"सशक्त, साहसी और संकल्पबद्ध" : सेना दिवस पर PM मोदी ने जवानों की वीरता को किया सलाम

सेना दिवस के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के जवानों को सलाम करते हुए भारतीय सेना को बधाई दी है. उन्होंने कहा कि हमारी सेना ने हमेशा देश का सिर गर्व से ऊंचा किया है.

Army Day: समस्त देशवासियों की ओर से भारतीय सेना को मेरा नमन : प्रधानमंत्री मोदी (फाइल फोटो)

खास बातें

  • आज है 73वां सेना दिवस
  • सेना ने हमेशा देश का सिर गर्व से ऊंचा किया : प्रधानमंत्री
  • समस्त देशवासियों की ओर से भारतीय सेना को मेरा नमन: PM मोदी
नई दिल्ली:

आज देश में सेना दिवस (Army Day) मनाया जा रहा है. इस साल भारत का 73वां सेना दिवस है. इस अवसर पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ram Nath Kovind), प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) समेत कई दिग्गजों ने देशवासियों की तरफ से भारतीय सेना (Indian Army) को बधाई देते हुए जवानों को सलाम किया. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि समस्त देशवासियों की ओर से भारतीय सेना को मेरा नमन. हमारी सेना ने हमेशा देश का सिर गर्व से ऊंचा किया है.

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट में लिखा, "मां भारती की रक्षा में पल-पल मुस्तैद देश के पराक्रमी सैनिकों और उनके परिजनों को सेना दिवस की हार्दिक बधाई. हमारी सेना सशक्त, साहसी और संकल्पबद्ध है, जिसने हमेशा देश का सिर गर्व से ऊंचा किया है. समस्त देशवासियों की ओर से भारतीय सेना को मेरा नमन."

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा, "सेना दिवस पर, भारतीय सेना के वीर पुरुषों और महिलाओं को बधाई. हम उन बहादुरों को नमन करते हैं जिन्होंने राष्ट्र की सेवा में सर्वोच्च बलिदान दिया. भारत हमेशा साहसी और प्रतिबद्ध सैनिकों, पूर्व सैनिकों और उनके परिवारों के लिए आभारी रहेगा. जय हिंद!"

थल सेनाध्यक्ष जनरल एम एम नरवणे ने भी सेना दिवस के मौके पर सभी सैनिकों, असैनिक कर्मियों, भूतपूर्व सैनिकों और उनके परिवारों को 73 वें सेना दिवस पर शुभकामनाएं दीं.

क्यों मनाया जाता है सेना दिवस? 


हर साल 15 जनवरी को सेना दिवस (Army Day 2021) मनाया जाता है. इस साल भारत का 73वां सेना दिवस मनाया जा रहा है. यह दिन सैन्य परेडों, सैन्य प्रदर्शनियों व अन्य कार्यक्रमों के साथ नई दिल्ली व सभी सेना मुख्यालयों में मनाया जाता है. सेना दिवस के मौके पर पूरा देश थल सेना की वीरता, अदम्य साहस, शौर्य और कुर्बानी को नमन करता है. फील्ड मार्शल केएम करियप्पा के सम्मान में सेना दिवस मनाया जाता है. साल 1949 में आज ही के दिन भारत के अंतिम ब्रिटिश कमांडर-इन-चीफ जनरल फ्रांसिस बुचर की जगह तत्कालीन लेफ्टिनेंट जनरल के एम करियप्पा ने ली थी. करियप्पा ने 1947 में भारत-पाक के बीच हुए युद्ध में भारतीय सेना की कमान संभाली थी.

वीडियो: परेड के लिए आए 150 सैनिक कोरोना संक्रमित

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com