NDTV Khabar

चिन्मयानंद पर रेप का आरोप लगाने वाली लड़की ने किया खुलासा, घर पास में होने पर भी क्यों रहती थी हॉस्टल में?

चिन्मयानंद (Chinmayanand) मामले में एसआईटी ने शाहजहांपुर में पीड़ित लड़की के हॉस्टल का मुआयना किया, साक्ष्य एकत्रित किए

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. कहा- पहले नौकरी दी, फिर काम इतना दे दिया कि हॉस्टल में रहना पड़ा
  2. एसआईटी ने करीब पांच घंटे छात्रा के कमरे का बारीकी से निरीक्षण किया
  3. अब तक चिन्मयानंद से पूछताछ नहीं हुई, सरकार बोलने से बच रही
लखनऊ:

बीजेपी नेता और पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री स्वामी चिन्मयानंद (Chinmayanand) पर रेप का आरोप लगाने वाली लड़की ने घर पास में होने के बावजूद हॉस्टल में रहने के पीछे कारणों का खुलासा किया है. उसने बताया कि वह एलएलएम में एडमीशन लेने के लिए गई था लेकिन चिन्मयानंद ने उसे नौकरी दे दी. नौकरी में काम का ज्यादा बोझ होने के कारण उसे हॉस्टल में रहना पड़ा जहां उसके साथ गलत हुआ. मंगलवार को पुलिस की एसआईटी ने लड़की के शाहजहांपुर में स्थित हॉस्टल के कमरे में रेप के सबूत तलाशे.

स्वामी चिन्मयानंद (Chinmayanand) मामले में विशेष जांच दल (एसआईटी) ने पीड़ित लड़की के हॉस्टल का कमरा देखा और साक्ष्य जुटाए. एसआईटी दोपहर में कॉलेज परिसर पहुंची. टीम ने करीब पांच घंटे तक छात्रा के कमरे का बारीकी से निरीक्षण किया. टीम के साथ फॉरेंसिक विशेषज्ञ भी मौजूद रहे.पीड़िता जिस कमरे में रहती थी, पुलिस ने उसे सील किया हुआ था. एसआईटी ने उसकी सील तोड़ कर मौका मुआयना किया.


स्वामी शुकदेवानंद विधि महाविद्यालय के प्रधानाचार्य संजय बरनवाल ने बताया कि छात्रा हॉस्टल के कमरे में अकेली रहती थी. सूत्रों के मुताबिक स्वामी चिन्मयानंद कॉलेज परिसर में बने अपने आवास दिव्य धाम में मंगलवार को मौजूद नहीं थे.

चिन्मयानंद मामले में कांग्रेस का सत्ताधारी पार्टी पर हमला, कहा- BJP के DNA में शामिल है ‘अपराधियों से प्रेम'

लड़की ने कल एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि उसके हॉस्टल के कमरे में रेप के सबूत हैं. 'कमरा खुलवाएं, मैं सबूत दूंगी. लड़की चिन्मायानंद पर रेप की एफआईआर करने की मांग कर रही है.'

एसआईटी की आधा दर्जन गाड़ियां आज अचानक चिन्मयानंद (Chinmayanand) के लॉ कॉलेज के हॉस्टल पहुंचीं. उनके साथ रेप का इल्ज़ाम लगाने वाली लड़की और उसके पिता भी थे. लड़की ने कल प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि रेप के सबूत उसके हॉस्टल के कमरे में हैं. आरोप लगाने वाली लड़की ने कहा था कि एविडेंस सही समय आने पर दे दिए जाएंगे, मेरे पास सब सुरक्षित हैं, हॉस्टल के रूम में. मेरा हॉस्टल का रूम खुलवाया जाए.

छोटी सी पेन-ड्राइव चिन्मयानंद के लिए बन सकती है 'बड़ी-मुसीबत', जानें पूरा मामला

एसआईटी की टीम मंगलवार को सारे दिन उसके हॉस्टल के कमरे की छानबीन करती रही. उसके साथ आए फोरेंसिक एक्सपर्टों ने वहां से बहुत सारे नमूने उठाए. लड़की का घर हॉस्टल से बहुत पास है. वह कहती है कि चिन्मयानंद और कॉलेज के प्रिंसिपल के कहने पर वह हॉस्टल में रहने लगी थी.

आरोप लगाने वाली लड़की से जब पूछा गया कि कॉलेज और आपके घर के बीच में बहुत कम दूरी है, फिर हॉस्टल में रहने की क्या वजह थी? इस पर उसने जवाब दिया कि 'स्वामी जी ने खुद कहा था. ऐसा हुआ मैं वहां पर जॉब करने नहीं गई थी. मैं वहां पर एलएलएम में एडमीशन लेने के लिए गई थी, तो स्वामी जी ने जॉब का ऑफर दिया था. फिर उन्हीं के कहने पर...या जो भी है...प्रिंसिपल मेरे ऊपर एडमिनिस्ट्रेशन का काम ज़्यादा डालने लगे थे. तो उनके बहुत अधिक दबाव पर मैंने वहां हॉस्टल में रूम लेकर डाल दिया था. बाइ चांस मुझे रुकना पड़ा. उसके बाद मेरे साथ बहुत गलत हुआ है वहां पर.'

पूर्व BJP सांसद चिन्मयानंद की बढ़ीं मुश्किलें, अब छात्रा ने रेप का आरोप लगाया, दिल्ली पुलिस ने दर्ज की शिकायत

लड़की अब प्रेस कॉन्फ्रेंस कर चिन्मयानंद (Chinmayanand) पर रेप का इल्ज़ाम लगा रही है और उन पर रेप की एफआईआर करने की मांग कर रही है. लेकिन अभी तक चिन्मयानंद से पूछताछ भी नहीं हुई है. सरकार इस पर बोलने से बचती है.

यूपी सरकार के मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि 'जांच चल रही है और उसकी कानूनी प्रक्रिया चल रही है. एफआईआर दर्ज हो चुकी है. सुप्रीम कोर्ट ने उसका संज्ञान लिया है. कानूनी कार्यवाही जब चलती है तो उस पर टिप्पणी नहीं करना चाहिए.'

VIDEO : पीड़ित छात्रा ने चिन्मयानंद पर लगाए आरोप

टिप्पणियां


(इनपुट भाषा से भी)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement