17 अक्टूबर से फिर दौड़ेगी Tejas Express, कोरोनावायरस से बचाव के लिए किए गए विशेष इंतजाम

IRCTC तेजस एक्सप्रेस को 17 अक्टूबर से चलाने की तैयारी कर रही है. इसके लिए कोविड गाइडलाइंस का पूरा खयाल रखा जाएगा, वहीं रेलवे इन ट्रेनों के लिए विशेष तैयारियां करेगी. 

17 अक्टूबर से फिर दौड़ेगी Tejas Express, कोरोनावायरस से बचाव के लिए किए गए विशेष इंतजाम

दिल्ली-लखनऊ और मुंबई-अहमदाबाद रूट पर फिर शुरू होगी तेजस एक्सप्रेस.

नई दिल्ली:

कोरोनावायरस से फैली कोविड-19 महामारी के चलते लगे लॉकडाउन के बाद से बंद देश की पहली 'कॉरपोरेट ट्रेन' तेजस एक्सप्रेस जल्द ही फिर से पटरियों पर दौड़ने लगेगी. दिल्ली से लखनऊ और मुंबई से अहमदाबाद, इन दो रूट्स पर चलने वाली तेजस एक्सप्रेस का ऑपरेशन देखने वाली IRCTC (Indian Railway Catering and Tourism Corporation) इस ट्रेन को फिर से चलाने की तैयारी कर रही है. 

IRCTC तेजस एक्सप्रेस को 17 अक्टूबर से चलाने की तैयारी कर रही है. इसके लिए कोविड गाइडलाइंस का पूरा खयाल रखा जाएगा, वहीं इन ट्रेनों के लिए विशेष तैयारियां होंगी.

NDTV से खास बातचीत में IRCTC के चेयरमैन एमपी मॉल ने कहा, 'सोशल डिस्टेंसिंग के मानकों का पालन करने के लिए पहले हफ्ते में 50% सीटें भरी जाएंगी. उन्होंने कहा, 'पहले 7 दिन 50 फीसदी सीटें भरी जाएंगी. धीरे-धीरे हम पति-पत्नी को, परिवार को, एक साथ यात्रा करने वाले समूहों को बिठाना शुरू करेंगे. जब उनसे पूछा गया कि तेजस में भी एयरलाइन की तरह कोविड प्रोटोकॉल का पालन किया जाएगा तो उन्होंने कहा, 'हम एयरलाइंस से एक कदम आगे चले गए हैं. एयरलाइंस में सीट नहीं छोड़ी गई है. लेकिन हम 50 फीसदी क्षमता के साथ ट्रेन चलाएंगे.' 

यह तय किया गया है की सभी यात्रियों को एक कोरोना प्रोटेक्शन किट दिया जाएगा. इसमें फेस शील्ड, सैनिटाइजर्स और डिस्पोजेबल ग्लव्स होंगे. सभी पैसेंजर्स की थर्मल स्कैनिंग अनिवार्य होगी. शौचालय, दरवाजों के हैंडल और बाथरूम को हर 15 से 30 मिनट में सैनिटाइज किया जाएगा. यात्रा पूरी होने पर पूरे कोच को सैनिटाइज किया जाएगा. हर लगेज और सामान को भी क्लीन किया जाएगा.

सैनिटाइज़ किया जाएगा. ट्रेन में जो भी सार्वजनिक जगहें होंगी, उनको भी वक्त-वक्त पर सैनिटाइज़ किया जाएगा.

यह भी पढ़ें: यात्रियों से 10-30 रुपये तक यूजर चार्ज वसूलने की तैयारी में रेलवे, AC क्लास के लिए देना होगा ज्यादा शुल्क

बता दें कि तेजस एक्सप्रेस निजी ट्रेन है. अभी यह दो रूट पर चलती है. फरवरी में घोषणा हुई थी कि तीसरी ट्रेन इंदौरा से वाराणसी के बीच शुरू की जाएगी, वहीं, दिल्ली-हरिद्वार-देहरादून मार्ग पर भी तेजस चलाने की बात हुई थी.

रेलवे ने लॉकडाउन के बाद अपनी सर्विस पूरी तरह (यात्री सेवा) बंद कर दी थी, हालांकि प्रवासी मजदूरों के पलायन के बाद देशभर में श्रमिक ट्रेनें चलाई गई थीं. बाद में रेलवे ने कई चरणों में रेलवे की पूरी सुविधाओं और ट्रेनों को चलाने की घोषणा की. 

Newsbeep

Video: हवाई अड्डों की तर्ज पर विकसित होंगे रेलवे स्टेशन, यात्रियों से लिए जाएंगे यूजर्स चार्जेस

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com