Yoga For Diabetes: ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने के लिए कारगर हैं ये 5 योगासन, घर बैठे कंट्रोल होगा डायबिटीज!

Effective Yoga For Diabetes: इस लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान जब घर से निकलना मना है. ऐसे में न तो आप सैर कर सकते हैं और न चल फिर सकते हैं. ऐसे में ब्लड शुगर लेवल को मैनेज (Manage Blood Sugar Level) करने के लिए योग (Yoga) काफी फायदेमंद हो सकता है. डायबिटीज कंट्रोल करने के लिए कई योगासन हैं जिनका नियमित अभ्यास किया जाए तो यह आपको इस परेशानी से राहत दिला सकते हैं.

Yoga For Diabetes: ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने के लिए कारगर हैं ये 5 योगासन, घर बैठे कंट्रोल होगा डायबिटीज!

Yoga And Diabetes: डायबिटीज कंट्रोल करने के साथ पेट के लिए फायदेमंद हैं ये योगासन

खास बातें

  • डायबिटीज के साथ ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल कर सकते हैं ये योगासन.
  • यहां जानें डायबिटीज कंट्रोल करने के लिए योगासन करने का सही तरीका.
  • 5 आसान योगासन का घर बैठे करें अभ्यास कंट्रोल में रहेगा डायबिटीज.

Best Yogasan For Diabetes: योगा ब्लड शुगर लेवल (Blood Sugar Level) को कंट्रोल में रख सकता है. रोजाना योग करने न सिर्फ डायबिटीज को कंट्रोल किया जा सकता है बल्कि कई बीमारियों को दूर रखा जा सकता है. डायबिटीज रोगियों के लिए योगासन (Yogasan For Diabetes Patients) काफी फायदेमंद हो सकते है. खासकर इस लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान जब घर से निकलना मना है. ऐसे में न तो आप सैर कर सकते हैं और न चल फिर सकते हैं. ऐसे में ब्लड शुगर लेवल को मैनेज (Manage Blood Sugar Level) करने के लिए योग काफी फायदेमंद हो सकते हैं. डायबिटीज कंट्रोल करने के लिए कई योगासन हैं जिनका नियमित अभ्यास किया जाए तो यह आपको इस परेशान से राहत दिला सकते हैं. ब्लड शुगर (Blood Sugar) हमारे खानपान के अलावा हमारी शारीरिक क्रियाओं पर भी निर्भर करता है. अगर रोजाना एक्सरसाइज या योग करते हैं तो हमारा ब्लड शुगर लेवन भी कंट्रोल में रहता है वहीं अगर हम शारीरिक रूप से एक्टिव नहीं तो इससे न सिर्फ मोटापा बढ़ सकता है बल्कि ब्लड शुगर लेवल भी अनकंट्रोल हो सकता है. योग तनाव को दूर करने में भी फायदेमंद माना जाता है. डायबिटीज (Diabetes) के सबसे बड़े कारणों में से एक है तनाव, इससे शरीर में ग्लुकागोन (Glucagon) का स्राव बढ़ ससकता है और ग्लुकागोन ऐसा हार्मोंन है, जो ब्लड शुगर लेवल को बढ़ा सकता है. यहां कुछ योगासन (Yogasan) बताए गए हैं जो डायबिटीज में काफी फायदेमंद हो सकते हैं...

ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल करने के लिए योगासन | Yogasana tTo Control Blood Sugar Level

1. पवनमुक्तासन

इस योगासन को डायबिटीज में ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल में रखने के लिए कारगर माना जाता है. यह आसन डायबिटीज के रोगियों के साथ-साथ गैस की समस्या , कब्ज बवासीर से परेशान लोगों के लिए भी लाभकारी हो सकता है. इस योगासन के अभ्यास से शरीर से विषाक्त पदार्थों और गैस को बाहर निकालने में मदद मिल सकती है. 

pawanmuktasanaYoga For Diabetes: डायबिटीज में ब्लड शुगर को कंट्रोल में रखना जरूरी होता है 

योगासन करने का तरीका

- अपनी पीठ के बल जमीन पर सीधे लेट जाएं. 
- धीरे-धीरे सांस लें. 
- अपने पैरों को एक साथ उठाएं और पैर के घुटनों को मोड़ें. 
- अपने पैर के घुटनों को छाती की तरफ अपने मुंह के पास लाएं और पैरों को अपने हाथों की उगंलियों से जकड़ लें. 
- आपकी जांघें आपके पेट को छूना चाहिए और आपके पैर के घुटने आपकी नाक को छुएं ऐसा प्रयास करें.

2. नौकासन

योगासन डायबिटीज को कंट्रोल करने का नेचुरल उपाय हो सकते हैं. नौकासन का रोजाना अभ्यास करने से भी ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल में रखा जा सकता है. डायबिटीज के लिए नौकासन काफी फायदेमंद माना जाता है. 

naukasanaYoga And Diabetes: नौकासन का अभ्यास आपको डायबिटीज कंट्रोल करने में मदद कर सकता हैै

योगासन करने का तरीका

- अपनी एड़ियों और पंजों को आपस में मिलाएं.
- दोनों हाथ कमर के साथ सटे हों और हथेलियां जमीन की ओर हों. 
- अब अपने दोनों पैर, हाथ और गर्दन को सामांतर ऊपर की तरफ उठाएं, ताकि शरीर का पूरा भार आपके नितंभों पर आ जाए.
- इस स्थिति में करीब 30 सेकंड रहें. फिर धीरे-धीरे सांस लेते हुए सामान्य अवस्था में आ जाएं.

3. उत्तानपादासन

इन आसनों को आप घर पर आराम से कर सकते हैं. उत्तानपादासन भी डायबिटीज में ब्लड शुगर लेवल को मैनेज करने के लिए असरदार माना जाता है. डायबिटीज को कंट्रोल करने के लिए इस आसन का रोजाना अभ्यास करें. 

uttanpadasanaDiabetes And Yoga : इस आसन से भी डायबिटीज को घर बैठे कंट्रोल करने में मदद मिल सकती है 

योगासन करने का तरीका

- बैठकर पैरों को आगे की तरफ फैलाएं. 
- तलवों को आगे की ओर तानें. 
- फिर चार-पांच बार गहरी सांस लेकर आसन लगाए हुए ही पीठ के बल लेट जाएं.
- सांस छोड़ते हुए गर्दन को ऊपर की ओर उठाएं. 
- अंत में, हाथों के सहारे सिर के ऊपरी हिस्से को जमीन पर टिकाएं.
- इस अवस्था में कमर को जमीन से जितना संभव हो, ऊपर की तरफ उठाएं.
- हथेलियां पैरों के समानान्त रहें. सांस छोड़ते हुए धीरे-धीरे गर्दन को सीधा कर शवासन में आ जाएं. 

4. वज्रासन

यह आसन सबसे आसन है. वज्रासन न सिर्फ डायबिटीज के लिए फायदेममंद हो सकता है बल्कि यह मानसिक शान्ति देने के साथ पाचन तंत्र को ठीक रखने में भ मदद कर सकता है. यही एक आसन है, जिसे भोजन के बाद भी कर सकते हैं. वज्रासन एक ऐसा योगाभ्यास है जिसे डायबिटीज के मरीजों के लिए काफी अच्छा माना जाता है. 

vajrasanaYoga And Diabetes: वज्रासन सबसे आसान योगासन है और डायबिटीज के लिए असरदार भी

योगासन करने का तरीका

- इस आसन को करने के लिए दोनों पैरों को आपस में मिलाकर सीधा फैलाकर बैठ जाएं.
- बाएं पैर को घुटने से मोड़कर पंजे को बाएं नितम्ब के नीचे इस प्रकार लगाएं कि पैर का तलवा ऊपर की ओर ही रहे.
- इसी प्रकार, दाएं पैर को घुटने से मोड़कर पंजे को दाएं नितम्ब के नीचे इस प्रकार लगाएं कि पैर का तलवा ऊपर की ओर रहे.
- इस स्थिति में दोनों पैरों के अंगूठे पास-पास रहेंगे तथा एडियां बाहर की ओर रहेंगी, जिससे दोनों एडियों के बीच में आराम से बैठ सकें.
- दोनों पैरों के घुटने मिलाकर, हाथों को घुटनों के ऊपर रख दें.
- इस स्थिति में सिर एवं रीढ़ स्तम्भ सीधा रहना चाहिए. अपनी आंखें बंद करें और एक गति में गहरी सांस लें.

5. मंडूकासन

डायबिटीज को कंट्रोल करने के लिए मंडूकासन सबसे बेहतर माना जाता है. जब हम मंडूकासन करते हैं, तो शरीर की आकृति मेंढक जैसी हो जाती है इसलिए इस आसन का नाम मंडूकासन पड़ा है. यह पेट के लिए भी लाभयादायक हो सकता है इस आसन से अग्नयाशय सक्रिय होता है जिसके कारण डायबिटीज के रोगियों को इससे लाभ मिल सकता है. 

yogaDiabetes And Yoga: ब्लड शुगर लेवल को रखना है कंट्रोल तो करें मंडूकासन 
Newsbeep

योगासन करने का तरीका

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


- इस आसन के लिए वज्रासन में बैठ जाएं. 
- अब दोनों हाथों की मुठ्ठी बंद कर लें. 
- मुठ्ठी बंद करते समय अंगूठे को उंगुलियों से अंदर दबाएं.
- दोनों मुठ्ठियों को नाभि के दोनों ओर लगाकर सांस बाहर निकालते हुए सामने झुकते हुए ठुड्डी को जमीन पर टिका दें.
- थोड़ी देर इसी स्थिति में रहने के बाद वापस वज्रासन में आ जाए.
- आसन करते वक्त ध्यान रखें की दोनों हाथों की मुट्ठियां अच्छी तरह से नाभि के आस-पास टिकी हो.