NDTV Khabar

धारा 370 खत्म होने के बाद जम्मू-कश्मीर में आतंकियों और पाक की तरफ से खतरा, सेना सतर्क

सेना के सूत्रों के मुताबिक राज्य में विरोध प्रदर्शनों के नाम पर हालात बिगड़ने की आशंका, 15 अगस्त से पहले आतंकी बड़ी वारदात की फिराक में

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
धारा 370 खत्म होने के बाद जम्मू-कश्मीर में आतंकियों और पाक की तरफ से खतरा, सेना सतर्क

जम्मू-कश्मीर में आतंकी हरकतों की आशंका के मद्देनजर सेना मुस्तैद है.

खास बातें

  1. जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों के एक गुट ने की घुसपैठ
  2. 30-31 जुलाई को भारत में दाखिल हुए हैं आतंकवादी
  3. सेना आतंकवाद निरोधक ऑपरेशन में जुटी
नई दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर में धारा 35 ए और धारा 370 को खत्म किए जाने पर आतंकियों और पाकिस्तान की तरफ से बदले की कार्रवाई की आशंका बरकरार है. साथ ही राज्य में विरोध प्रदर्शनों के नाम पर हालात बिगड़ने की आशंका भी बनी हुई है. सूत्रों के मुताबिक इस बारे में ठोस इनपुट मिले हैं कि 15 अगस्त से पहले आतंकी IED ब्लास्ट, फिदायीन हमला और निशाना बनाकर आतंकी हमले जैसी कार्रवाई को अंजाम दे सकते हैं. सूत्रों के अनुसार जैश-ए-मोहम्मद के करीब पांच आतंकियों का एक गुट इस तरह की कार्रवाई को अंजाम देने के लिए 30-31 जुलाई को भारत में दाखिल हुआ है.

अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा पर फिलहाल पाकिस्तान की तरफ से कोई बड़ी कार्रवाई या संघर्ष विराम उल्लंघन नहीं किया गया है लेकिन बीते एक हफ्ते के दौरान आतंकी गतिविधियों में इजाफा हुआ है. 23 जुलाई के बाद से एलओसी पर आतंकी लांच पैड पर हथियारबंद आतंकियों की गतिविधियां बढ़ी हैं. किसी भी हालत से निपटने के लिए जम्मू-कश्मीर में सेना के फॉरमेशंस को अलर्ट रखा गया है.


कांग्रेस के इस राज्यसभा सांसद ने धारा 370 पर नेहरू के विचार बताए और पार्टी छोड़ दी

सेना के सूत्रों के मुताबिक सेना की भूमिका केवल आतंकवाद निरोधक ऑपरेशन में बनी रहेगी. जबकि कानून-व्यवस्था को संभालने का काम केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के जिम्मे है. हालांकि जरूरत पड़ने पर यदि तैनाती की ज़रूरत होती है तो उसे पूरा किया जाएगा.

जम्मू-कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बाटंने वाला बिल राज्यसभा से पास- पक्ष में 121, विरोध में 61 वोट पड़े

6u820mig

ताज़ा घटनाक्रम के मद्देनजर कोई अतिरिक्त तैनाती नहीं की गई है. सेना के सूत्रों ने यह भी कहा है कि इसके लागू होने से फिलहाल जम्मू-कश्मीर में जारी आतंकी घटनाओं में कोई खास असर नहीं पड़ेगा.

VIDEO : जम्मू-कश्मीर के विकास में बाधक बनी रही धारा 370

टिप्पणियां



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement