महाराष्ट्र के CM देवेंद्र फडणवीस का बड़ा बयान, कहा- शिवसेना के साथ गठबंधन के बाद हमारी सरकार....

देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि सरकार बनाने से जुड़ी प्रक्रिया की शुरुआत दीवाली के बाद से की जाएगी. जनता जो जनादेश दिया है वह बीजेपी-शिवसेना गठबंधन के पक्ष में है.

महाराष्ट्र के CM देवेंद्र फडणवीस का बड़ा बयान, कहा- शिवसेना के साथ गठबंधन के बाद हमारी सरकार....

देवेंद्र फडणवीस ने गठबंधन को लेकर दिया बड़ा बयान

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र के सीएम के तौर पर शपथ लेने से ठीक पहले BJP नेता देवेंद्र फडणवीस ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने शिवसेना के साथ बीजेपी के गठबंधन के बाद हम राज्य में एक मजबूत और स्थाई सरकार देने जा रहे हैं.  उन्होंने यह बात पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए की. देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि सरकार बनाने से जुड़ी प्रक्रिया की शुरुआत दीवाली के बाद से की जाएगी. जनता जो जनादेश दिया है वह बीजेपी-शिवसेना गठबंधन के पक्ष में है. और हम आने वाले दिनों में राज्य में एक स्थाई और मजबूत सरकार देने जा रहे हैं. देवेंद्र फडणवीस का यह बयान उस समय आया है जब शिवसेना ने राज्य में बीजेपी शिवसेना गठबंधन की सरकार बनाने से पहले 50-50 फॉर्मूले पर लिखित में देने की बात कही है. कुछ दिन पहले शिवसेना ने अपने सभी विधायकों के साथ बैठक करने के बाद यह बात कही थी. 

बीजेपी जब तक 50-50 फॉर्मूले पर लिखित में नहीं देगी, शिवसेना सरकार में शामिल नहीं होगी

विधायक दल की बैठक में फैसला लिया गया था कि पहले बीजेपी लिखित में दे कि वह ढाई-ढाई साल मुख्यमंत्री वाले यानी 50-50 वाले फॉर्मूले पर राजी है.  शिवसेना विधायक रमेश लटके मीटिंग खत्म होने के बाद कि सारे अधिकार उद्धव जी को दिये गए हैं. जो वो कहेंगे वही होगा. वहीं एक और शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक ने कहा था कि  बीजेपी जब तक लिखित में नही देगी तब तक शिवसेना सरकार में शामिल नहीं होगी. जो तय हुआ है 50 - 50 फार्मूला उसके तहत ढाई ढाई साल का मुख्यमंत्री होना चाहिए.  महाराष्ट्र के ज़्यादातर शिव सेना विधायक चाहते हैं कि  इस बार शिव सेना को मुख्यमंत्री का पद दिया जाये और यह पद आदित्य ठाकरे को मिले. इन विधायकों का का कहना है कि उनके पास नई सोच है. विधानसभा चुनावों में शिवसेना को 56 सीटें मिलीं हैं.  

बाघ के पंजे में कमल और गले में बंधी घड़ी : शिवसेना ने BJP को दिया एक संदेश, मान जाओ नहीं तो...

Newsbeep

आपको बता दें कि बीजेपी को पिछले बार की तुलना में करीब 20 सीटें कम आई हैं और वह उसको सरकार बनाने के लिए किसी तीसरे की हर हाल में समर्थन की जरूरत पड़ेगी. शिवसेना इसी बात का फायदा उठाना चाहती है क्योंकि पिछली बार के चुनाव में बीजेपी ने अकेले चुनाव लड़ा था और सरकार पर पूरी तरह से कब्जा कर लिया. लेकिन इस बार हालात बदल गए हैं. यही वजह है कि शिवसेना नेता संजय राउत ने बाघ (शिवसेना का चिन्ह) का एक कॉर्टून ट्टिटर पर शेयर किया है, जिसके गले में घड़ी (एनसीपी का चुनाव चिन्ह) और हाथ में कमल का फूल (बीजेपी का चुनाव चिन्ह) है. महाराष्ट्र में एक और चर्चा यह भी है कि एनसीपी शिवसेना का समर्थन कर सकती है.  

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के घर मातोश्री में बैठक​



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)