फेसबुक विवाद : आंखी दास के खिलाफ पत्रकार ने कराया केस दर्ज, इसी पत्रकार पर लगा था धमकी देने का आरोप

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में भारत में फेसबुक की पब्लिक पॉसिली डायरेक्टर आंखी दास के खिसाफ FIR दर्ज कराई गई है.

रायपुर:

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में फेसबुक इंडिया (Facbook) की पब्लिक पॉसिली डायरेक्टर आंखी दास(Aankhi Das) के खिसाफ FIR दर्ज कराई गई है. यह शिकायत पत्रकार आवेश तिवारी (Journalist Aawesh Tiwari) की शिकायत पर दर्ज कराई गई है. पत्रकार आवेश तिवारी के खिलाफ भी आंखी दास की तरफ से शिकायत दर्ज कराई गई थी. बता दें कि फेसबुक इंडिया (Facebook India) की सीनियर अधिकारी आंखी दास ने दिल्ली पुलिस के पास एक शिकायत दर्ज करा कर यह आरोप लगाया है कि उन्हें जान से मारने की धमकी मिल रही है.

'फेसबुक और नफरत फैलाने वाले भाषण' : इस बड़े विवाद की 10 अहम बातें

इस सारे प्रकरण के पीछे फेसबुक का ताजा विवाद (Facebook Controversy) है. बताते चलें कि अमेरिकी अखबार 'वॉल स्ट्रीट जर्नल' में छपे एक लेख में कहा गया है कि भारत में सत्ताधारी पार्टी बीजेपी के नेताओं और कार्यकर्ताओं के हेट स्पीच और आपत्तिजनक सामग्री को लेकर फेसबुक "कोताही बरतता" है. लेख में फेसबुक के एक अधिकारी के हवाले से यह भी कहा गया है कि बीजेपी कार्यकर्ताओं को दंडित करने से "भारत में कंपनी के कारोबार पर असर पड़ेगा." लेख में कहा गया है कि फेसबुक ने बीजेपी को लेकर व्यापक पैमाने पर अनुचित तरजीही दी है.

Newsbeep

देश में इस विषय पर राजनीतिक बयानबाजी तेज होने के बाद फेसबुक की तरफ से भी सफाई पेश की गई.  फेसबुक ने अपने स्पष्टीकरण में कहा है कि उसकी पॉलिसी कोई पार्टी नहीं देखती है. उन्होंने कहा कि 'कंपनी अपनी पॉलिसी बिना किसी पार्टी या राजनीति देखे लागू करती है.' कंपनी की एक प्रवक्ता की ओर से कहा गया, 'हम हेट स्पीच और हिंसा भड़काने वाले कंटेंट पर रोक लगाते हैं और हम अपनी नीतियां बिना किसी की पार्टी या फिर राजनीतिक संबंध या पोजीशन देखे लागू करते हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Video:'फेसबुक और व्हॉट्सएप पर BJP-RSS का कंट्रोल'