NDTV Khabar

डीजल गाड़ियों के धुएं से भारत में हो रही हैं सबसे ज्यादा मौतें

अध्ययन से वैश्विक, क्षेत्रीय और स्थानीय स्वास्थ्य प्रभावों की सर्वाधिक विस्तृत तस्वीर मुहैया हुई. परिवहन से प्रति एक लाख आबादी पर लंदन और पेरिस में हुई मौतें वैश्विक औसत से दो - तीन गुना अधिक है. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
डीजल गाड़ियों के धुएं से भारत में हो रही हैं सबसे ज्यादा मौतें

भारत में वायु प्रदूषण से होने वाली ज्यादातर मौतें डीजल वाहनों के धुएं से 

वाशिंगटन:

भारत में वायु प्रदूषण से होने वाली करीब दो - तिहाई मौतें डीजल वाहनों के धुएं से हो सकती हैं. वर्ष 2015 में वैश्विक स्तर पर लगभग 385,000 मौतों की वजह यही रही. एक अध्ययन में यह दावा किया गया है. 

इंटरनेशनल काउंसिल ऑन क्लीन ट्रांसपोर्टेशन (आईसीसीटी), जार्ज वाशिंगटन यूनीवर्सिटी और कोलोरैडो यूनीवर्सिटी के शोधार्थियों ने इस सिलसिले में 2010 से 2015 तक वैश्विक, क्षेत्रीय, राष्ट्रीय और स्थानीय स्तर पर अध्ययन किया.

अध्ययन से वैश्विक, क्षेत्रीय और स्थानीय स्वास्थ्य प्रभावों की सर्वाधिक विस्तृत तस्वीर मुहैया हुई. परिवहन से प्रति एक लाख आबादी पर लंदन और पेरिस में हुई मौतें वैश्विक औसत से दो - तीन गुना अधिक है. 

इस मंदिर में प्रसाद में बंटती है 'मटन बिरयानी', हर साल जमकर खाते हैं हजारों लोग


इनपुट - भाषा

टिप्पणियां

VIDEO: मुकाबला : डीजल गाड़ियों पर बैन से सुलझेगी प्रदूषण की समस्या?


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement