देश की बड़ी उपलब्धि, एंटी रेडिएशन मिसाइल 'रुद्रम' का सुखोई फाइटर प्‍लेन से सफल परीक्षण

रुद्रम देश की पहली पूरी तरह स्‍वदेशी एंटी रेडिएशन मिसाइल है. एयरफोर्स के लिए इसे डीआरडीओ ने विकसित किया है और सुखाई-30 एमकेएल फाइटर प्‍लेन इसका लांच प्‍लेटफार्म होगा.

देश की बड़ी उपलब्धि, एंटी रेडिएशन मिसाइल 'रुद्रम' का सुखोई फाइटर प्‍लेन से सफल परीक्षण

रुद्रम को डीआरडीओ ने विकसित किया है

खास बातें

  • डीआरडीओ ने किया है इसे डेवलप
  • रक्षा मंत्री ने ट्वीट करके दी बधाई
  • भारत की है पहली स्‍वदेशी एंटी रेडिएशन मिसाइल
नई दिल्ली:

भारत ने शुक्रवार को सुखोई-30 एयरक्राफ्ट से एंटी रेडिएशन मिसाइल (Anti-Radiation Missile) 'रुद्रम' (Rudram)का सफल परीक्षण किया, इस मिसाइल को डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गेनाइजेशन (DRDO) ने विकसित किया है. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने इस सफल परीक्षण के लिए डीआरडीओ के वैज्ञानिकों और प्रोजेक्‍ट से जुड़े अन्‍य लोगों को बधाई दी है.रक्षा मंत्री ने अपने ट्वीट में कहा, 'नई पीढ़ी की एंटी रेडिएशन मिसाइल (रुद्रम-1) जो पूरी तरह भारत की पहली स्‍वदेशी एंटी रेडिएशन मिसाइल है, का आज आईटीआर बालासोर से सफल परीक्षण किया गया. इसे वायुसेना के लिए डीआरडीओ ने विकसित किया है. इस उपलब्धि के लिए डीआडीओ और अन्‍य लोगों को बधाई.'

भारत ने एंटी सबमरीन सुपरसोनिक मिसाइल 'SMART' का किया सफल परीक्षण

आधिकारिक बयान के मुताबिक, रुद्रम देश की पहली पूरी तरह स्‍वदेशी एंटी रेडिएशन मिसाइल है. एयरफोर्स के लिए इसे डीआरडीओ ने विकसित किया है और सुखाई-30 एमकेएल फाइटर प्‍लेन इसका लांच प्‍लेटफार्म होगा. लांचिंग की कंडीशंस के अनुसार, इसकी रेंज को कम किया और बढ़ाया जा सकता है. बयान के अनुसार, यह मिसाइल भारतीय एयरफोर्स के लिए, दुश्‍मन के एयर डिफेंस सिस्‍टम को ध्‍वस्‍त करने में मददगार होगी.रुद्रम मिसाइल किसी भी सिग्‍नल अथवा रेडिएशन को पकड़ सकती है और रडार पर लाकर इसे नष्‍ट करने में सक्षम है.

Newsbeep

सीएजी ने राफेल बनाने वाली कंपनी पर उठाए सवाल

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com




(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)