NDTV Khabar

झारखंड: सीएम रघुबर दास और हेमंत सोरेन के बीच शुरू हुआ ट्विटर युद्ध, सोरेन बोले- आप मंत्री से मूर्खमंत्री बने

रघुबर के जवाब में विपक्ष और झारखंड मुक्ति मोर्चा के नेता हेमंत सोरेन ने ट्विटर पर उन पर निशाना साधा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
झारखंड: सीएम रघुबर दास और हेमंत सोरेन के बीच शुरू हुआ ट्विटर युद्ध, सोरेन बोले- आप मंत्री से मूर्खमंत्री बने

हेमंत सोरेन

खास बातें

  1. सीएम रघुबर दास और हेमंत सोरेन के बीच शुरू हुआ ट्विटर युद्ध
  2. आपने वो करा जो 14 महीने की मेरी सरकार सोच नहीं सकती थी- सोरेन
  3. 19 में 16 साल आपकी सरकार रही और आप मंत्री से मूर्खमंत्री बने- सोरेन
रांची:

राज्य में मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता रघुबर दास (Raghubar Das) और विपक्ष के उम्मीदवार हेमंत सोरेन (Hemant Soren) के बीच मुकाबला है. रघुवर दास ने ट्विटर पर लिखा, '5 साल में झारखण्ड ने वो सब मुमकिन कर दिखाया है जो जेएमएम और कांग्रेस के राज में नामुमकिन लगता था. झारखण्ड भ्रष्टाचार मुक्त हुआ, घर-घर बिजली पहुंची, महिलाएं सशक्त हुईं, किसानों के घर खुशहाली लौटी. झारखण्ड के विकास के लिए हम यूं ही दिन-रात काम करते रहेंगे.'  इस ट्वीट के बाद रघुवर दास ने हैशटैग के साथ लिखा 'अबकी बार 65 पार.'

झारखंड : भ्रष्टाचार का उजागर करने वाले BJP नेता सरयू राय 'होल्ड' पर, और उसी केस के आरोपी को टिकट

रघुबर के जवाब में विपक्ष और झारखंड मुक्ति मोर्चा के नेता हेमंत सोरेन ने ट्विटर पर ही उन पर निशाना साधा है. हेमंत ने कहा, 'बिल्कुल, आपने वो कर दिखाया जो 14 महीने की मेरी सरकार सोच नहीं सकती थी. जैसे हाथी उड़ा दी आपने. एक भी JPSC नहीं करवा पाए.  कम्बल, डस्टबीन समेत अलकतरा भी लूटा. 65 लोगों की भूख से मौत हुई. युवाओं की आत्महत्या का रिकॉर्ड बना.' 


हेमंत ने कहा, 'आंगनबाड़ी बहनों को बेरहमी से पीटा गया. पारा-शिक्षकों पर गोलियां चलवाईं. बरवाडीह में निहत्थे युवाओं को मारा. 14000 स्कूल बंद कर दारू की दुकान खोली गईं. बिजली की दरें दुगनी कीं पर व्यस्था नहीं सुधरी. आपने राज्य को लिंचिंग पैड बना दिया. आपके और भी कारनामे हैं गिनाने को.'

टिप्पणियां

Jharkhand Assembly Election: कांग्रेस ने जारी की पहली सूची, उरांव लड़ेंगे लोहरदगा से चुनाव

उन्होंने कहा, 'जनता जरूर याद दिलाएगी आपको अगले महीने. 19 में 16 साल आपकी सरकार रही और आप मंत्री से मूर्खमंत्री बने. 5 साल की पूरी सत्ता मिली. आप चाहते तो झारखण्ड की सूरत बदल देते पर आपके पास वो ‘हुनर' नहीं है और ना ही काबिलियत. है तो बस ठसक, घमंड और तानाशाही रवैया.' सोरेन ने हैशटैग के साथ लिखा 'अबकी बार ठगुबर पार'



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement