शाहीनबाग में चल रहे प्रदर्शन के खिलाफ बीजेपी के पूर्व विधायक ने SC में दाखिल की याचिका

दिल्ली के शाहीनबाग में नागरिकता कानून को लेकर चल रहे प्रदर्शन के खिलाफ बीजेपी के पूर्व विधायक नंद किशोर गर्ग ने, सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की है.

शाहीनबाग में चल रहे प्रदर्शन के खिलाफ बीजेपी के पूर्व विधायक ने SC में दाखिल की याचिका

बीजेपी के पूर्व विधायक SC ने दाखिल की याचिका

खास बातें

  • बीजेपी के पूर्व विधायक ने दाखिल की याचिका
  • कालिंदी कुंज और शाहीनबाग का रास्ता खुलवाने की मांग
  • सार्वजनिक स्थलों पर धरना प्रदर्शन को प्रतिबंधित करने की मांग
नई दिल्ली:

दिल्ली के शाहीनबाग में नागरिकता कानून को लेकर चल रहे प्रदर्शन के खिलाफ बीजेपी के पूर्व विधायक नंद किशोर गर्ग ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की है. याचिका में मांग की गई है कि शाहीनबाग मैं प्रदर्शनकारियों को हटाया जाए ताकि कालिंदी कुंज और शाहीनबाग का रास्ता फिर से खुल सके. याचिका में अदालत से अपील की गई है कि अदालत केंद्र सरकार और संबंधित विभाग को रास्ता खाली करवाने का आदेश दे. साथ ही सार्वजनिक स्थलों पर धरना प्रदर्शन को प्रतिबंधित करने की भी मांग की गयी है और अदालत से इस मुद्दे पर केंद्र सरकार से गाइडलाइन बनाने के लिए भी आदेश देने का अनुरोध किया गया है. बीजेपी नेता की तरफ से दायर याचिका में कहा गया है कि लंबे समय से जारी धरने के कारण लोगों को बेहद परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. 

CM योगी का निशाना: पाकिस्तानी मंत्री को पता है केजरीवाल ही शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों को बिरयानी खिला सकता है

गौरतलब है कि संशोधित नागरिकता कानून (CAA) के खिलाफ डेढ़ महीने से ज्यादा समय से चले आ रहे शाहीन बाग धरना प्रदर्शन (Shaheen Bagh CAA Protest) पर दिल्ली पुलिस के कमिश्नर अमूल्य पटनायक (Amulya Patnaik) ने भी रविवार को पहली बार चुप्पी तोड़ी थी. उन्होंने मीडिया के जरिए शाहीन बाग में धरने पर बैठे लोगों से कहा था, 'आप लोग मुख्य मार्ग से हट जाएं.' करीब डेढ़ महीने से शाहीन बाग पर चुप्पी साधे हुए पुलिस आयुक्त पटनायक ने कहा था, 'जो लड़का शाहीन बाग में फायरिंग करने आया था, उसमें हिम्मत नहीं थी कि वह कुछ और कर पाता. एक दो घटनाएं घटी हैं, जो अलग हैं.

जामिया में फायरिंग पर बोले BJP सांसद- हमारे कम उम्र के भ्रमित बच्चे चला रहे हैं गोली, विपक्ष ने दे रखी है मुस्लिमों को सुरक्षा

अमूल्य पटनायक ने कहा कि पुलिस ने शाहीन बाग में धरने वाली जगह पर सुरक्षा के पूरे इंतजामात किए हैं.' मीडिया से बातचीत के दौरान पुलिस आयुक्त ने कहा, 'चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से कराने के वास्ते करीब 59 हजार सुरक्षाबल तैनात किए जाएंगे. इसमें करीब 40 हजार दिल्ली पुलिस के अफसर व जवान और करीब 19 हजार होमगार्ड होंगे.'


बता दें कि  स्थानीय लोगों के एक समूह ने नोएडा को कालिंदी कुंज से जोड़ने वाली सड़क से अवरोधक हटाने की मांग को लेकर दिल्ली के शाहीनबाग में CAA विरोधी धरना स्थल के निकट रविवार को प्रदर्शन भी किया था. पुलिस ने बताया था कि प्रदर्शनकारियों ने मांग की कि संशोधित नागरिकता कानून (CAA) के खिलाफ एक महीने से अधिक समय से धरने पर बैठे लोगों को जगह खाली कर देनी चाहिए क्योंकि यात्रियों को कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है. संयुक्त पुलिस आयुक्त (साउथ रेंज) देवेश श्रीवास्तव और पुलिस उपायुक्त (साउथ ईस्ट) चिन्मय बिस्वाल यह सुनिश्चित करने के लिए मौके पर मौजूद हैं कि कोई अप्रिय घटना नहीं हो. इन प्रदर्शनकारियों में महिलाएं भी शामिल हैं. इन लोगों ने मौके पर जमकर नारेबाजी की थी और "जय श्री राम", "वंदे मातरम" और "खाली कराओ शाहीन बाग वालों को" जैसे नारे लगाए थे. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO: दिल्ली के दंगल में उतरीं मायावती, तालकटोरा स्टेडियम में सभा को किया संबोधित