NDTV Khabar

गौ रक्षकों के समर्थन में आए योग गुरु रामदेव, कहा- प्रशासन की विफलता की वजह से सड़क पर उतरते हैं ये

बाबा रामदेव ने गायों को अवैध रूप से कटवाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
गौ रक्षकों के समर्थन में आए योग गुरु रामदेव, कहा- प्रशासन की विफलता की वजह से सड़क पर उतरते हैं ये

बाबा रामदेव ने गौ रक्षकों के समर्थन में कही यह बात

खास बातें

  1. बाबा रामदेव ने कहा गौ मांस बेचने वालों पर भी कार्रवाई
  2. जयपुर में एक कार्यक्रम के दौरान बोल रहे थे बाबा रामदेव
  3. पुलिस और प्रशासन पर भी बरसे बाबा रामदेव
नई दिल्ली: गौ रक्षकों द्वारा की जाने वाली घटनाओं का योग गुरु बाबा रामदेव ने समर्थन किया है. रविवार को जयपुर में उन्होंने कहा कि गौ तस्करों को रोकने के लिए किसी न किसी तो आगे आना था. जब पुलिस और प्रशासन ऐसा कर पाने में असफल रही तभी गौ रक्षकों को सड़कों पर उतरना पड़ता है. हालांकि बाबा रामदेव ने गायों को अवैध रूप से कटवाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की. उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि कुछ गौ रक्षक ज्यादती कर देते हैं जिनके चलते 90 प्रतिशत गौरक्षकों की छवि धूमिल होती है. रामदेव ने कहा कि गौ हत्यारों के खिलाफ कोई नहीं बोलता है. और इसी वजह से गौ हत्यारों को प्रोत्साहन मिल रहा है. यह एक बड़ा सवाल है कि ऐसे लोगों को कौन प्रोत्साहन दे रहा है, मुझे लगता है यह कतई नहीं होना चाहिए. यदि किसी ने कत्लखाने का लाइसेंस भी ले रखा है, और उनका परिवहन कर रहा है तो हम इसके पक्षधर नहीं है.

यह भी पढ़ें: रुचि सोया के अधिग्रहण से पीछे नहीं हटेगी पतंजलि

पूर्ण रूप से गौ हत्या रोकने की पैरवी करते हुए बाबा रामदेव ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जैसे राष्ट्रभक्त और गौ भक्त देश में और कौन होगा. उन्हें केन्द्र में पूर्ण गौहत्या रोकने का कानून बनाना चाहिए. ताकि हम गौ माता को कत्लखानों में जाने से रोक सकें. हालांकि उन्होंने कहा कि चार सालों में केन्द्र ने अभी तक कानून नहीं बनाया है और हम ऐसा कानून बनने की उम्मीद लगाये बैठै हैं. देश में घुसपैठियों के एक अन्य प्रश्न के जवाब में कहा कि एक भी आदमी अवैध तरीके से भारत में नहीं रहना चाहिए चाहे वह बांग्लादेशी, पाकिस्तानी या फिर अमेरिका का क्यों न हो. भारत में करीब तीन से चार करोड़ लोग अवैध रूप से रह रहे हैं. ऐसे लोग कितनी बड़ी हानि देश की अंखडता, एकता और सम्प्रभुता के लिये कर सकते हैं जिसका अंदाजा भी नहीं लगाया जा सकता.

यह भी पढ़ें: पतंजलि ने रुचि सोया के लिए अडानी की बोली पर जताई आपत्ति

टिप्पणियां

गौरतलब है कि यह कोई पहला मौका नहीं जब रामदेव ने ऐसा बयान दिया हो. इससे पहले मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में बाबा रामदेव ने एक बड़ा बयान दिया था. चुनावी राज्य मध्य प्रदेश में बाबा रामदेव ने कहा था कि पूरे देश में बेरोजगारी एक बड़ा सवाल बन गया है. एक निजी कार्यक्रम में शामिल होने आए बाबा रामदेव ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकारों को मिलकर उस दिशा में जितने काम करने चाहिए, उतनी नहीं कर पा रही हैं. बता दें कि इस साल के अंत में मध्य प्रदेश में चुनाव होने हैं. उन्होंने कहा कि हमने एक महीने में सेल्स विभाग में 11 हजार लोगों को नौकरियां दीं. आने वाले 6 से 7 महीने में 20 हजार लोगों को नौकरियां देंगे.

VIDEO: अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर रामदेव ने कराया योग.

आगे उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में 1500 लोगों को हमने नौकरियां दी हैं. इसलिए यहां आया हूं. बाबा रामदेव ने कहा था कि हमारा संकल्प है कि बेरोजगारी, भूख और अभाव भारत माता के माथे पर कलंक है. इन्हें हमको मिटाना है. (इनपुट भाषा से) 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement