लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बनाने की घोषणा के बाद BJP कार्यकर्ताओं ने कुछ यूं मनाया जश्न, देखें VIDEO

सरकार ने जम्मू-कश्मीर को दो हिस्सों में बांटने का ऐलान भी किया. इसके अनुसार जम्मू कश्मीर और लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बनाया जाएगा. सरकार के इस फैसले के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं ने जमकर जश्न मनाया.

लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बनाने की घोषणा के बाद BJP कार्यकर्ताओं ने कुछ यूं मनाया जश्न, देखें VIDEO

सरकार ने लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बनाने की घोषणा की.

खास बातें

  • सरकार ने जम्मू कश्मीर को दो हिस्सों में बांटा
  • जम्मू कश्मीर और लद्दाख बनेंगे केंद्र शासित प्रदेश
  • जम्मू कश्मीर को दिया गया विशेष राज्य का दर्जा खत्म
नई दिल्ली:

मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से धारा 370 (Article 370) हटाने का ऐलान कर दिया. इसके साथ ही जम्मू-कश्मीर को मिला विशेष राज्य का दर्जा खत्म हो गया. वहीं सरकार ने जम्मू-कश्मीर को दो हिस्सों में बांटने का ऐलान भी किया. इसके अनुसार जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) और लद्दाख (Ladakh) को केंद्र शासित प्रदेश बनाया जाएगा. सरकार के इस फैसले को बीजेपी और उसके सहयोगियों के अलावा कुछ विपक्षी पार्टियों ने भी समर्थन किया है. वहीं, इसके बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं ने फैसले का जमकर जश्न मनाया. लेह में बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने सड़कों पर उतरकर खूब डांस किया.

बता दें कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद अब देश में कुल 9 केंद्र शासित प्रदेश हो गए हैं. जम्मू-कश्मीर से लद्दाख (Ladakh) के अगल होने पर कई बदलाव देखने को मिलेंगे. जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) का क्षेत्रफल, आबादी और वहां के नियम कानून सब बदल जाएगा. 2011 की जनगणना के मुताबिक जम्मू-कश्मीर (लद्दाख को मिलाकर) की जनसंख्या 12,541,302 (1 करोड़ 25 लाख 41 हजार 302)  है. लेकिन लद्दाख के अलग होने के बाद अब जम्मू-कश्मीर की जनसंख्या 12,267,013 (1 करोड़ 22 लाख 67 हजार 13) हो जाएगी. साथ ही इसके क्षेत्रफल में भी बदलाव होगा. जम्मू-कश्मीर का क्षेत्रफल (लद्दाख को मिलाकर) 222,236 किलोमीटर स्क्वायर है, लेकिन लद्दाख को हटाकर अब जम्मू-कश्मीर का क्षेत्रफल 163,040 किलोमीटर स्क्वायर हो जाएगा.

eilm5us

यह भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर से अलग हुआ लद्दाख, अब धरती के स्वर्ग में होंगे ये बड़े बदलाव

अब जम्मू-कश्मीर (Jammu Kasmir) में देश के अन्य राज्यों के लोग भी जमीन लेकर बस सकेंगे. साथ ही अब कश्मीर का अब अलग झंडा नहीं होगा यानी कि वहां भी अब तिरंगा लहराएगा. जम्मू-कश्मीर में स्थानीय लोगों की दोहरी नागरिकता समाप्त हो जाएगी. जम्मू-कश्मीर की लड़कियों को अब दूसरे राज्य के लोगों से भी शादी करने की स्वतंत्रता होगी और दूसरे राज्य के पुरुष से शादी करने पर उनकी नागरिकता खत्म नहीं होगी.

यह भी पढ़ें: जम्‍मू-कश्‍मीर से अलग होकर देश का नया केंद्र शासित प्रदेश बना लद्दाख, जानिए इसके बारे में

जम्मू-कश्मीर एक मुस्लिम बहुल राज्य है, लेकिन इसके भागों जम्मू और कश्मीर में काफी विवधता है. कश्मीर की ज्यादा आबादी मुस्लिम है. वहीं, जम्मू की आबादी 65 प्रतिशत हिंदू और 30 प्रतिशत मुस्लिम है. कश्मीर घाटी में जल की बहुलता है. अनेक नदी नालों और सरोवरों के अतिरिक्त कई झीलें हैं. वुलर मीठे पानी की भारतवर्ष में विशालतम झील है. डल झील कश्मीर के मुख्य आकर्षणों में से एक है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

यह भी पढ़ें: क्‍या है धारा 370? जानिए इसके बारे में सबकुछ

VIDEO: जम्मू-कश्मीर और लद्दाख होंगे नए केंद्र शासित प्रदेश​