डोनाल्ड ट्रम्प ने भारत की हवा को बताया खराब, तो कपिल सिब्बल ने PM मोदी पर कसा तंज

कपिल सिब्बल (Kapil Sibal) ने डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) के इस बयान और उनकी भारत से संबंधित कुछ अन्य टिप्पणियों का हवाला देकर पीएम मोदी और सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि यह मित्रता का फल है.

डोनाल्ड ट्रम्प ने भारत की हवा को बताया खराब, तो कपिल सिब्बल ने PM मोदी पर कसा तंज

कपिल सिब्बल ने पीएम मोदी पर तंज कसा. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • डोनाल्ड ट्रम्प ने भारत की हवा को बताया खराब
  • प्रेसिडेंशियल डिबेट में ट्रम्प ने दिया था यह बयान
  • कपिल सिब्बल ने प्रधानमंत्री मोदी पर कसा तंज
नई दिल्ली:

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव से पहले आखिरी प्रेसिडेंशियल डिबेट में डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) ने भारत (India) और रूस (Russia) पर अपनी भड़ास निकालते हुए दावा किया था कि भारत, चीन (China) और रूस में हवा की गुणवत्ता बहुत खराब है. ये देश अपनी हवा का ध्यान नहीं रखते हैं, जबकि अमेरिका हमेशा एयर क्वालिटी का ध्यान रखता है. ट्रम्प ने पेरिस जलवायु समझौते से US के हटने की बात दोहराते हुए कहा कि इसने इसे "गैर-प्रतिस्पर्धी राष्ट्र" बना दिया था. अमेरिकी राष्ट्रपति के इस बयान के बाद कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल (Kapil Sibal) ने ट्रम्प के साथ पीएम मोदी की दोस्ती के दिखावे को लेकर प्रधानमंत्री पर तंज कसा.

कपिल सिब्बल ने डोनाल्ड ट्रम्प के इस बयान और उनकी भारत से संबंधित कुछ अन्य टिप्पणियों का हवाला देकर पीएम मोदी और सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि यह मित्रता का फल है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि भारत में कोविड-19 से मौतों के आंकड़ों पर सवाल उठाना, ट्रम्प के साथ दोस्ती का फल है. ट्रम्प ने कहा कि भारत खराब वायु भेजता है, वहां की हवा खराब है. भारत टैरिफ किंग है. ये सब 'हाउडी मोदी' का नतीजा है.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा (Anand Sharma) ने दावा किया कि इस वक्तव्य से ट्रम्प ने जलवायु परिवर्तन पर अपनी कम जानकारी भी उजागर की है. शर्मा ने ट्वीट किया, 'राष्ट्रपति ट्रंप ने 'नमस्ते इंडिया' का अपमान किया है और जलवायु परिवर्तन पर अपनी जानकारी की कमी उजागर की है.' कांग्रेस के विदेश मामलों के विभाग के प्रमुख ने कहा, 'ट्रम्प को इस तथ्य के बारे में बताया जाना चाहिए था कि अमेरिका ऐतिहासिक रूप से सबसे ज्यादा प्रदूषण पैदा करने वाला देश है और वहां ग्रीनहाउस गैस का प्रति व्यक्ति उत्सर्जन भी भारत से 6 गुना अधिक है.'

प्रेसिडेंशियल डिबेट में भारत-रूस पर बरसे डोनाल्ड ट्रम्प, कहा- 'देख लीजिए वहां हवा कितनी खराब!'

गौरतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति ने चीन, भारत और रूस पर 'दूषित वायु' से निपटने के लिए उचित कदम ना उठाने का आरोप लगाते हुए, पेरिस जलवायु समझौते से हटने के अमेरिका के कदम को सही ठहराया. बेलमॉन्ट विश्वविद्यालय में राष्ट्रपति पद के चुनाव की अंतिम आधिकारिक बहस (प्रेसिडेंशियल डिबेट) के दौरान ट्रंप ने कहा, 'चीन को देखिए, कितना गंदा है. रूस को देखिए, भारत को देखिए, वहां गंदगी है. हवा बहुत प्रदूषित है.' बता दें कि अमेरिका में तीन नवंबर को राष्ट्रपति चुनाव है. (इनपुट भाषा से भी)

Newsbeep

VIDEO: राहुल गांधी से बात करने के बाद कपिल सिब्बल ने डिलीट किया ट्वीट

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com