अरविंद केजरीवाल ने पूछा- आर्थिक मंदी के समय नागरिकता कानून में संशोधन की क्या जरूरत थी?

बवाल को देखते हुए जामिया मिल्लिया इस्लामिया और उत्तर प्रदेश में अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी को 5 जनवरी तक बंद कर दिया गया है. सभी छात्रों को घर भेज दिया गया है. 

अरविंद केजरीवाल ने पूछा- आर्थिक मंदी के समय नागरिकता कानून में संशोधन की क्या जरूरत थी?

अरविंद केजरीवाल ने अमित शाह से मुलाकात का समय मांगा है.

खास बातें

  • कहा- केंद्र को करना चाहिए विचार
  • दिल्ली में रविवार को छात्रों और पुलिस के बीच हुई जबरदस्त भिड़ंत
  • जामिया में छात्रों के खिलाफ पुलिस ने की बर्बर कार्रवाई
नई दिल्ली:

नागरिकता (संशोधन) कानून (Citizenship Act) के खिलाफ देशव्यापी विरोध के मद्देनजर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने सोमवार को यह जानना चाहा कि जब देश आर्थिक मंदी और बेरोजगारी जैसे समस्याओं का सामना कर रहा है, तब यह नया कानून लाने की क्या जरूरत थी. उन्होंने एक कार्यक्रम में कहा कि छात्र देश भर में इस संशोधित कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं. केंद्र को उनकी मांगों पर विचार करना चाहिए. उन्होंने कहा कि यह संशोधित कानून खतरनाक है. उन्होंने कहा, ‘‘हमने इसका विरोध किया था और संसद में इसके खिलाफ मतदान किया था ... मैं पूछना चाहता हूं कि इस समय इसे लाने की क्या जरूरत थी, जब देश में कई अन्य महत्वपूर्ण मुद्दे सामने हैं.''

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने पीएम नरेंद्र मोदी से की मांग, कहा- जल्द वापस लें विवादित नागरिकता कानून

इससे पहले जामिया मिल्लिया में नागरिकता संशोधन के दौरान हुए विरोध प्रदर्शन में  छात्र और पुलिस में झड़प की घटनाओं पर उन्होंने चिंता जताई थी. उन्होंने ट्वीट कर इस मामले को लेकर गृहमंत्री अमित शाह से मिलने के लिए समय की मांग की थी. 

जामिया हिंसा: कुमार विश्वास ने AAP पर साधा निशाना- दिल्ली को आग में झोंकने वाले वक़्त तेरा हिसाब करेगा

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बता दें दिल्ली में रविवार को नागरिकता कानून को लेकर जामिया के छात्रों और पुलिस वालों के बीच जमकर झड़प हुई. इस दौरान पुलिस ने छात्रों पर लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले बरसाए. कई छात्र घायल हुए हैं. पुलिसकर्मियों को भी चोटें आईं हैं. फिलहाल बवाल को देखते हुए जामिया मिल्लिया इस्लामिया और उत्तर प्रदेश में अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी को 5 जनवरी तक बंद कर दिया गया है. सभी छात्रों को घर भेज दिया गया है. 

VIDEO: सुप्रीम कोर्ट पहुंचा जामिया हिंसा मामला, कल होगी सुनवाई  



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)