गुपकर गठबंधन मामले में अमित शाह का कांग्रेस पर हमला, पूछा- क्‍या सोनिया जी और राहुल जी गुपकर गैंग की..

कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद के बाद आज मंगलवार को केंद्रीय गृह मंत्री और वरिष्‍ठ बीजेपी नेता अमित शाह (Amit Shah) ने गुपकर गठबंधन मुद्दे पर कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधा.

खास बातें

  • अमित शाह ने इस मसले पर किए हैं ट्वीट
  • पूछा, क्‍या सोनिया-राहुल गुपकर गैंग की चालों का समर्थन करते हैं
  • उन्‍हें देश के लोगों के समक्ष अपना रुख साफ करना चाहिए
नई दिल्‍ली:

जम्मू-कश्मीर प्रदेश कांग्रेस समिति (JKPCC) के गुपकर घोषणापत्र गठबंधन (People's Alliance for Gupkar Declaration) में शामिल होने को लेकर बीजेपी हमलावर मूड में है. कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद के बाद आज मंगलवार को केंद्रीय गृह मंत्री और वरिष्‍ठ बीजेपी नेता अमित शाह (Amit Shah) ने इस मुद्दे पर कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधा. शाह ने अपने ट्वीट में लिखा, 'गुपकर गैंग वैश्विक (ग्‍लोबल) हो रहा है. वे चाहते हैं कि विदेशी सेना जम्‍मू-कश्‍मीर में हस्‍तक्षेप करे. गुपकर गैंग, भारत के तिरंगे का भी अपमान करता है. क्‍या सोनिया जी और राहुल जी गुपकर गैंग की ऐसी चालों का समर्थन करते हैं. उन्‍हें भारत के लोगों के समक्ष अपना रुख स्‍पष्‍ट करना चाहिए.

"देश को साफ-साफ बताएं": रविशंकर प्रसाद ने जम्मू-कश्मीर को लेकर कांग्रेस पर दागे सवाल

Newsbeep

उन्‍होंने एक अन्‍य ट्वीट में लिखा, कांग्रेस और गुपकर गैंग जम्‍मू-कश्‍मीर को आतंकवाद और अशांति के युग में वापस लेन जाना चाहते हैं. वे अनुच्‍छेद 370 को हटाकर दलितों, महिलाओं और आदिवासियों के अधिकार छीनना चाहते हैं. इसी कारण उन्‍हें हर जगह लोगों द्वारा अस्‍वीकार किया जा रहा है.' उन्‍होंने लिखा, ' जम्‍मू-कश्‍मीर हमेशा भारत का अभिन्‍न अंग रहा है और आगे भी रहेगा. भारतीय अपने राष्‍ट्रीय हित के खिलाफ अपवित्र गठबंधन को बर्दाश्‍त नहीं करेंगे.गुपकर गैंग'' या तो राष्ट्रीय भावना के अनुरूप चले नहीं तो देश की जनता उसे डूबो देगी.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


गौरतलब है कि इससे पहले केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने सोमवार को इस मसले पर कांग्रेस पर हमला बोला था. उन्होंने पूछा था कि क्या कांग्रेस जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370(Article 370) की बहाली का समर्थन करती है और क्या वह नेशनल कान्फ्रेंस नेता फारूक अब्दुल्ला और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) के बयानों का समर्थन करती है. प्रसाद ने कहा था-हमने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख (Ladakh) में केंद्रीय कानूनों को लागू कराया है. वे जम्मू-कश्मीर में भ्रष्टाचार रोकथाम कानून समेत अन्य कानून लागू नहीं होने देना चाहते, ताकि उनका भ्रष्टाचार जारी रह सके. जो व्यक्ति मुख्यमंत्री रहा हो, वो कह रहा है कि अनुच्छेद 370 की बहाली के लिए वे चीन की मदद भी लेंगे. यह राष्ट्र विरोधी गतिविधि है.