Type 2 Diabetes: डायबिटीज में ब्लड शुगर लेवल को मैनेज कर सकती है यह एक चीज, पाचन के लिए भी है कमाल!

Cinnamon For Diabetes: डायबिटीज में ब्लड शुगर लेवल (Blood Sugar Level) अनकंट्रोल हो जाता है लेकिन, शरीर में बल्ड शुगर का बढ़ना और एक मानक से कम होना डायबिटीज (Diabetes) की दो दशाओं को दर्शाता है. दालचीनी टाइप 2 डायबिटीज के लिए (Cinnamon For Diabetes) फायदेमंद हो सकती है.

Type 2 Diabetes: डायबिटीज में ब्लड शुगर लेवल को मैनेज कर सकती है यह एक चीज, पाचन के लिए भी है कमाल!

Cinnamon For Diabetes: डायबिटीज में ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल कर सकती है दालचीनी

खास बातें

  • दालचीनी टाइप 2 टायबिटीज में ब्लड शुगर लेवल को करेगी मैनेज!
  • ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने के लिए डाइट में शामिल करें दालचीनी.
  • यहां जानें टाइप 2 डायबिटीज में कैसे फायदेमंद है दालचीनी.

Cinnamon For Diabetes Control: डायबिटीज में ब्लड शुगर लेवल (Blood Sugar Level) अनकंट्रोल हो जाता है लेकिन, शरीर में बल्ड शुगर का बढ़ना और एक मानक से कम होना डायबिटीज (Diabetes) की दो दशाओं को दर्शाता है. दालचीनी टाइप 2 डायबिटीज के लिए (Cinnamon For Type 2 Diabetes) फायदेमंद हो सकती है. मधुमेह क्या है? (What Is Diabetes) कैसे होता है डायबिटीज? डायबिटीज के लक्षण (Symptoms Of Diabetes), अक्सर लोग ऐसे सवाल करते हैं. यहां हम आपके ऐसी ही सवालों का जवाब देंगे. टाइप 2 डायबिटीज (Type 2 Diabetes) वह स्थिति है जब शरीर इंसुलिन (Insulin) का सही उपयोग नहीं कर पाता है. इस स्थिति को इंसुलिन प्रतिरोध कहा जाता है. ऐसे कई फूड हैं जो ब्लड शुगर लेवल को मैनेज (Manage Blood Sugar Level) कर सकते हैं. एक शोध में यह बात सामने आई है कि दालचीनी (Cinnamon) भी ब्लड शुगर को काफी हद तक कंट्रोल करने में मदद कर सकती है. डायबिटीज (Diabetes) की समस्या लगातार बढ़ती ही जा रही है. डायबिटीज दो तरह की होती हैं. टाइप 1 डायबिटीज और टाइप 2 डायबिटीज. अगर आप टाइप 2 से पीड़ित हैं तो टाइप 2 डायबिटीज डाइट (Type 2 Diabetes Diet) लेना आपके लिए जरूरी हो जाता है. टाइप 2 डायबिटीज को कंट्रोल में रखने के लिए दवाओं और इन्सुलिन इंजेक्शन (Insulin Injection) का सहारा लिया जाता है. यहां जानें दालचीनी कैसे टाइप 2 डाइबिटीज को कंट्रोल कर सकती है...

cinnamon is what you need for weight lossCinnamon For Diabetes: दालचीनी से कंट्रोल हो सकता है टाइप 2 डायबिटीज

दालचीनी से ब्लड शुगर लेवल होगा कंट्रोल! | Is Cinnamon Good For Controlling Blood Sugar?

दालचीनी आपके ब्लड प्रेशर में प्रवेश करने वाले ग्लूकोज की मात्रा को कम करने में मदद कर सकता है यह बात एक शोध में सामने आई है. ग्लूकोज एक सामान्य शर्करा (Sugar) है, जो आपके ब्लड में बनता है और उच्च रक्त शर्करा (High Blood Sugar) के स्तर का मुख्य कारण होता है. प्रत्येक दिन सिर्फ 1 ग्राम दालचीनी के सेवन से इंसुलिन के प्रति संवेदनशीलता बढ़ जाती है और टाइप 2 डायबिटीज को मैनज करने में मदद मिल सकती है. डायबिटीज केयर जर्नल में प्रकाशित एक क्लिनिकल स्टडी के परिणामों में पाया गया कि एक, तीन या छह ग्राम हर दिन दालचीनी खाने से मध्यम आयु वर्ग के 60 डाइबिटीज रोगियों में 40 दिनों के बाद सीरम ग्लूकोज, ट्राइग्लिसराइड, एलडीएल या बैड कोलेस्ट्रोल और टोटल कोलेस्ट्रॉल कम पाया गया.


टाइप 2 डायबिटीज के लक्षण (Type 2 Diabetes Symptoms)

1. बार-बार पेशाब लगना.
2. प्यास लगना.
3. थकान महसूस करना.
4. बिना मेहनत किए ही वजन कम होना.
5. घाव का देर से भरना.

abtupkp
Cinnamon For Diabetes: ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने के लिए दालचीनी है फायदेमंद! 

डाइट में शामिल करें दालचीनी कंट्रोल रहेगा डायबिटीज!

अपने आहार को संतुलित कर आप रक्त शर्करा यानी ब्लड शुगर लेवल को मैनेज कर सकते हैं. कुछ खाद्य पदार्थ ऐसे होते हैं, जो इंसुलिन संवेदनशीलता को बढ़ाने और ब्लड प्रेशर में भोजन के अवशोषण की दर को धीमा करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं. कई अध्ययनों से पता चला है कि दालचीनी ब्लड शुगर कम करने वाले गुणों से भरी होती है. ऐसे में टाइप 2 डायबिटीज से ग्रस्त लोगों को दालचीनी को जरूर अपने भोजन में शामिल करने की सलाह दी जा सकती है. 


ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करना जरूरी

टाइप 2 डायबिटीज होने पर जरूरी है ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल में रखना. अगर आप ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल में नहीं रखेंगे, तो सेहत के लिए खतरनाक साबित हो सकता है. ब्लड शुगर लेवल बढ़ने से हार्ट डिजीज और स्ट्रोक जैसी समस्याएं हो सकती हैं. ऐसे में जरूरी है कि ब्लड शुगर लेवल पर नजर रखें.

दालचीनी के और कई फायदे | Benefits Of Cinnamon

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

1. अपच, पेटदर्द और सीने में जलन महसूस होने पर आप दालचीनी, सौन्ठ, जीरा और इलायची सम मात्रा में लेकर पीसकर गरम पानी के साथ ले सकते हैं.
2. दालचीनी, काली मिर्च पावडर और शहद आदि मिलाकर भोजन के बाद लेने से पेट सही रह सकता है.
3. दालचीनी से जी मचलना, उल्टी और जुलाब रुकते है.
4. कब्ज और गैस की समस्या कम करने के लिए दालचीनी के पत्तों का चूर्ण और काढा बना कर लिया जा सकता है.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.