NDTV Khabar

मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने केंद्र को चेताया, जनता के गुस्से का संज्ञान लेने को कहा

नायडू ने बेंगलुरु में द हिंदू समूह के समाचार पत्रों द्वारा आयोजित एक दो दिवसीय शिखर सम्मेलन 'द हडल' में एनडीटीवी से बात की.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने केंद्र को चेताया, जनता के गुस्से का संज्ञान लेने को कहा

मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू

नई दिल्ली: आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने शनिवार को केंद्र से उनके राज्य के साथ किये गए अन्याय के मद्देनजर जनता के गुस्से का संज्ञान लेने को कहा. नायडू ने बेंगलुरु में द हिंदू समूह के समाचार पत्रों द्वारा आयोजित एक दो दिवसीय शिखर सम्मेलन 'द हडल' में एनडीटीवी से बात की. उन्होंने कहा कि साढ़े 4 साल पहले राज्यों का जो बंटवारा हुआ वो सही तरीके से नहीं हुआ और आंध्र प्रदेश के साथ एकतरफा अन्याय हुआ है. जब परिवार में बंटवारा होता है तो कुछ मापदंड होते हैं. यहां तो न्यूनतम मापदंड का पालन भी नहीं हुआ, एक तरफा फायदा दिया गया.

आध्र प्रदेश के साथ एक तरफा अन्याय ही हुआ और हमें नीचा दिखाया गया. मुख्यमंत्री नायडू ने कहा,  मैं 29 बार दिल्ली गया, प्रधानमंत्री और कई मंत्रियों से मिला. मैंने विभाजन को लेकर हाउस में दिए गए भरासे की बात कही. उन्होंने कहा, जो भी वादे किए गए हैं वो पूरे होने चाहिए. 

यह भी पढ़ें : केंद्रीय सहायता के मसले पर चर्चा, बलिदान को तैयार : चंद्रबाबू नायडू

टिप्पणियां
उन्होंने कहा, ‘आंध्र प्रदेश के लोग बेहद भावुक हैं. राज्य के विभाजन से पहले वे कभी आंदोलन करने के लिये सड़कों पर नहीं आए. उन्होंने सोचा कि विभाजन कभी नहीं होगा. लेकिन अचानक से सरकार ने आंध्र प्रदेश के विभाजन की प्रक्रिया शुरू कर दी. तुरंत लोग सड़कों पर आ गए, लेकिन यह टिक नहीं सका.’ हालांकि, उन्होंने कहा कि चुनावों के दौरान 125 साल पुरानी पार्टी जो केंद्र के साथ-साथ आंध्र प्रदेश में सत्ता में थी, वह पूरी तरह से हार गई. नायडू ने कहा, ‘उनकी जमानत भी जब्त हो गई. लोगों ने पार्टी को दंडित किया, जिसने उसके साथ अन्याय किया था.’ 

VIDEO : आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में बेहाल स्वास्थ्य सेवा​
यह पूछे जाने पर कि क्या लोग नाराज हैं, नायडू ने कहा, ‘अगर आप (केंद्र) पहले से ही घायल सैनिक के साथ न्याय नहीं करते हैं, उनके जख्म को हरा करते हैं तो उन्हें और दर्द होगा. लोग इस तरीके से सोच रहे हैं और इसलिए आपको न्याय करना है, निश्चित तौर पर लोग गुस्से में हैं.’ हालांकि, उन्होंने केंद्र में भाजपा नीत राजग सरकार से तेलगू देशम पार्टी के अलग होने की संभावना से इंकार किया. उन्होंने कहा कि अशोक गजपति राजू केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री बने हुए हैं. यह तेदेपा के राजग का हिस्सा होने का सबूत है.
(इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement