NDTV Khabar

बालाकोट में कितने आतंकी मरे? विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह बोले- मच्छर मारकर गिनने बैठूं या आराम से सो जाऊं

VK Singh On Air Strike: ऑपरेशन बालाकोट में मारे गए आतंकियों की संख्या पर जारी खींचतान के बीच विदेश राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह ने रोचक अंदाज में सवाल करने वालों को जवाब दिया है. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बालाकोट में कितने आतंकी मरे? विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह बोले- मच्छर मारकर गिनने बैठूं या आराम से सो जाऊं

VK Singh On Air Strike: बालाकोट एयर स्ट्राइक पर बोले विदेश राज्य मंंत्री वीके सिंह

खास बातें

  1. जनरल वीके सिंह ने आतंकियों को मच्छर बताया.
  2. उन्होंने कहा कि मच्छर मारने के बाद आराम से सोया जाए या गिनती की जाए.
  3. बालाकोट में करीब 300 आतंकियों के मारे जाने की खबर है.
नई दिल्ली:

VK Singh On Air Strike:​ पुलवामा आतंकी हमलेके बाद पाकिस्तानकी सरजमीं पर भारत द्वारा किये गए एयर स्ट्राइक में मारे गए आतंकियों की संख्या पर सरकार और विपक्ष आमने-सामने है. कांग्रेस समेत कई विपक्षी पार्टियां सरकार से यह सवाल कर रही है कि बालाकोट में जैश के आतंकी कैंप पर भारतीय वायुसेना (IAF Air Strike) द्वारा किए गए एयर स्ट्राइक में कितने आतंकवादी मारे गए. वहीं सरकार और वायुसेना की ओर से कहा जा रहा है कि उनका काम सिर्फ हमला करने का था, आतंकियों के शव गिनने का नहीं. मारे गए आतंकियों की संख्या पर जारी खींचतान के बीच विदेश राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह (V K Singh) ने रोचक अंदाज में सवाल करने वालों को जवाब दिया है. 

मोदी जी, आपमें साहस है तो मुझ पर केस कराएं: पुलवामा पर ट्वीट के बाद हुए विवाद पर दिग्विजय सिंह बोले


जनरल वीके सिंह बुधवार की सुबह एक रोचक ट्वीट किया और उसमें उन्होंने आतंकियों को मच्छर बताया है. उनके ट्वीट के मुताबिक, उनका कहना है कि सुबह करीब साढ़े तीन बजे मच्छर बहुत थे, इसलिए उन्होंने मारा. उनका काम सिर्फ मच्छर मारना था तो वो मार कर सो गए. उनका कहना है कि मच्छर मारने के बाद उन्हें सोना चाहिए या मच्छर गिनने चाहिए. आगे उन्होंने हैशटैग लगाया है, जिसका अर्थ है सामान्य लहजे में कहा गया है. 

ऑपरेशन बालाकोट: BJP नेता बोले- 'पाकिस्तान की जरूरत नहीं, देश को नुकसान पहुंचाने के लिए ममता बनर्जी ही काफी'
 
जनरल वीके सिंह ट्वीट किया है-

उधर राजनाथ सिंह ने एक अलग अंदाज में जवाब दिया कि बालाकोट में क्या 300 मोबाइल फोन पेड़ चला रहे थे? राजनाथ सिंह ने कहा, ‘एनटीआरओ की प्रमाणिक प्रणाली है जो कहती है कि (बालाकोट स्थल पर) 300 मोबाइल फोन सक्रिय थे. क्या ये मोबाइल फोन पेड़ उपयोग कर रहे थे? अब क्या आप (विपक्ष) एनटीआरओ पर भी यकीन नहीं करेंगे? राजनाथ सिंह ने दावा किया कि राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी शोध संगठन (एनटीआरओ) प्रणाली ने बताया है कि भारत के हवाई हमले से पहले स्थल पर करीब 300 मोबाइल फोन सक्रिय थे. विपक्ष पर हवाई हमले को लेकर राजनीति करने का आरोप लगाते हुए गृह मंत्री ने कहा कि अगर कांग्रेस यह जानना चाहती है कि कितने आतंकवादी मारे गए हैं तो वह पाकिस्तान जाकर शवों को गिन सकती है.    

आखिर क्या हुआ था बालाकोट में? भारत के दावे को साबित कर सकती हैं सैटेलाइट से मिली अप्रकाशित तस्‍वीरें

टिप्पणियां

वहीं, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने मंगलवार को भाजपा पर पाकिस्तान के बालाकोट में भारतीय वायु सेना के हवाई हमले का राजनीतिकरण करने का आरोप लगाया और कहा कि हताहतों की संख्या को लेकर सिर्फ कयासबाजियां हो रही है लेकिन उस पर कोई पुष्टि नहीं कर रहा है. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रमुख अमित शाह ने रविवार को अहमदाबाद में एक कार्यक्रम में दावा किया था कि भारतीय वायु सेना के अभियान में 250 आतंकवादी मारे गए. इस पर चिदंबरम ने कहा कि कांग्रेस सशस्त्र बलों पर सवाल नहीं उठा रही है बल्कि इस मुद्दे का ‘‘राजनीतिकरण'' करने के लिए सत्तारूढ़ भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सवाल उठा रही है.

VIDEO- हमारा मकसद मरने वालों की गिनती करना नहीं होता- IAF चीफ



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement