NDTV Khabar

करतारपुर कॉरिडोर के शिलान्यास के मौके पर इमरान ने अलापा कश्मीर राग, भारत ने जताई नाराजगी- कही यह बात

सिख समुदाय की 70 सालों से चली आ रही मांग आज अंजाम पर पंहुची, लेकिन पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) के कश्मीर पर दिए गए बयान को लेकर भारत ने कड़ी आपत्ति जताई है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
करतारपुर कॉरिडोर के शिलान्यास के मौके पर इमरान ने अलापा कश्मीर राग, भारत ने जताई नाराजगी- कही यह बात

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कश्मीर के ज़िक्र से भारत नाराज़
  2. 'पाक आतंकवाद पर काबू रखे'
  3. 'कश्मीर भारत का अभिन्न अंग'
नई दिल्ली:

करतारपुर साहिब कॉरिडोर  (Kartarpur Corridor) का शिलान्यास पाकिस्तान में भी हो गया. सिख धर्म के पहले गुरु बाबा नानक देव जी ने अपने जीवन के आखरी 18 साल करतारपुर में गुजारे थे. सिख समुदाय की 70 सालों से चली आ रही मांग आज अंजाम पर पंहुची, लेकिन पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के भाषण पर भारत ने सवाल खड़े किए हैं. भारत के विदेश मंत्रालय की तरफ से कहा गया है कि यह बहुत खेद की बात है कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने करतारपुर कॉरिडोर विकसित करने की सिख समुदाय की अरसे से लंबित मांग को पूरा करने के पवित्र मौक़े पर जम्मू-कश्मीर की अवांछित चर्चा की जो भारत का अखंड और अटूट हिस्सा है. पाकिस्तान को याद रखना चाहिए कि वह अपनी अंतरराष्ट्रीय जवाबदेही पूरी करे और अपनी ज़मीन से सीमा पार आतंकवाद को हर तरह का समर्थन और पनाह देने से बचने की भरोसेमंद कार्रवाई करे. 
 
यह भी पढ़ें:  पाक सरकार और सेना दोनों भारत के साथ सभ्य रिश्ते चाहते हैं, इरादे बड़े हों तो सभी मसले हल हो सकते हैं: इमरान खान

बता दें कि इमरान खान ने करतारपुर कॉरिडोर का शिलान्यास करने के बाद कहा कि कौन सा मसला है जो इन्सान हल नहीं कर सकता. क्या हम एक मसला अपना हल नहीं कर सकते. इरादे वाली लीडरशिप चाहिए बॉर्डर के दोनों तरफ. एक इरादा चाहिए और एक बड़ा ख्वाब चाहिए. इससे पहले पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने पाकिस्तान में करतारपुर कॉरिडोर की आधारशिला रखी.


यह भी पढ़ें:  करतारपुर कॉरिडोर के शिलान्यास पर सिद्धू बोले- मेरे यार, दिलदार इमरान खान का शुक्रिया

टिप्पणियां

इस मौक़े पर भारत की ओर से केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी और हरसिमरत कौर भी मौजूद थे. साथ ही पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू भी वहां थे. करतारपुर में आयोजित समारोह में इमरान ख़ान ने कहा कि इरादा हो तो हर मसला सुलझाया जा सकता है. उन्होंने कहा कि दोनों ऐटमी मुल्क हैं इसलिए जंग नहीं हो सकती. इमरान ने कहा दुशमन रहे जब फ्रांस और जर्मनी साथ आ सकते हैं तो हम क्यों नहीं? 

गुरुनानक देव ने 18 साल यहीं बिताए

  • करतारपुर साहिब सबसे पवित्र स्थलों में एक
  • करतारपुर साहिब को पहला गुरुद्वारा माना जाता है
  • गुरुनानक ने जीवन के आख़िरी 18 साल यहीं बिताए
  • 1539 में गुरुनानक देव ने यहीं आख़िरी सांस ली
  • पाकिस्तान के नारोवाल ज़िले में है गुरुद्वारा
  • भारत की सीमा से सिर्फ़ 3 किलोमीटर दूर
  • रावी नदी के किनारे बसा है करतारपुर साहिब
  • सिख श्रद्धालु अभी दूरबीन से करते हैं दर्शन
  • 3 किमी का होगा कॉरिडोर, भारत सरकार देगी फ़ंड
  • कॉरिडोर से बिना वीज़ा करतापुर साहिब की यात्रा

VIDEO: इमरान खान ने करतारपुर गलियारे की रखी आधारशिला 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement