NDTV Khabar

अमित शाह की आज दिल्ली में कनॉट प्लेस से सीपीएम दफ्तर तक जनरक्षा पदयात्रा

केरल में भाजपा एवं संघ परिवार के कार्यकर्ताओं पर लगातार हो रहे हिंसक हमलों के विरोध में मार्च

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अमित शाह की आज दिल्ली में कनॉट प्लेस से सीपीएम दफ्तर तक जनरक्षा पदयात्रा

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह दिल्ली में रविवार को जनरक्षा पदयात्रा निकालेंगे.

खास बातें

  1. शाह शहीदों को श्रद्धांजलि देकर प्रारंभ करेंगे पदयात्रा
  2. भाजपा के कई पदाधिकारी भी पदयात्रा में शामिल होंगे
  3. पार्टी के कार्यकर्ता 16 अक्टूबर तक हर दिन निकालेंगे पदयात्रा
नई दिल्ली:

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह केरल में भाजपा एवं संघ परिवार के कार्यकर्ताओं पर लगातार हो रहे हिंसक हमलों के खिलाफ आज नई दिल्ली में पालिका बाजार, कनॉट प्लेस से सीपीएम कार्यालय तक जनरक्षा पदयात्रा का नेतृत्व करेंगे.
 
शाह सुबह 11 बजे पालिका बाजार, कनॉट प्लेस पहुंचेंगे जहां वे शहीदों के चित्रों पर पुष्प अर्पित करके उन्हें श्रद्धांजलि देंगे. अमित शाह के नेतृत्व में पदयात्रा सुबह 11:40 बजे शुरू होगी और बाबा खड़ग सिंह मार्ग, गोल डाक खाना, भाई वीर सिंह मार्ग होते हुए गोल मार्केट स्थित सीपीएम कार्यालय पर समाप्त होगी. जनरक्षा यात्रा में भाजपा के कई राष्ट्रीय पदाधिकारी एवं दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष भी भाग लेंगे.  
 
यह भी पढ़ें : बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह केरल में 15 दिन तक पदयात्रा करेंगे

गौरतलब है कि केरल में राजनीतिक हिंसा के विरोध में अमित शाह ने 3 अक्टूबर को टाउन स्क्वायर, पयान्नूर से जनरक्षा यात्रा शुरू की थी जो कि 17 अक्टूबर को तिरुअनंतपुरम में समाप्त होगी. केरल में जनरक्षा यात्रा के तहत हर दिन भाजपा के कोई-न-कोई मुख्यमंत्री, केंद्रीय मंत्री और संगठन के पदाधिकारी केरल के भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ कम्युनिस्ट हिंसा के खिलाफ जनता को जागृत कर रहे हैं.


टिप्पणियां

VIDEO : गुजरात गौरव यात्रा

पंद्रह दिनों के इस कार्यक्रम के दौरान हर राज्य की राजधानी में भी कम-से-कम एक दिन के लिए जनरक्षा पदयात्रा निकालना सुनिश्चित हुआ है ताकि देश को लेफ्ट गठबंधन की राजनीतिक हिंसा की नीति के खिलाफ जागृत किया जाए. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में जनरक्षा यात्रा 4 अक्टूबर को शुरू हुई थी. पार्टी के कार्यकर्ता 16 अक्टूबर तक हर दिन पदयात्रा निकालेंगे और सीपीएम कार्यालय के बाहर धरना देंगे.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement