस्टर ड्रिंक (Immunity Booster Drink) के बारे में सब कुछ. यह काढ़ा क्यों और कैसे करता है आपकी हर बीमारी से रक्षा और क्या है तुलसी का काढ़ा (Tulsi Kadha) बनाने की विधि...

l3uojl0oAyurvedic Immunity Booster: यह तुलसी का काढ़ा इम्यून सिस्टम को मजबूत करने के साथ गले को रखता है साफ!

तुलसी का काढ़ा कैसे बढ़ाता है इम्यूनिटी | How Tulsi Kadha Increase Immunity

तुलसी, हल्दी, दालचीनी, लौंग से बना काढ़ा कुछ सामान्य सामग्रियों के साथ बनाया जा सकता है, जो अपने औषधीय और उपचार गुणों के लिए प्रसिद्ध हैं. तुलसी और हल्दी जीवाणुरोधी और एंटी इंफ्लेमेट्री गुणों में बहुत समृद्ध हैं. गले में खराश की खराश को दूर करने के लिए लौंग अत्यधिक फायदेमंद है. ये सभी सामग्रियां कई विशेषताओं से भरी होती हैं. ये सभी इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए काफी फायदेमंद हो सकते हैं.

यह आपके पाचन तंत्र में सुधार करके शरीर से खराब पदार्थों को बाहर निकालने में सहायक होता है. काली मिर्च कफ को बाहर निकालने में उपयोगी होती है और तुलसी, अदरक और दालचीनी एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों गुणों से भरपूर होती है. इसके अलावा तुलसी में एंटी-माइक्रोबियल गुण भी पाए जाते हैं, जो सांसों के लंबंधित संक्रमण को दूर करने में मददगार है. इस काढ़े का दिन में दो बार सेवन करने से आपकी इम्यूनिटी बढ़ सकती है और यह आपको हानिकारक बीमारियों से भी बचा सकता है. सर्दी या फ्लू होने पर यह काढ़ा आपके गले को आराम देने में सहायता कर सकता है.

इस काढ़े को तैयार करने की सामग्री

- 3-4 मुनक्का या फिर किशमिश
- 1/4 चम्मच काली मिर्च पाउडर
- 1 छोटा टुकड़ा अदरक
- 4-5 तुलसी के पत्ते
- 1/2 चम्मच दालचीनी पाउडर
- काली मिर्च

ऐसे बनाएं तुलसी का काढ़ा | How To Make Tulsi Kadha

Newsbeep

एक पतीले में दो गिलास पानी डालकर इसमें तुलसी, दालचीनी पाउडर, काली मिर्च, अदरक और किशमिश सारी चीजों को एक साथ डालकर मिलाए. इसे 15 मिनट तक उबलने दें. फिर काढ़े को थोड़ी देर के लिए ठंडा होने के लिए छोड़ दें. अब इसको छान कर पी लें. यह आपकी इम्युनिटी बूस्ट कर सकता है. आप स्वाद के लिए इसमें थोड़ा गुड़ या नींबू का रस भी मिला सकते हैं. रोजाना इस काढ़े का सेवन करने से गले में खिचखिच, खराश, जमा बलगम और भारीपन को दूर किया जा सकता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.