शिवानंद तिवारी का PM-CM पर हमला, नरेंद्र मोदी से युवा पूछें 2 करोड़ सालाना नौकरी देने पर सवाल

तिवारी ने लिखा है, "सबसे ज्यादा गरीब और बेरोजगार  बिहार में बसते हैं. बिहार को जानबूझकर उपनिवेश बना कर रखा गया है.अगर बिहार भी  महाराष्ट्र  गुजरात  या पंजाब-हरियाणा की तरह समृद्ध होता तो उन राज्यों को सस्ते में बिहारी मजदूर कैसे मिलते!

शिवानंद तिवारी का PM-CM पर हमला, नरेंद्र मोदी से युवा पूछें 2 करोड़ सालाना नौकरी देने पर सवाल

राजद के वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी ने नौकरी के वादे पर पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम नीतीश कुमार, दोनों पर हमला बोला है.

नई दिल्ली:

राजद के वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी ने फेसबुक पर एक पोस्ट लिखकर उन लोगों पर निशाना साधा है, जो तेजस्वी यादव के 10 लाख लोगों को सरकारी नौकरी देने के वादे पर सवाल उठा रहे हैं. उन्होंने लिखा है, "जिन लोगों ने नरेंद्र मोदी जी के प्रति वर्ष 2 करोड़ युवाओं को रोजगार देने के वायदे पर कभी सवाल नहीं उठाया आज वही लोग तेजस्वी के 10 लाख युवाओं को नौकरी देने के वादे पर सवाल उठा रहे हैं.  प्रधानमंत्री जी की इस यात्रा में बिहार के नौजवानों को 2 करोड़ रोजगार देने वाले उनके वादे पर सवाल पूछना चाहिए."

तिवारी ने लिखा है, "सबसे ज्यादा गरीब और बेरोजगार  बिहार में बसते हैं. बिहार को जानबूझकर उपनिवेश बना कर रखा गया है.अगर बिहार भी  महाराष्ट्र  गुजरात  या पंजाब-हरियाणा की तरह समृद्ध होता तो उन राज्यों को सस्ते में बिहारी मजदूर कैसे मिलते! पंद्रह वर्षों से बिहार पर शासन कर रहे मुख्यमंत्री जी को अब बिहार को आत्मनिर्भर बनाने का ख्याल आ रहा है."

बिहार चुनाव में नीतीश पर हमलों के बीच चिराग पासवान ने अमित शाह को बताया अभिभावक

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार काफी करीबी रहे शिवानंद तिवारी ने उन पर निशाना साधते हुए लिखा है, "पिछले विधानसभा के चुनाव में महागठबंधन के नेता के रुप में नीतीश जी ने भारतीय जनता पार्टी को भारतीय जुमला पार्टी कहा था. अब स्पष्ट हो गया है कि संगति के प्रभाव में नीतीश जी को अब बिहार को आत्मनिर्भर बनाने का ख्याल आ रहा है. अभी उन्होंने कहा था कि बिहार समुद्र तट पर नहीं है. इसलिए पिछड़ा गया है. अगले पांच वर्षों में नीतीश जी क्या बिहार को समुद्र तट पर पहुँचा देंगे या समुद्र को ही खींच कर बिहार के किनारे ले आ देंगे!"

बिहार चुनाव : BJP ने किया 19 लाख नौकरियों, हर बिहारवासी को फ्री कोरोना वैक्सीन का वादा

उन्होंने एनडीए के नेताओं को चेतावनी देने के अंदाज में लिखा है, "बातों की खेती करने वाले इन दोनों नेताओं को बिहार के युवा अच्छी तरह पहचान गए हैं. अब इनके किसी भी वादे पर अतीत में किए गए इनके कामों की कसौटी पर ही परखेंगे." बता दें कि नीतीश कुमार ने दो दिन पहले तेजस्वी के वादे पर तीखा तंज किया था और कहा था कि 10 लाख लोगों को नौकरी देने के लिए पैसे कहां से लाएंगे? क्या ये पैसा जेल से आएगा?

Newsbeep

वीडियो: BJP छोड़ LJP में शामिल हुए राजेंद्र सिंह, बोले- विचारधारा से समझौता नहीं

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com