Delhi Violence: अंकित शर्मा की मौत पर बोले कपिल मिश्रा, अगर ताहिर हुसैन की कॉल डिटेल्स...

Delhi Violence: उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा से पहले नफरत भरे भाषण देने के आरोपी बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने ताहिर हुसैन मामले पर आक्रामक रुख अख्तियार कर लिया है.

Delhi Violence: अंकित शर्मा की मौत पर बोले कपिल मिश्रा, अगर ताहिर हुसैन की कॉल डिटेल्स...

Delhi Violence: कपिल मिश्रा ने ताहिर हुसैन के साथ अरविंद केजरीवाल और संजय सिंह पर भी उठाए सवाल

नई दिल्ली:

Delhi Violence: उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा से पहले नफरत भरे भाषण देने के आरोपी बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने ताहिर हुसैन मामले पर आक्रामक रुख अख्तियार कर लिया है. कपिल मिश्रा ने ताहिर हुसैन के साथ अरविंद केजरीवाल और संजय सिंह पर भी हिंसा भड़काने का आरोप लगाते हुए ट्वीट किया कि डंके की चोट पर कह रहा हूं. अगर दंगों के दिनों की ताहिर हुसैन के कॉल्स की डिटेल्स खुल गई तो दंगों में और अंकित शर्मा की हत्या में संजय सिंह और अरविंद केजरीवाल की भूमिका सामने आ जाएगी.

उत्तर पूर्व दिल्ली में पिछले 36 घंटे में कोई बड़ी घटना सामने नहीं आई :गृह मंत्रालय

कपिल मिश्रा ने कहा कि CAA विरोधियों से सड़क जाम खत्म करने की अपील को लेकर उनसे सवाल तो किया जा रहा है लेकिन जिन्होंने देश को बांटने की बात कही, उनसे सवाल नहीं पूछे जा रहे हैं. पिछले सप्ताह संशोधित नागरिकता कानून के विरोधियों को सड़क से हटाने की बात करने वाले अपने भड़काऊ बयान को लेकर सुर्खियों में आये मिश्रा ने यहां जंतर मंतर से लेकर पुलिस मुख्यालय तक शांति मार्च निकालने के दौरान यह टिप्पणी की. इस कार्यक्रम के दौरान एक टीवी चैनल के पत्रकार के साथ उनके समर्थकों ने कथित रूप से धक्का मुक्की की. 

Delhi Violence: दंगों में अपनों को खोने वाले अब उनके शव न मिलने से परेशान

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

हाल में दिल्ली में बीजेपी के टिकट पर विधानसभा चुनाव हार गये आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता ने संशोधित नागरिकता कानून के विरोध में हुए प्रदर्शन को उत्तर पूर्वी दिल्ली की हिंसा के लिए जिम्मेदार ठहराया.  मिश्रा ने कहा, "हम यहां पुलिसकर्मी रतन लाल , खुफिया ब्यूरो के कर्मचारी अंकित शर्मा और जिहादी हिंसा की भेंट चढ़े अन्य लोगों को श्रद्धांजलि देने यहां आये हैं." उन्होंने कहा, "हम 70 से अधिक दिनों से अशालीन प्रदर्शन देख रहे हैं जिसमें कुछ बड़े नेता और तथाकथित कार्यकर्ता शामिल हैं. यह प्रदर्शन पुलिस और रक्षाबलों के खिलाफ भावनाएं भड़का रहा है. CAA विरोध के नाम पर हिंसा, जो दिल्ली और देश के अन्य हिस्सों में फैली, खत्म होनी चाहिए, क्योंकि यह काफी दूर तक चली गयी है." 

Video: BJP के सहयोगी दलों ने दोषियों पर कार्रवाई की मांग की