NDTV Khabar

7वें वेतन आयोग की सिफारिशों के बाद सरकार ने राजनयिकों और SPG का 'वर्दी' भत्ता बढ़ाया

सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पूर्व प्रधानमंत्रियों और उनके परिवारों की सुरक्षा में लगे राजनयिकों और विशिष्ट विशेष रक्षा समूह (एसपीजी) अधिकारियों को मिलने वाला वर्दी भत्ता बढ़ा दिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
7वें वेतन आयोग की सिफारिशों के बाद सरकार ने राजनयिकों और SPG का 'वर्दी' भत्ता बढ़ाया

सातवें वेतन आयोग की सिफारिश के बाद यह कदम उठाया गया है.

खास बातें

  1. SPG अधिकारियों को प्रति वर्ष ऑपरेशनल ड्यूटी के दौरान 27,800 रुपये मिलेंगे
  2. SPG को नॉन-ऑपरेशनल कार्यों के दौरान 21,225 रुपये बतौर वर्दी भत्ता मिलेंगे
  3. पहले अधिकारियों को 9,000 रुपये वार्षिक वर्दी भत्ता के रूप में मिलते थे
नई दिल्ली: सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पूर्व प्रधानमंत्रियों और उनके परिवारों की सुरक्षा में लगे राजनयिकों और विशिष्ट विशेष रक्षा समूह (एसपीजी) अधिकारियों को मिलने वाला वर्दी भत्ता बढ़ा दिया है. सातवें वेतन आयोग की सिफारिश के बाद यह कदम उठाया गया है. आधिकारिक आदेश के अनुसार एसपीजी अधिकारियों को प्रति वर्ष ऑपरेशनल ड्यूटी के दौरान 27,800 रुपये और नॉन-ऑपरेशनल कार्यों के दौरान 21,225 रुपये बतौर वर्दी भत्ता मिलेंगे.

टिप्पणियां
यह भी पढ़ें : सोनिया गांधी की सुरक्षा करने वाला SPG कमांडो 5 दिन से था लापता, अचानक घर पहुंचा

पैनल की सिफारिशें लागू होने से पहले अधिकारियों को 9,000 रुपये वार्षिक वर्दी भत्ता के रूप में मिलते थे. एसपीजी पीएम मोदी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी आदि को सुरक्षा प्रदान करता है. वेतन आयोग ने सालाना 10,000 रुपये वर्दी भत्ता देने की सिफारिश की थी.

VIDEO: नए नियमों की तैयारी में एसपीजी, पीएम के चंडीगढ़ दौरे के बाद उठे थे सवाल
वित्त सचिव अशोक लवासा की अध्यक्षता में भत्ते पर गठित एक समिति ने आयोग की रिपोर्ट का निरीक्षण किया था. बहरहाल, 7वें वेतन आयोग ने सरकार द्वारा कर्मचारियों को विभिन्न श्रेणियों में दिए जाने 196 भत्तों का निरीक्षण किया था.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement